शरीर में ये लक्षण नजर आए तो ना करें नजरअंदाज, बड़ी बीमारी के हो सकते हैं संकेत

नई दिल्ली : पैरों में सूजन जैसी समस्या को बढती उम्र की समस्या मानकर नजर अंदाज करने की बजे इसे गंभीरता से लें, यह किसी बड़ी समस्या के लक्षण हो सकते हैं। सैन फ्रांसिस्को में हुई एक रिसर्च मेडिकल और अमेरिकी समग्र मेडिकल एसोसिएशन के एक्सपर्ट एमडी मौली एम रॉबर्ट्स के मुताबिक बीमारी हल्के‍ से दस्त क देती हैं, लेकिन अगर इसपर ध्यािन नहीं दिया जाए तो आपको पूरी तरह से घेर लेती हैं।

स्वास्थ अच्छा हो तो कोई भी व्येक्ति स्वस्थ दिखता है, उसके चेहरे पर ग्लो, होता है, लेकिन शरीर में किसी भी तरह के बदलाव जैसे बालों का झड़ना, पीले नाखून, पैरों में सूजन, आंखों के आस-पास डार्क सर्कल्सत का होना हेल्थि संबंधी प्रॉब्लकम्सक की ओर इशारा करता है। यह समस्यानएं गंभीर रूप ले लें, उससे पहले इन पर ध्याउन देना बेहद जरूरी होता है। इन समस्याओं को हलके में ना लें…

डार्क सर्कल और पफी आइज
अक्सर पफी आइज और डार्क सर्कल की समस्या रात में देर से सोने या अच्छी नींद न लेने के कारण होती है, आपको लगातार यह समस्या है तो अपनी डायट पर ध्यान दें, क्योंेकि यह समस्या आमतौर पर डाइट में सोडियम की मात्रा अधिक लेने से बॉडी में वॉटर रिटेंशन के बढ़ने से होता है। साथ ही डार्क सर्कल आयरन की कमी के कारण भी होता है।

पैरों में सूजन की समस्या
पैरों में सूजन चोट या इंफेक्शसन के कारण होती है। प्रेग्नेंसी, मोटापा और कुछ तरह की दवाएं भी इसका कारण हो सकती हैं, लेकिन यह पैरों में सूजन किडनी या दिल की बीमारी के कारण भी हो सकता है। किडनी के सही से काम न करने पर पैरों में सूजन आ जाती है और टखने में सूजन हार्ट अटैक का संकेत हो सकता है।

बालों का पतला होना
आमतौर पर बाल झड़ते ही हम शैंपू या हेयर केयर प्रोडक्टब या फिर मौसम को दोष देते हैं, लेकिन हमेशा बाल झड़ने के कारण नहीं होते। हार्मोंनल बदलाव, तनाव और किसी लंबी बीमारी के कारण आपके बाल पतले होने लगते हैं। थॉयरायड की समस्याू भी बालों के पतले होने का कारण हो सकती हैं। इसे नजरअंदाज करना सही नहीं है, इसके लिए तुरंत अपने डॉक्ट र से संपर्क करें।

ड्राई स्किन कि समस्या हल्के में ना लें
आमतौर पर यह सर्द हवा या गर्म शॉवर के कारण होता हैं, लेकिन कई मामलों में ड्राई स्किन डिहाइड्रेशन और गंभीर हेल्थ प्रॉब्लरम्स का संकेत हो सकता है। हाइपोथायरायडिज्म और डायबिटीज जैसी प्रॉब्लिम्से के होने पर डाइट में पोषक तत्वों की कमी के कारण त्व चा में नमी की कमी से ड्राई स्किन की प्रॉब्लोम होने लगती है।

आंखों और नाखूनों में पीलापन
आंखे देखकर स्वास्थ का पता चल जाता है, अगर आपकी सफेद आंखों में पीलापन दिखे तो समझ लेना चाहिए कि आप किसी बीमारी का शिकार हैं। आपकी सफेद आंखों या नाखूनों में पीलापन दिखे तो यह लिवर की बीमारी जैसे हेपेटाइटिस या पीलिया का लक्षण हो सकता है। ऐसे में तुरंत डॉक्टर से मिलें।

बॉडी विशेष रूप से चेहरे पर बाल
बॉडी पर बाल नार्मल है, लेकिन चेहरे पर बाल तो किसी भी महिला की खूबसूरती को बिगाड़ देते है, लेकिन अगर चेहरे पर अधिक बाल हो तो ये पॉलीसिस्टिक ओवरी सिंड्रोम (पीसीओएस) जैसी हेल्थर प्रॉब्लेम का संकेत हो सकता है। पीसीओएस में लगभग 70 प्रतिशत महिलाओं में आमतौर पर चेहरे, चेस्टै, पेट, पीठ, हाथ, या पैर पर एक्ट्राौ बाल आने लगते है। आपको भी चेहरे के बाल तेजी से बढ़ते नजर आयें तो बिना देर किए डॉक्ट र से संपर्क करें।

शेयर करें

मुख्य समाचार

hongkong

हांगकांग ‘लोकतंत्र अधिनियम’ पारित, चीन ने दी कड़ी प्रतिक्रिया

वाशिंगटन : हांगकांग में लोकतंत्र समर्थक प्रदर्शनकारियों की मांग वाले एक विधेयक को अमेरिकी प्रतिनिधि सभा ने मंगलवार को पारित कर दिया, जिसका उद्देश्य उस आगे पढ़ें »

रतन टाटा खुद को मानते हैं ‘एक्सीडेंटल स्टार्टअप निवेशक’, कई बड़ी कंपनियों में है हिस्सेदारी

नई दिल्ली : उद्योगपति और टाटा समूह के चेयरमैन रतन टाटा ने खुद को 'एक्सीडेंटल स्टार्टअप निवेशक' माना है। उन्होंने दर्जनभर से ज्यादा स्टार्टअप कंपनियों आगे पढ़ें »

court

अयोध्या मामले पर सुप्रीम कोर्ट ने 40 दिन की सुनवाई के बाद फैसला सुरक्षित रखा

ayodhya

अयोध्या मामला : मुस्लिम धर्मगुरुओं ने कहा, शीर्ष न्यायालय के फैसले को स्वीकार किया जाना चाहिए

अमेरिकी प्रतिबंधों के पालन के लिए भारत अपना नुकसान नहीं करेगा: वित्त मंत्री

russia

तुर्की और सीरिया की लड़ाई में रूस बना दीवार, तैनात की अपनी आर्मी

sitaraman

अनुच्छेद 370 को हटाए जाने के बाद ‘मानवाधिकार’ विश्व स्तर पर ज्वलंत शब्द बन गया : सीतारमण

chetak

बजाज ने पेश किया इलेक्ट्रिक चेतक स्कूटर, सामने आया पहला लुक

rail

रेलवे ने शुरू की नई योजना, अब फिल्म प्रमोशन के लिए हो सकेगी ट्रेनों की बुकिंग

modi

पीएम मोदी बोले- राष्ट्र निर्माण का आधार है सावरकर के संस्कार

ऊपर