अमेरिका में फाइजर टीके को आपात मंजूरी देने पर हो रहा विचार

वाशिंगटन : हर सत्तारूढ़ सरकार अपने देश में कोरोना के प्रकोप को कम करने में जुटी है। ऐसे में अमेरिकी सरकार की एक सलाहकार समिति ने कोरोना वायरस संक्रमण से बचाव के लिए फाइजर-बायोएनटेक के टीके को आपात मंजूरी देने की अनुशंसा की है।

अमेरिका के खाद्य एवं दवा प्रशासन (एफडीए) की वैक्सीन एडं रिलेटेड बायोलॉजिकल प्रॉडेक्ट्स एडवायजरी कमेटी (वीआरबीपीएसी) में बृहस्पतिवार को आठ घंटे चली बैठक में मंथन के बाद फाइजर और जर्मनी की उसकी सहयोगी बायोएनटेक द्वारा विकसित टीके के इस्तेमाल को मंजूरी देने के संबंध में मतदान हुआ। इसमें फाइजर और बायोएनटेक के टीके के पक्ष में 17 और विपक्ष में चार मत पड़े और एक सदस्य गैरहाजिर था।

टीके से फायदा अधिक, नुकसान कम : समिति के सदस्य पॉल ऑफिट ने कहा, ‘टीके से स्पष्ट फायदा नजर आ रहा है लेकिन दूसरी ओर इसके अनुमानित खतरे हैं।’’ पॉल फिलाडेल्फिया में बच्चों के अस्पताल में टीका विशेषज्ञ हैं। उन्होंने कहा कि टीका की लाभ पहुंचाने की क्षमता उसके खतरों को कम करती है। बता दें कि फाइजर के टीके को ब्रिटेन और कनाडा जैसे देश पहले ही मंजूरी दे चुके हैं।

बाइडन ने क्या कहा : नवनिर्वाचित राष्ट्रपति जो बाइडन ने एक बयान में कहा, ‘फाइजर-बायोएनटेक कोविड-19 टीके को आज मिली मंजूरी मुश्किल वक्त में उम्मीद की एक किरण हैं। हम इस टीके को बनाने वाले वैज्ञानिकों और शोधकर्ताओं के आभारी हैं। हम उन वैज्ञानिकों और जन स्वास्थ्य विशेषज्ञों के भी आभारी हैं जिन्होंने राजनीतिक प्रभाव में आए बिना इस टीके की क्षमता और सुरक्षा का मूल्यांकन किया।’

शेयर करें

मुख्य समाचार

सोशल मीडिया के जरिये आज राजीव करेंगे ‘मन की बात’

सोशल मीडिया पर राजीव के समर्थक दे रहे हैं सुझाव, सोच-समझ कर निर्णय करें हावड़ा : राज्य के मंत्री राजीव बनर्जी आज फेसबुक लाइव होनेवाले हैं। आगे पढ़ें »

चुनाव में 60 से 80 सीटों पर लड़ सकती है सिद्दकी की नयी पार्टी

फुरफरा शरीफ के पीरजादा बनाएंगे मुस्लिम, दलितों और आदिवासियों की पार्टी 21 को होगा नाम का ऐलान सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : राज्य में अप्रैल-मई में विधानसभा चुनाव होने आगे पढ़ें »

ऊपर