‘चीन में काम करने का माहौल बेहद खराब’

पेइचिंग : बाहरी दुनिया के लोग चीन पर अक्‍सर आरोप लगाते रहे हैं कि चीन में मानवधिकारों का उल्‍लंघन होता रहा है। पर अब हाल ही में चीन में विदेशी पत्रकारों के क्लब (एफसीसीसी) की ओर से जारी एक बयान में कहा गया है कि 109 पत्रकारों के बीच कराये गये सर्वे में चीन में पत्रकारिता की सबसे अंधकारमय तस्वीर को दर्शाता है। चीन में विदेशी पत्रकारों को हिरासत में लिए जाने, वीजा में देरी और संदेहास्पद फोन टैपिंग जैसी चुनौतियों का सामना करना पड़ रहा है। पत्रकारों का कहना है कि यहां काम करने का माहौल बेहद खराब होता जा रहा है और कई पत्रकार नजर रखे जाने और प्रताड़ित करने की शिकायत कर चुके हैं। एफसीसीसी की रिपोर्ट के मुताबिक इन पत्रकारों के लिए चिंता का सबसे बड़ा विषय निगरानी रखा जाना है। इनमें से करीब आधे पत्रकारों ने कहा कि 2018 में उनका पीछा किया गया, जबकि 91 प्रतिशत पत्रकारों ने अपने फोन की सुरक्षा को लेकर चिंता जताई। 14 विदेशी पत्रकारों ने कहा कि उन्हें शिनजियांग के दूरवर्ती इलाकों में सार्वजनिक स्थलों पर जाने से रोका गया। संयुक्त राष्ट्र द्वारा उल्लेखित विशेषज्ञों के एक समूह के मुताबिक उइगर समुदाय और अन्य मुस्लिम अल्पसंख्यक समूहों के लाखों लोगों को एक्स्ट्राजूडिशली हिरासत में रखा गया है। चीन ने इस मुद्दे को लेकर विदेशी मीडिया पर सनसनी फैलाने का आरोप लगाया है, लेकिन 2018 में शिनजियांग का दौरा करने वाले 23 पत्रकारों ने कहा कि उनके कामकाज में कई तरह से दखल दी गई, जिसमें तस्वीरें और डाटा मिटाने, साक्षात्कारों में बाधा पहुंचाने और यहां तक की हिरासत में लिएजाने की घटनाएं भी शामिल हैं। समाचार पत्र ‘ग्लोब ऐंड मेल’ के पत्रकार नाथन वैंडरक्लिप ने कहा, ‘करीब नौ कारों और 20 लोगों ने 1600 किलोमीटर तक मेरा पीछा किया।’

एसे अन्य लेख

Leave a Comment

अन्य समाचार

पसंद करें या ना, चीन में बने सामानों का इस्तेमाल करना ही होगा : चीनी मीडिया

नयी दिल्ली : पुलवामा अटैक के बाद भारत व पाकिस्‍तान के संबंधो में आई तनाव तथा पाकिस्‍तान के मित्र चीन द्वारा आतंकी मसूद अजहर के मसले पर अड़चन लगाये जाने के बाद भारत में चीन के प्रति बढ़ती नाराजगी तथा [Read more...]

दलाई लामा का बड़ा बयान, कहा – मेरी मृत्यु के बाद भारत से ही हो सकता है मेरा उत्तराधिकारी

धर्मशाला : नोबेल पुरस्‍कार से सम्‍मानित तथा निर्वासन में रह रहे तिब्बती र्धमगुरु दलाई लामा का कहना है कि उनका उत्तराधिकारी भारत से हो सकता है। तिब्बती र्धमगुरु ने सोमवार को कहा कि उन्होंने अपनी आयु के 60 साल भारत [Read more...]

मुख्य समाचार

मारुती सुजुकी ने घटाई उत्पादन, जानिए क्या है वजह…

नई दिल्ली : देश की बड़ी कार विनिर्माता कंपनी मारुति सुजुकी इंडिया (एमएसआई) ने मांग में कमी आने के कारण पिछले महीने फरवरी में अपना उत्पादन आठ प्रतिशत घटाया है. कंपनी ने शेयर बाजार में सुचना भेजी है, जिसमें कहा [Read more...]

चीन के खिलाफ देशभर में व्यापारियों का प्रदर्शन, जलाई चीनी सामान की होली

नई दिल्ली : हाल ही मैं चीन द्वारा संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद् में चौथी बार मसूद अजहर को ग्लोबल आतंकी घोषित करने पर वीटो का उपयोग करने और एक लंबे अर्से से पाकिस्तान की हर प्रकार की मदद करने पर [Read more...]

ऊपर