इस देश में 10 लाख % तक पहुंचने वाली है महंगाई दर, वस्तुओं के कई गुना बढ़े दाम

नई दिल्लीः दक्षिण अमेरिकी देश वेनेजुएला की हालत इन दिनों महंगाई के चलते बद से बदत्तर हो चुकी है। यहां हर एक वस्तुओं के दाम आसमान छू रही है। अब इस बीच अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष (आईएमएफ) ने आशंका जताई है कि इस वर्ष के आखिर तक महंगाई दर 10 लाख प्रतिशत तक पहुंच जाएगा। इसके लिए आशंका जताई जा रही है कि वेनेजुएला की सरकार धड़ाधड़ नोट छाप रही है ताकि बजट को पूरा किया जा सके। वेनेजुएला में एक यूनिवर्सिटी प्रफेसर को अपना पुराना जूता मरम्मत करवाने के लिए चार महीने की करीब 4 लाख रुपये देने पड़े।
अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष में पश्चिमी गोलार्ध विभाग के अध्यक्ष अलेजांड्रो वर्नर ने वेनेजुएला की इस आसमान छूती मंहगाई की तुलना 1923 में जर्मनी या 2000 के दशक के आखिर में जिंबाब्वे की महंगाई से की है। उन्होंने 2018 में वेनेजुएला की अर्थव्यवस्था 18% घटने का अनुमान जताया। तेल उत्पादन में जारी गिरावट की वजह से लगातार तीसरे वर्ष वहां की आर्थिक दोहरे अंकों में घटनेवाली है।
साल 1923 में कर्ज के भारी बोझ तले दबा जमर्नी जब प्रथम विश्वयुद्ध (1914-18) की आपदा से मुक्ति पाने के लिए छटपटा रहा था, तभी वहां के बैंक नोट (मार्क) की लगभग कोई कीमत ही नहीं रही। देखते ही देखते एक ब्रेड की कीमत अरबों मार्क की हो गई।  हालात इतने बिगड़ गए कि जनवरी 1923 में जो ब्रेड बन 250 मार्क्स में मिलता था, वह नवंबर आते-आते 2 खरब मार्क्स का हो गया। इसका दुष्परिणाम यह हुआ कि जर्मनी में जन्मदर घट गई और मृत्यदर में इजाफा हो गया।

पलायन को मजबूर हो रहे लोग
एक तरफ सैकड़ों-हजारों नागरिक भूख और बढ़ती कीमतों से तबाह होकर देश छोड़ रहे हैं तो दूसरी तरफ राष्ट्रपति निकोलस मदुरो का कहना है कि देश और विदेशों में उनके राजनीतिक विरोधियों द्वारा छेड़े गए ‘आर्थिक युद्ध’ की वजह से यह संकट खड़ा हुआ है।

ये है हालत
वेनेजुएला के कुल निर्यात में 96% हिस्सेदारी अकेले तेल की है। तेल की गिरती कीमतों की वजह से वहां की आर्थिक स्थिति लगातार बिगड़ती जा रही है। चार साल पहले तेल की कीमत पिछले 30 साल के सबसे निचले स्तर पर आ गई थी। मई 2018 में 13 लाख के न्यूनतम मासिक वेतन से सिर्फ दो लीटर दूध, चार केन ट्यूना और एक ब्रेड मिल रहा था। अभी एक 59 लाख बोलिवर की सैलरी ले रहे प्रफेसर के हाथ में सिर्फ 1.70 डॉलर ही आ रहा है।

Leave a Comment

अन्य समाचार

आईओसी ने लिया केवल 2 ओलंपिक कोटा हटाने का फैसला

नई दिल्लीः अंतरराष्ट्रीय ओलंपिक समिति (आईओसी) ने पुलवामा आतंकी हमले के बाद पाकिस्तानी निशानेबाजों को वीजा नहीं दिए जाने के बाद यहां निशानेबाजी विश्व कप के सभी 16 ओलंपिक कोटे के बजाय महज दो कोटे को हटाने का फैसला किया [Read more...]

टेरर फंडिंग : एफएटीएफ बंद कर सकता है पाक का ‘हुक्‍का पानी’

पेरिस : पुलवामा हमले की विश्‍व भर के देशों ने कड़ी निंदा की है। न्‍यूजीलैंड की संसद ने इस आतंकी हमले के खिलाफ प्रस्‍ताव पारित किया, वही अमेरिका राष्‍ट्रपति ट्रंप ने इस भयावह बताया। पाक स्‍थित आतंकी संगठन जैश व [Read more...]

मुख्य समाचार

राज्य में अशांति पैदा करने को अफवाहें फैला रहा है संघ परिवार : ममता

तारकेश्वर : तारकेश्वर में जनता के बीच पहुंची मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने उन्हें आगाह करते हुए अपील की कि वे किसी भी अफवाह पर ध्यान न दें। सीएम ने संघ परिवार पर निशाना साधते हुए कहा कि आरएसएस बंगाल में [Read more...]

पुरुलिया में भयावह अग्निकांड में 4 बच्चों समेत 7 लोग जिंदा जले

पुरुलिया : गुरुवार की रात महादेवपुर ग्राम स्थित एक झोपड़ी में अचानक आग लगने की घटना में 4 बच्चों सहित 7 लोगों की मौत हो गयी। घटना की सूचना मिलते ही पुरुलिया के एसपी आकाश मेघारिया समेत भारी संख्या में [Read more...]

ऊपर