तालिबान ने शिया समुदाय के 9 लोगों को ऐसे तड़पाकर मार डाला

बर्लिनः एमनेस्टी इंटरनेशनल ने कहा है कि तालिबान ने गजनी में अल्पसंख्यक हाजरा समुदाय के 9 लोगों की निर्मम हत्या कर दी। इनमें से 6 लोगों को गोलियों से भून दिया गया जबकि 3 लोगों को क्रूरता से तड़पा-तड़पाकर मारा गया। इस हत्याकांड को पिछले महीने अंजाम दिया गया। मानवाधिकारों के लिए काम करने वाली संस्था ने शुक्रवार को कहा कि इसके शोधकर्ताओं ने अफगानिस्तान के गजनी प्रांत में वारदात के प्रत्यक्षदर्शियों से बात की है। कट्टरपंथी विद्रोहियों ने मुंदाराखट गांव में 4 से 6 जुलाई के बीच इन हत्यों को अंजाम दिया। छह लोगों को गोली मारी गई जबकि अन्य को तब तक पीटा गया जब तक उनकी जान नहीं चली गई।

एमनेस्टी इंटरनेशनल के प्रमुख एगनेस कॉलामार्ड ने कहा कि हत्याओं में की गई क्रूरता तालिबान के पिछले करतूतों की याद दिलाने वाला था। यह उस खौफनाक घटनाओं का संकेत है, जो तालिबानी शासन में देखने को मिल सकता है।” संस्था ने कहा कि इस तरह की और भी कई हत्याएं हुईं होंगी, लेकिन ये सामने नहीं आईं, क्योंकि तालिबान ने कई इलाकों में टेलिफोन सेवाओं को बंद कर दिया है ताकि तस्वीरें बाहर ना आ सकें।

इसके अलावा, ग्रुप रिपोर्टर्स विदआउट बॉर्डर्स ने इस बात को लेकर चिंता जाहिर की है कि तालिबानी लड़ाकों ने अफगानिस्तान के पत्रकार के परिवार के सदस्य की हत्या कर दी है, जो जर्मन प्रसारक डच वेले के लिए काम करता है। ग्रुप के जर्मन सेक्शन के कातजा ग्लोजर ने कहा, ”दुख की बात यह है कि यह हमारे सबसे बड़े डर की पुष्टि करता है। तालिबान की यह क्रूरता दिखाती है कि अफगानिस्तान में स्वतंत्र मीडिया कर्मियों की जान बहुत खतरे में है।”

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

डेंगू से बचने के लिए हावड़ा में कबाड़ में पड़ी कार को हटायेगा निगम

लार्वा मिलने पर इमारत में लगाये जा रहे हैं 'डेंगू हॉटस्पॉट' के पाेस्टर साढ़े 12 लाख रुपये की लायी गयी गप्पी मछली सन्मार्ग संवाददाता हावड़ा : डेंगू को आगे पढ़ें »

ऊपर