चीन में 30 साल बाद और गहराया ‘टैंक मैन’ का रहस्य

पेइचिंग: चीन के तियानमेन चौक नरसंहार को आज तीन दशक पूरे हो चुके हैं। लेकिन उस समय दुनिया भर में आजादी और असहमति का प्रतीक बन जाने वाले उस शख्स को लेकर रहस्य और गहराता जा रहा है। टैंकों के आगे निहत्थे खड़े होने वाले शख्स को आज तस्वीरों, टेलिविजन शो, पोस्टर्स और टीशर्ट समेत तमाम जगहों पर देखा जा सकता है। लेकिन, आज वह शख्स पहले से भी बड़ा रहस्य बन चुका है।

प्रदर्शनकारियों का कत्लेेआम

आज के साइबर सूचना के दौर में दुनिया के किसी भी कोने की सूचना मिल जाती है, कुछ छिपता नहीं। पर तीन दशकों बाद भी टैंक मैन के बारे में सिर्फ कयास लगाए जाते हैं। आज भी वह कहानियों का ही हिस्सा है, लेकिन हकीकत किसी को नहीं मालूम। उस वक्त चीन में चल रहे सरकारी तांडव का विरोध प्रदर्शन करने वाले छात्रों को बुरी तरह कुचल दिया था और टैंकों से गोले बरसाकर उन्हें मौत की नींद सुला दिया था। रिपोर्ट के अनुसार 5 जून, 1989 को टैंक मैन की तस्वीर एक होटल की बालकनी से विदेशी मीडिया संस्थानों के कुछ पत्रकारों ने खींची थीं, जब टैंक उसकी ओर बढ़ रहे थे। सफेद शर्ट पहने वह शख्स हाथों में बैग के लिए टैंकों के सामने निडर होकर खड़ा था। 20वीं सदी की सबसे चर्चित तस्वीरों में से एक है टैंक मैन की तस्वीर। पश्चिमी देशों के तमाम लोग कहते हैं कि टैंक मैन वेस्टर्न वर्ल्ड के मूल्यों और आकांक्षाओं का प्रतिनिधि है।

टैंक मैन की स्मृतियों को खत्म करने का प्रयास

चीन के प्रॉपेगेंडा मैनेजर्स का कहना है कि यह तस्वीर बताती है कि हमारे देश ने किस तरह से विरोध से शांतिपूर्ण तरीके से निपटने का काम किया। उनके मुताबिक सेना ने टैंक मैन का कत्ल न करके यह दिखाया है कि कैसे वह विरोध के स्वर को भी सुनती है। हालांकि बीते कुछ सालों में चीन सरकार ने टैंक मैन की स्मृतियों को खत्म करने का प्रयास किया है। चीन सरकार ने टैंक मैन की ऑनलाइन जारी हुई तस्वीरों को सेंसर करने के साथ ही उसकी तस्वीरों को आगे बढ़ाने वाले लोगों को सजा तक दी है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

अमेरिका का बजट घाटा एक हजार अरब डॉलर के पार !

बजट कार्यालय ने व्यक्त किया अनुमान वाशिंगटनः अगले वित्त वर्ष में अमेरिका का बजट घाटा एक हजार अरब डॉलर के पार जाने की आशंका है। यह आगे पढ़ें »

new zealand speaker

न्यूजीलैंड : संसद में रो रहे बच्चे को स्पीकर ने पियाला दूध, लोगों ने की सराहना

वेलिंगटन : न्यूजीलैंड के संसद भवन में स्पीकर ट्रेवर मलार्ड ने एक सांसद के बेटे को दूध पिलाया। मालूम हो कि संसद भवन में आमतौर आगे पढ़ें »

ऊपर