मसूद अजहर ने कहा, कश्मीर की आजादी की लड़ाई और तेज होगी

इस्लामाबाद : पुलवामा अटैक के बाद भारतीय वायु सेना द्वारा पाकिस्‍तान के बालाकोट स्‍थित अातंकी शिविरों में मचायी तबाही जिसमें कि सैंकड़ों आतंकी हताहत हुए थे तथा जिसकी वजह से पाकिस्‍तान को विश्‍व समुदाय में काफी फजीहत उठानी पड़ी थी, जैश-ए-मोहम्मद के साप्ताहिक अखबार अल-कलाम में मसूद अजहर ने यह दावा किया कि भारतीय एयर स्ट्राइक में जैश के आतंकियों को किसी तरह का कोई नुकसान नहीं पहुंचा तथा जैश प्रमुख को लेकर फैलाई जा रही खबरें अफवाह और भ्रामक हैं। ऐसा कुछ नहीं हुआ। हालांकि, इस लेख में यह स्पष्ट नहीं कि मसूद अजहर ने ही ये तमाम बातें लिखी। मगर यह तय है कि अल-कालम जैश का मुखपत्र माना जाता है। यह सादी, अजहर के कॉलम के रूप में चर्चित है। अजहर ने बताया कि, मैं और मेरे सहयोगी सुरक्षित। आदिल अहमद डार के द्वारा कश्मीर घाटी में शुरू की गई लड़ाई कभी खत्म नहीं होगी। जम्मू-कश्मीर की आजादी की लड़ाई और तेज होगी।” उसने लिखा, ”इस क्षेत्र की स्थिति गंभीर है। लोगों को अफगानिस्तान में जो हो रहा है, उस पर ध्यान देने की जरूरत है।”अजहर ने बताया, ”मैं पूरी तरह से स्वस्थ हूं। मेरी किडनी और लीवर दोनों ठीक हैं। पिछले 17 सालों से मैं कभी अस्पताल नहीं गया। कई सालों से डॉक्टरों से बात तक नहीं की है।”जैश सरगना ने बताया, ”किसी को भी चिंता करने की जरूरत नहीं है। मैं बिल्कुल फिट हूं। मैं नरेंद्र मोदी जैसा नहीं हूं। मैं उन्हें चुनौती देता हूं कि मुझसे तीरंदाजी या शूटिंग में मुकाबला कर लें, ताकि पता लग जाए कि मैं कितना फिट हूं।”पुलवामा हमले के बाद भारतीय वायुसेना ने 26 फरवरी को पाकिस्तान स्थित जैश के आतंकी ठिकानों पर एयरस्ट्राइक की थी।

शेयर करें

मुख्य समाचार

अपराध

कटारिया स्टेशन के पास ट्रेन से कटकर युवक की मौत

भागलपुर : बिहार में पूर्व-मध्य रेलवे के बरौनी-कटिहार रेलखंड के कटारिया स्टेशन के निकट मंगलवार को ट्रेन से कटकर एक युवक की मौत हो गयी। नवगछिया आगे पढ़ें »

विद्यापति की शृंगारिक रचनाओं के नायक-नायिका समाज को पढ़ाते हैं मर्यादा का पाठ

दरभंगा : मैथिली के प्रसिद्ध विद्वान एवं लेखक डॉ. शांतिनाथ सिंह ठाकुर ने मैथिली भाषा के विकास में महाकवि विद्यापति की शृंगारिक रचनाओं के जबरदस्त आगे पढ़ें »

ऊपर