पाकिस्तान को ब्लैकलिस्ट करने की तैयारी में एफएटीएफ, चीन डाल सकता है अड़ंगा

इस्लामाबादः एफएटीएफ द्वारा पाकिस्तान को ब्लैकलिस्ट किए जाने पर चर्चा जोरो पर है। फ्रांस की राजधानी पेरिस में 12 अक्तूबर से 15 अक्तूबर तक होने वाली एफएटीएफ की बैठक में पाकिस्तान को ब्लैकलिस्ट किया जा सकता है।
एफएटीएफ की इकाई एशिया पैसिफिक ग्रुप की रिपोर्ट में पाकिस्तान आतंकी फंडिंग को रोकने में विफल साबित हुआ है। पाकिस्तान को पिछले साल जून में पेरिस में हुई एफएटीएफ की बैठक में ग्रे सूची में रखा गया था और चेतावनी दी गई थी कि अक्तूबर 2019 तक वह आतंकी फंडिंग रोकने की कार्रवाई को अंजाम दे। कहा यह भी जा रहा है कि पाकिस्तान को ईरान और उत्तर कोरिया के साथ ब्लैकलिस्ट किया जा सकता है।

चीन का सदाबहार दोस्त
इस बैठक में इस बात का निर्धारण हो जाएगा कि पाकिस्तान ग्रे लिस्ट में बना रहेगा या उसे ब्लैकलिस्ट किया जाएगा। हालांकि, चीन अपने सदाबहार दोस्त को ब्लैकलिस्ट होने से बचाने की पूरी कोशिश करेगा। शनिवार को एशिया पैसिफिक ग्रुप (एपीजी) द्वारा जारी एक रिपोर्ट के अनुसार, संभावना अधिक है कि पाकिस्तान को ‘ग्रे लिस्ट’ में बरकरार रखा जाएगा क्योंकि उसने एफएटीएफ द्वारा निर्धारित कुछ सिफारिशों का पालन किया है। पाकिस्तानी समाचारपत्र के अनुसार, आर्थिक मामलों के विभाग के प्रमुख हम्माद अजहर के नेतृत्व में पाकिस्तानी प्रतिनिधिमंडल 13 अक्टूबर को फ्रांस के लिए रवाना होने वाला है, क्योंकि एफएटीएफ 14 और 15 अक्तूबर को पाकिस्तान के मुद्दे पर विचार करेगा।

219 संदिग्‍ध लेनदेन
खबर के अनुसार, पाकिस्तानी प्रतिभूति और विनिमय आयोग द्वारा अंतिम रूप दी गई एक रिपोर्ट में कहा गया है कि आयोग द्वारा जारी व्यापक दिशानिर्देशों के आधार पर वित्तीय संस्थानों को एक वर्ष में 219 संदिग्ध लेनदेन की रिपोर्ट मिली है। जबकि पिछले आठ सालों में पाकिस्तान में कुल 13 ऐसे मामले दर्ज थे।

सहयोग बढ़ाने की जरूरत
संयुक्त राष्ट्र महासभा की छठी समिति की बैठक में ‘अंतराष्ट्रीय आतंकवाद को खत्म करने के उपाय’ विषय पर आयोजित बैठक में भारत के स्थायी मिशन में प्रथम सचिव येड़ला उमाशंकर ने आतंकियों और आतंकी समूहों को अन्य देशों द्वारा प्रत्यक्ष या परोक्ष वित्त पोषण की कड़ी निंदा की है और कहा है कि इससे ही वह आतंकी गतिविधियों को अंजाम दे पाते हैं। उमाशंकर ने कहा कि आतंक के वित्तपोषण को खत्म करने के लिए सहयोग बढ़ाने की जरूरत है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

सीरिया से सैनिक हटाने पर ट्रंप का जवाब, डेमोक्रेट्स सांसदों का व्हाइट हाउस से वॉकआउट

वाशिंगटन : राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने उत्तरी सीरिया से अमेरिकी सैनिकों को वापस बुलाने के फैसले का बचाव करते हुए कहा कि अमेरिका देश से आगे पढ़ें »

Nirmala Sitharaman

जलवायु परिवर्तन पर भारत की प्रतिबद्धता कई देशों से बेहतरीन- सीतारमण

वाशिंगटन : अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष (आईएमएफ) के मुख्यालय में वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा कि जलवायु परिवर्तन की वैश्विक चुनौती से लड़ने में भारत आगे पढ़ें »

ऊपर