एक महिला को दिल की सर्जरी के लिए एम्स ने दिया छह साल बाद की तारीख

नई दिल्ली: एक महिला को एम्स के डॉक्टरों ने दिल की सर्जरी के लिए एक दो नहीं बल्कि पूरे छह साल बाद की तारीख दी है। जीहाँ ये महिला 32 साल की नसरीन है, जो मेरठ की रहने वाली हैं और बीते 13 सालों से एम्स में ही अपना इलाज करवा रही हैं।

डॉक्टरों ने एम्स में लंबी वेटिंग का हवाला देते हुए यह तारीख दी है और साथ में यह भी सलाह दिया है कि अगर जल्दी सर्जरी चाहती हैं तो दिल्ली के दूसरे अस्पताल जा सकती हैं। इस बारे में नसरीन का कहना है कि एम्स के हार्ट सर्जरी विभाग के डॉक्टरों ने उन्हें बताया कि उनके हार्ट के वॉल्व सिकुड़ गया है। उन्हें जल्द से जल्द सर्जरी की जरूरत है, लेकिन एम्स में सर्जरी की डेट 2025 की मिलेगी।

डॉक्टरों ने नसरीन को सफदरजंग, आरएमएल या जीबी पंत अस्पताल में जाकर इलाज की सलाह दी। नसरीन एम्स के डॉक्टरों की सलाह पर जीबी पंत अस्पताल गईं, लेकिन वहां भी एक साल की वेटिंग मिली। आर्थिक तंगी से गुजर रही नसरीन को अपने इलाज के लिए आए दिन दिल्ली और मेरठ का सफर करना पड़ता है।

आर्थिक तौर पर कमजोर मरीजों के लिए बनाई ईडब्ल्यूएस कमेटी के सदस्य अशोक अग्रवाल से मिल कर उसने इस बारे में शिकायत भी की, लेकिन अग्रवाल का कहना है कि सरकारी अस्पतालों की स्थिति बेहद खराब है। यहां लोगों को महत्वपूर्ण सर्जरी के लिए भी छह-छह साल की वेटिंग मिलती है और फिर यहां सबसे बेहतर स्वास्थ्य सुविधाएं देने की बात कही जाती है।

 

शेयर करें

मुख्य समाचार

टोक्‍यों ओलंपिक में खिलाड़ियों का पूरा समर्थन करेगा देश : कोविंद

नयी दिल्ली : राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने शनिवार को कहा कि 24 जुलाई से नौ अगस्त तक आयोजित 2020 टोक्यो ओलंपिक में देश का प्रतिनिधित्व आगे पढ़ें »

बुकर पुरस्कार विजेता जोखा अल हार्सी पहुंचीं जयपुर साहित्य महोत्सव में, लेखन चुनौतियों का जिक्र किया

जयपुरः ओमान की लेखिका एवं बुकर पुरस्कार विजेता जोखा अल हार्सी के लिए लेखन का सबसे दिलचस्प और चुनौतीपूर्ण पहलू समाज में मौजूद अनसुनी और आगे पढ़ें »

ऊपर