जापान में पैदा हुआ सेब जितने वजन का यह बच्चा, बाहरी दुनिया में पैर रखने को तैयार

तोक्यो : जापान में पैदा हुआ सेब जितने वजन का बच्चा अब बाहरी दुनिया में कदम रखने को तैयार है। विश्व के सबसे कम वजन वाले इस बच्चे का जन्‍म अक्टूबर में हुआ था। तोशिको ने गर्भधारण के बाद उच्च रक्तचाप की परेशानी झेलते हुये 24 सप्ताह और पांच दिन के बाद रयुसुके सेकिये को जन्म दे दिया था।

268 ग्राम वजन के बच्चे का रिकार्ड तोड़ा

एक अक्टूबर 2018 को जब रयुसुके का जन्म हुआ तब उसकी लंबाई 22 सेंटीमीटर थी और डॉक्टरों ने उसे अति गहन चिकित्सा कक्ष में रखा था। जन्म के समय बच्चे का वजन मात्र 258 ग्राम था। उसने पिछले साल जन्मे जापान के एक अन्य लड़के का रिकॉर्ड भी तोड़ दिया जिसका वजन महज 268 ग्राम था। बच्चे को फरवरी में तोक्यो के एक अस्पताल से छुट्टी दे दी गई।

स्पर्श करेंगे तो वह टूट जाएगा

तोशिको ने पत्रकारों से कहा, ‘‘जब उसका जन्म हुआ तो वह बहुत छोटा-सा था और ऐसा लगता था कि अगर उसे स्पर्श करेंगे तो वह टूट जाएगा। मैं बहुत चिंतित थी।’’ उन्होंने कहा, ‘‘अब वह दूध पीता है। हम उसे नहलाते हैं। मैं खुश हूं कि मैं उसे बड़ा होते देख पा रही हूं।’’

अब तीन किलोग्राम का

तोशिको का बच्चा इतना छोटा था कि उसे दूध पिलाने के लिए टूब का सहारा लिया जाता था। बच्चे को कभी-कभी मां का दूध पिलाने के लिये अस्पताल के नर्सिंगकर्मी रुई का इस्तेमाल भी करते थे। करीब सात महीने बाद बच्चे का वजन 13 गुना बढ़ गया और अब वह तीन किलोग्राम का है। उसे इस सप्ताहांत मध्य जापान में नगानो चिल्ड्रेंस अस्पताल से छुट्टी दे दी गई थी।

बता दें कि जर्मनी में 2015 में सबसे कम वजन वाली 250 ग्राम की लड़की का जन्म हुआ था।

शेयर करें

मुख्य समाचार

सन्मार्ग एक्सक्लूसिव :आर्थिक पैकेज से हर वर्ग को राहत, न अन्न की कमी, न धन की : ठाकुर

 विशेष संवाददाता, कोलकाता : कोविड-19 संकट के आघात से देश और देश की अर्थव्यवस्था को उबारने के लिए केंद्र सरकार हरसंभव कोशिश कर रही है। आगे पढ़ें »

भारत के साथ सीमा विवाद को उचित ढंग से सुलझाने के लिए प्रतिबद्ध : चीन

बीजिंग : भारत और चीन के वरिष्ठ सैन्य अधिकारियों के बीच शनिवार को होने जा रही अहम वार्ता से पहले चीन ने शुक्रवार को कहा आगे पढ़ें »

फायदेमंद है संतुलित मात्रा में कार्बोहाइड्रेट का सेवन, अत्यधिक मात्रा पहुंचा सकता है नुकसान

भाजपा नेत्री सोनाली फोगाट ने मार्केट कमेटी के कर्मचारी को चप्पलों से पीटा

javdekar

भारत जलवायु प्रतिबद्धताओं पर खरे उतरने वाले देशों में शामिल है: प्रकाश जावडेकर

मरकज मामले में सीबीआई जांच की जरूरत नहीं: केंद्र

trump

प्रदर्शनकारियों पर हमले के मामले में ट्रंप पर मुकदमा

लॉकडाउन के दौरान इंस्टाग्राम से कमाई करने वाले खिलाड़ियों की सूची में कोहली एकमात्र क्रिकेटर

केंद्र और राज्यों को प्रवासियों को उनके घर पहुंचाने के लिए 15 दिन और : सुप्रीम कोर्ट

गर्मियों में तरबूज खाने के हैं कई फायदें और नुकसान, पढ़ें

क्या छूने से कोरोना वायरस संक्रमण फैल सकता है : कोर्ट

ऊपर