चीन के लिए जासूसी करने के जुर्म में सीआईए के पूर्व अधिकारी को 20 साल की कैद

वाशिंगटनः अमेरिका में शुक्रवार को ‘सेंट्रल इंटेलिजेंस एजेंसी’ (सीआईए) के एक पूर्व अधिकारी केविन मैलोरी को चीन के लिए जासूसी करने के जुर्म में 20 साल कैद की सजा सुनाई गई। मैलोरी को अमेरिकी रक्षा से संबंधित गुप्त सूचना को चीन के खुफिया एजेंट को 25,000 डॉलर में बेचने के आरोप में जासूसी अधिनियम के तहत दोषी ठहराया गया है।

चीनी अधिकारी को सूचना देने की साजिश

सहायक अटॉर्नी जनरल जॉन डेमर्स ने कहा कि अमेरिकी खुफिया एजेंसी के पूर्व अधिकारी मैलोरी को चीनी खुफिया अधिकारी को राष्ट्रीय रक्षा सूचना देने की साजिश रचने के लिए अपनी जिंदगी के 20 साल जेल में बिताने होंगे। उन्होंने कहा कि चीन अमेरिका के पूर्व खुफिया अधिकारियों को निशाना बनाता है और ये अधिकारी अपने देश और सहयोगियों से धोखा कर रहे हैं। यह देश के लिए एक बड़ा खतरा है। डेमर्स ने कहा कि इस मामले में सजा होने से और हाल में यूटा में रोन हनसेन और वर्जीनिया में जेरी ली के अपराध स्वीकार करने से हमारे पूर्व खुफिया अधिकारियों को एक कड़ा संदेश गया है।

संघीय जूरी ने ठहराया था दोषी

पूर्व सीआईए अधिकारी 62 वर्षीय केविन मैलोरी को जून 2018 में संघीय जूरी द्वारा दोषी ठहराया गया था। इस मामले में मार्च और अप्रैल में सबूतों को अदालत में रखा गया था। साक्ष्‍यों के मुताबिक, केविन मैलोरी ने माइकल यांग नाम के शख्‍स से मिलने के लिए शंघाई की यात्रा की थी जो‍ पीपुल्स रिपब्लिक ऑफ चाइना के थिंक टैंक का कर्मचारी था। जांच के बाद पाया कि मैलोरी ने अमेरिका की बेहद गोपनीय जानकारियों को माइकल यांग से साझा की थी। जांच में यह भी पाया गया कि अमेरिका की पांच गोपनीय जानकारियां साझा की गई।

शेयर करें

मुख्य समाचार

बेकाबू होता जा रहा है डेंगू, और 2 की मौत

अब तक 19 मरे, साढ़े 11 हजार लोग पीड़ित सन्मार्ग संवादाता कोलकाता : डेंगू का कहर दिन ब दिन बेकाबू होता जा रहा है। रविवार को डेंगू आगे पढ़ें »

mamata banerjee

आज केन्द्र सरकार के प्रतिष्ठानों के कर्मियों को सम्बोधित करेंगी ममता

सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : मुख्यमंत्री ममता बनर्जी आज सोमवार को नेताजी इंडोर स्टेडियम में केंद्र सरकार के प्रतिष्ठानों के कर्मचारियों के प्रतिनिधियों को सम्बोधित करेंगी। इन आगे पढ़ें »

ऊपर