इमरान खान ने कहा- मैं नोबल शांति पुरस्कार का हकदार नहीं, अलापा कश्मीर राग

इस्लामाबादः पाकिस्तान ने फिर से कश्मीर का राग अलापा है। पाकिस्तान के प्रधानमंत्री ने कहा है कि वह नोबल शांति पुरस्कार के हकदार नहीं है जबकि कश्मीर मुद्दे का समाधान निकालने वाले व्यक्ति को यह पुरस्कार मिलना चाहिए। उन्होंने कहा क‌ि इस कदम से उपमहाद्वीप में शांति और मानवीय विकास का मार्ग प्रशस्त हो सकेगा।
पाक मीडिया में कहा गया है कि भारतीय पायलट अभिनंदन वर्तमान को रिहा करने के बाद पाक के लोगों ने सोशल मीडिया पर अभियान चलाया है। अभी तक तीन लाख से ज्यादा लोगों ने इमरान को नोबल दिए जाने के समर्थन में हस्ताक्षर किए हैं। इससे पहले गुरुवार को संसद के संयुक्त सत्र में इमरान ने कहा था कि अभिनंदन की रिहाई शांति की तरफ उनका एक कदम है।
पाकिस्तान के सूचना मंत्री फवाद चौधरी ने इमरान को नोबेल पुरस्कार देने का प्रस्ताव संसद के सचिवालय में पेश किया। इसमें कहा गया है कि भारत के आक्रामक रुख के चलते दो परमाणु ताकत संपन्न राष्ट्रों के बीच जंग की स्थित बन गई थी। लेकिन इमरान ने शांति बहाली के लिए बेहतरीन काम किया। प्रस्ताव में कहा गया है कि शांति के लिए किए गए इमरान के प्रयासों की सराहना की जानी चाहिए। इसके लिए सबसे उपयुक्त रहेगा कि उन्हें नोबेल शांति पुरस्कार से नवाजा जाए।
विपक्ष ने कहा- अभी भी जंग के हालात
पाकिस्तान पीपल्स पार्टी (पीपीपी) के वरिष्ठ नेता सैय्यद खुर्शीद शाह ने दुख जताया है कि उपमहाद्वीप में अभी भी जंग के हालात बने हुए हैं और सत्तारूढ़ पार्टी के नेता इमरान को नोबल पुरस्कार देने का अभियान चला रहे हैं। उन्होंने अभिनंदन को रिहा करने की टाइमिंग पर भी सवाल उठाए हैं। शाह ने कहा कि इस मुश्किल समय में विपक्ष ने सरकार को पूरा सहयोग दिया, लेकिन इमरान विपक्षी सांसदों से मिले भी नहीं

शेयर करें

मुख्य समाचार

5 फरवरी से भाजपा की रथ यात्रा, नड्डा करेंगे शुरुआत

फरवरी में शाह व नड्डा बंगाल में सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : आगामी 5 फरवरी से भाजपा पश्चिम बंगाल में अपनी रथ यात्रा की शुरुआत करने जा रही आगे पढ़ें »

धुपगुड़ी हादसा : केंद्र 2 तो राज्य देगा 2.5 लाख रुपये आर्थिक सहायता

राज्य सरकार की ओर से दी दिये जाएंगे 2.5 लाख रुपये सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : जलपाईगुड़ी के धुपगुड़ी में हुए दर्दनाक हादसे में 14 लोगों की मौत आगे पढ़ें »

ऊपर