चीन ने कहा दलाई लामा के उत्तराधिकारी को उसकी मंजूरी लेनी होगी

बीजिंग : चीन ने भारत में निर्वासित जीवन व्यतीत कर रहे 83 वर्षीय दलाई लामा के उत्तराधिकारी के बारे में बुधवार को जोर देकर कहा है ‌कि उनके किसी भी उत्तराधिकारी को उसकी मंजूरी लेनी होगी। छाती के संक्रमण से जूझ रहे तिब्बती बौद्ध धर्मगुरु भारत के एक अस्पताल में भर्ती हैं। नयी दिल्ली स्थित अस्पताल के मुताबिक फिलहाल उनकी हालत स्थिर है।

पुनर्जन्म प्रणाली के जरिये चुने गये उत्तराधिकारी को मंजूरी

चीनी विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता लू कांग ने एक संवाददाता सम्मेलन में दलाई लामा के उत्तराधिकारी नियुक्त करने की योजना के बारे में पूछे जाने पर कहा कि चीन की केन्द्रीय सरकार पुनर्जन्म प्रणाली के जरिये चुने गये उनके उत्तराधिकारी को मंजूरी देगी। उन्होंने कहा, ‘‘मुझे 14 वें (वर्तमान) दलाई लामा की शारीरिक स्थिति के बारे में जानकारी नहीं है।’’जहां तक पुनर्जन्म मुद्दे का संबंध है, यह स्पष्ट है कि पुनर्जन्म तिब्बती बौद्ध धर्म की एक विशेष विरासत प्रणाली है। यह तय परंपरा है।

दलाई लामा को हमारे राष्ट्रीय कानूनों, नियमों का पालन करना चाहिये

लू ने कहा, ‘‘हमारे पास इस विरासत का सम्मान और सुरक्षा करने के लिए प्रासंगिक नियम हैं। 14 वें दलाई लामा को खुद तय धार्मिक परंपरा के मुताबिक मान्यता मिली और इसे तत्कालीन सरकार से मंजूरी मिली थी।’’ उन्होंने कहा, ‘‘ऐसे में दलाई लामा को हमारे राष्ट्रीय कानूनों, नियमों और धार्मिक परंपराओं सहित पुनर्जन्म का पालन करना चाहिए।’’

बता दें कि धर्मशाला में तिब्बती बौद्ध धर्मगुरु ने अगले दलाई लामा के बारे में पूछे जाने पर कहा था कि उन्होंने अपने जीवन के 60 साल भारत में गुजारे हैं और यहीं से उनका उत्तराधिकारी हो सकता है। उन्होंने कहा था कि चीन द्वारा घोषित किये गये किसी भी उत्तराधिकारी को सम्मान नहीं मिलेगा।

शेयर करें

मुख्य समाचार

यूनियन बैंक ऑफ इंडिया ने पहले ही दिन 14000+ इमरजेंसी क्रेडिट मंज़ूर किए

नई दिल्ली : नए कोरोनावायरस प्रकोप ने देश की व्यापारिक संस्थाओं और अर्थव्यवस्था पर बहुत बुरा असर डाला है। भारत सरकार ने अपने आत्मनिर्भर अभियान आगे पढ़ें »

जम्मू कश्मीर के पुलवामा में मुठभेड़ में तीन आतंकवादी मारे गए

श्रीनगर : जम्मू कश्मीर के पुलवामा जिले में बुधवार को सुरक्षा बलों के साथ मुठभेड़ में तीन आतंकवादी मारे गए। पुलिस ने बुधवार को इसकी आगे पढ़ें »

ऊपर