कनाडा में अपने वाणिज्य दूतावास बंद करेगा वेनेजुएला : अर्रेजा

ब्यूनस आयर्स : वेनेजुएला में राष्ट्रपति पद को लेकर चल रही खींचतान के बीच वहां के विदेश मंत्री जॉर्ज अर्रेजा ने रविवार को कहा कि देश कनाडा स्थित अपने वाणिज्य दूतावासों में सेवाएं देना बंद कर देगा।
दूतावास सेवाएं बंद कर देगा
अर्रेजा ने अपने टि्वटर अकाउन्ट पर लिखा कि ‘‘वेनेजुएला वैंकूवर, टोरंटो और मॉन्ट्रियल में वाणिज्य दूतावास सेवाएं बंद कर देगा। सभी राजनयिक कामकाज आटोवा में वेनेजुएला दूतावास में केंद्रित की जायेंगी। हम आशा करते हैं कि कनाडा जल्द ही विदेश नीति में अपनी संप्रभुता बहाल करेगा।’’
सहायता प्रदान करना जारी रखेगा
मालूम हो कि सप्ताह के शुरूआत में कनाडा के विदेश मंत्री क्रिस्टिया फ्रीलैंड ने भी कहा था कि कनाडा ने वेनेजुएला में देश के दूतावास में अस्थायी रूप से संचालन को रोकने करने का फैसला किया। हालांकि उन्होंने कहा कि कनाडा कोलंबिया में स्थित दूतावास के माध्यम से कनाडा के वेनेजुएला में वाणिज्य दूतावास सहायता प्रदान करना जारी रखेगा।
तख्तापलट करने की कोशिश
वेनेजुएला में विपक्षी नेता जुआन गुआइदो द्वारा स्वयं को अंतरिम राष्ट्रपति घोषित किये जाने के बाद से स्थिति तनावपूर्ण बनी हुई है। कनाडा,वाशिंगटन और कुछ अन्य देशों ने गुआइदो का समर्थन करते हुए राष्ट्रपति निकोलस मादुरो को सत्ता से हटाने का आह्वान किया है। वहीं मादुरो ने अमेरिका पर अरोप लगाया है कि उसकी नजर वेनेजुएला की अरबों डॉलर की तेल संपत्तियों और प्राकृतिक संसाधनों पर है। मादुरो का कहना है कि अमेरिका गुआइदो को कठपुतली बनाकर तख्तापलट करने की कोशिश कर रहा है।
इन देशों ने मादुरो को दिया समर्थन
वेनेजुएला में चल रहे सत्ता संघर्ष के बीच रूस, चीन क्यूबा, बोलिविया, तुर्की और कई अन्य देशों ने मादुरो को वेनेजुएला के एकमात्र राष्ट्रपित के रूप में अपना समर्थन दिया। वहीं वेनेजुएला में हजारों लोग मौजूदा राष्ट्रपति निकोलस मादुरो के खिलाफ विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं। इन विरोध प्रदर्शनों का नेतृत्व गुआइदो कर रहे हैं।

बता दें कि इसी वर्ष जनवरी की शुरुआत में निकोलस मादुरो राष्ट्रपति के तौर पर अपने दूसरे कार्यकाल की शपथ ली थी। उनके ऊपर चुनावों में गड़बड़ी करने के आरोप भी लगे थे।

गौरतलब है कि मादुरो के नेतृत्व में कई वर्षों से वेनेजुएला गंभीर आर्थिक संकट का सामना कर रहा है। वहां बढ़ती खाने-पीने और दवाईयों की बढ़मी कीमतों और कमी के कारण लाखों लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

सन्मार्ग एक्सक्लूसिव :आर्थिक पैकेज से हर वर्ग को राहत, न अन्न की कमी, न धन की : ठाकुर

 विशेष संवाददाता, कोलकाता : कोविड-19 संकट के आघात से देश और देश की अर्थव्यवस्था को उबारने के लिए केंद्र सरकार हरसंभव कोशिश कर रही है। आगे पढ़ें »

जार्ज फ्लायड की मौत पर आईसीसी ने कहा, विविधता के बिना क्रिकेट कुछ नहीं

दुबई : अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) ने शुक्रवार को कहा कि ‘क्रिकेट विविधता के बिना कुछ भी नहीं है।’ उसने यह बयान अफ्रीकी मूल के आगे पढ़ें »

टेस्ट मैच में लागू होगा कोरोना सब्स्टीट्यूट, जल्द मिलेगी आईसीसी की मंजूरी

विश्व पर्यावरण दिवस विशेष : तीन दशक से पर्यावरण-जंगल की रक्षा कर रहे रामगढ़ के वीरू महतो

स्थिति ठीक होने पर ही टूर्नामेंट्स हो, आज यूएस ओपन होता है तो मैं नहीं खेलूंगा : नडाल

ट्रेडिंग के आखिरी के घंटों में गंवाया लाभ, निफ्टी 0.32% और सेंसेक्स 128.84 अंक नीचे हुआ बंद

आईडब्ल्यूएफ से मुआवजे की मांग करेंगी भारोत्तोलक संजीता चानू

दर्शकों के बिना कैसे होगा विश्व कप, उचित समय का इंतजार करे आईसीसी : अकरम

बंगाल में तूफान से भी तेज हुई कोरोना मामलों की गति, अब तक के सबसे अधिक आए मामले

पश्चिम बंगाल में बेरोजगारी की दर देश की तुलना में कम: सीएमआईई आंकड़े

एसबीआई ने 2019-20 की चौथी तिमाही में 3,581 करोड़ रुपये का शुद्ध लाभ दर्ज किया

ऊपर