अब स्पर्म डोनर ही होगा बच्चे का कानूनी पिता, भविष्य तय करने का भी अधिकार

सिडनीः ऑस्ट्रेलिया की अदालत ने एक बेहद अनोखा फैैसला सुनाया है। बुधवार को हाईकोर्ट ने फैसला दिया है कि अब ऑस्ट्रेलिया में स्पर्म डोनेट करने वाला व्यक्ति ही कानूनी तौर पर बच्चे का पिता होगा। केवल इतना ही नहीं उस व्य‌क्‍ति के पास वो सारे अधिकार भी होंगे जिनसे वो बच्‍चे का भविष्य तय कर सके। इससे पहले वहां कि निचली अदालत ने इस मामले में हाईकोर्ट के पलट फैसला सुनाया था।

क्या है मामला?

दरअसल, वर्ष 2006 में रॉबर्ट (बदला हुआ नाम) ने अपनी एक समलैंगिक दोस्त को स्पर्म डोनेट किया था। जिससे उसके घर एक बच्ची का जन्म हुआ। रॉबर्ट का भी बच्ची के संग संबंध बना रहा। वो बच्ची का पूरा ख्याल रखता था, खर्च भी उठाता था, स्कूल छोड़ने जाता था। दोनों के बीच एक आत्मीय संबंध स्‍थापित हो गया था। बच्‍ची भी उसको ‘डैडी’ कहने लगी थी। विवाद तब गहराया जब बच्ची की मां ने अपनी समलैंगिक पार्टनर के साथ न्यूजीलैंड शिफ्ट होने का फैसला लिया। जिसक बाद रॉबर्ट ने मां के इस फैैसले के विरुद्ध अदालत का दरवाजा खटखटाया पर निचली अदालत से उसे निराशा हाथ लगी। बच्ची को अपने से दूर होने से रोकने के लिए रॉबर्ट ने हाईकोर्ट जाने का फैसला किया। जिसके बाद हाईकोर्ट ने निचली अदालत के फैसले को सरासर गलत बताते हुए रॉबर्ट के पक्ष में फैसला दिया कि बच्ची और उसकी मां को ऑस्ट्रेलिया में ही रहना होगा, जिससे राॅबर्ट बिना किसी परेशानी के बच्ची से मिल सके।

बच्ची के बर्थ सर्टिफिकेट पर रॉबर्ट का नाम

विवाद की समीक्षा करते हुए हाईकोर्ट की जज मारग्रेट क्लेरी ने कहा कि बच्ची के बर्थ सर्टिफिकेट पर रॉबर्ट का नाम है और उन दोनों का आपस में पिता-पुत्री जैसा गहरा रिश्ता भी बन गया है। भले ही राबर्ट बच्ची से अलग रहता है पर उसका पूरा ख्‍याल रखता है, खर्च उठाता है। इसलिए उसे ही बच्ची का असली पिता माना जाएगा साथ ही उसके पास बच्ची का भविष्य तय करने को लेकर भी सभी अधिकार होंगे।

शेयर करें

मुख्य समाचार

कोलकाता में लॉजिस्टिक के लिए विश्व बैंक तैयार कर रहा मास्टर प्लान : अमित मित्र

परियोजना की​ लागत करीब 300 मिलियन डॉलर कोलकाता : कोलकाता मेट्रोपॉलिटन एरिया में जल्द ही लॉजिस्टिक के क्षेत्र में बड़ी संभावनाएं सामने आने वाली हैं। इसकी आगे पढ़ें »

अफवाहों पर ध्यान ना दें, हम सब एक हैं – विजयवर्गीय

कोलकाता : भाजपा के सांगठनिक चुनाव काे लेकर शनिवार को माहेश्वरी भवन में भाजपा की अहम बैठक की गयी। इस बैठक में भाजपा के राष्ट्रीय आगे पढ़ें »

ऊपर