नहीं चलेगी चीन की दादागीरी, भारत ने हिंद महासागर में उतारे 8 जंगी जहाज

नई दिल्लीः चीन का 11 युद्धक जहाज पूर्वी हिन्द महासागर में इस महीने प्रवेश किया है। इसकी जानकारी चीनी की एक वेबसाइट ने दी है। इस दौरान भारतीय नौसेना और चीनी नौसेना के बीच की दूरी काफी कम रह गई थी।
यह गतिविधि ऐसे समय सामने आई है जब मालदीव राजनीतिक संकट से जूझ रहा है और देश में इमरजेंसी लगी हुई है। सूत्रों के अनुसार भारत ने इसके जवाब में अपने 8 युद्धक जहाज हिन्द महासागर में भेजे हैं जो चीनी गतिविधियों पर नजर रख सकेंगे।
खबरों के अनुसार तबाह करने वाले चीनी जहाज सपोर्ट टैंकर्स के साथ हिन्द महासागर में प्रवेश किए। रिपोर्ट में कहा गया कि चीन के नौसेना पोतों में एक ऐसा पोत भी शामिल है जिस पर विमान, हेलिकॉप्टर उतर सकते हैं। हालांकि, चीनी वेबसाइट ने रिपोर्ट में इसकी वजहों का जिक्र नहीं किया और न ही मालदीव संकट के बारे में लिखा। हालांकि यह सामने नहीं आया है कि हिन्द महासागर में कब चीनी जहाजों ने प्रवेश किया या फिर कितने दिनों तक चीन की ये एक्टिविटी जारी रहेगी। मालदीव में अपना प्रभाव छोड़ने के लिए भारत और चीन के बीच होड़ रही है। कुछ दिन पहले मालदीव के पूर्व राष्ट्रपति मोहम्मद नशीद ने भारत से राष्ट्र में राजनीतिक संकट के समाधान की खातिर सैन्य दखल की अपील की थी। उधर, राष्ट्रपति अब्दुल्लाह यामीन जिन्हें चीन का करीबी माना जाता है, उन्होंने इस महीने की शुरुआत में राष्ट्र में आपातकाल लगा दिया था और विपक्ष के नेताओं तथा सुप्रीम कोर्ट के जज को गिरफ्तार करवा दिया था। तब से चीन मालदीव में विदेशी दखल का जोरदार विरोध कर रहा है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

किडनी की समस्या का आयुर्वेद में है इलाज, पढ़ें

नई दिल्ली : किडनी शरीर का महत्वपूर्ण अंग है और फिल्टर माना जाता हैं, यह हमारे शरीर में मौजूद टॉक्सिन को बाहर निकालने का काम आगे पढ़ें »

germany

जर्मनी के पूर्व राष्ट्रपति के बेटे की चाकू से की हत्या

बर्लिन : जर्मनी के पूर्व राष्ट्रपति रिचर्ड फोन के बेटे की चाकू घोंपकर हत्या कर दी गयी। बर्लिन शहर में एक अस्पताल में घुसकर हमलावर आगे पढ़ें »

ऊपर