शरीर में ये लक्षण नजर आए तो ना करें नजरअंदाज, बड़ी बीमारी के हो सकते हैं संकेत

नई दिल्ली : पैरों में सूजन जैसी समस्या को बढती उम्र की समस्या मानकर नजर अंदाज करने की बजे इसे गंभीरता से लें, यह किसी बड़ी समस्या के लक्षण हो सकते हैं। सैन फ्रांसिस्को में हुई एक रिसर्च मेडिकल और अमेरिकी समग्र मेडिकल एसोसिएशन के एक्सपर्ट एमडी मौली एम रॉबर्ट्स के मुताबिक बीमारी हल्के‍ से दस्त क देती हैं, लेकिन अगर इसपर ध्यािन नहीं दिया जाए तो आपको पूरी तरह से घेर लेती हैं।

स्वास्थ अच्छा हो तो कोई भी व्येक्ति स्वस्थ दिखता है, उसके चेहरे पर ग्लो, होता है, लेकिन शरीर में किसी भी तरह के बदलाव जैसे बालों का झड़ना, पीले नाखून, पैरों में सूजन, आंखों के आस-पास डार्क सर्कल्सत का होना हेल्थि संबंधी प्रॉब्लकम्सक की ओर इशारा करता है। यह समस्यानएं गंभीर रूप ले लें, उससे पहले इन पर ध्याउन देना बेहद जरूरी होता है। इन समस्याओं को हलके में ना लें…

डार्क सर्कल और पफी आइज
अक्सर पफी आइज और डार्क सर्कल की समस्या रात में देर से सोने या अच्छी नींद न लेने के कारण होती है, आपको लगातार यह समस्या है तो अपनी डायट पर ध्यान दें, क्योंेकि यह समस्या आमतौर पर डाइट में सोडियम की मात्रा अधिक लेने से बॉडी में वॉटर रिटेंशन के बढ़ने से होता है। साथ ही डार्क सर्कल आयरन की कमी के कारण भी होता है।

पैरों में सूजन की समस्या
पैरों में सूजन चोट या इंफेक्शसन के कारण होती है। प्रेग्नेंसी, मोटापा और कुछ तरह की दवाएं भी इसका कारण हो सकती हैं, लेकिन यह पैरों में सूजन किडनी या दिल की बीमारी के कारण भी हो सकता है। किडनी के सही से काम न करने पर पैरों में सूजन आ जाती है और टखने में सूजन हार्ट अटैक का संकेत हो सकता है।

बालों का पतला होना
आमतौर पर बाल झड़ते ही हम शैंपू या हेयर केयर प्रोडक्टब या फिर मौसम को दोष देते हैं, लेकिन हमेशा बाल झड़ने के कारण नहीं होते। हार्मोंनल बदलाव, तनाव और किसी लंबी बीमारी के कारण आपके बाल पतले होने लगते हैं। थॉयरायड की समस्याू भी बालों के पतले होने का कारण हो सकती हैं। इसे नजरअंदाज करना सही नहीं है, इसके लिए तुरंत अपने डॉक्ट र से संपर्क करें।

ड्राई स्किन कि समस्या हल्के में ना लें
आमतौर पर यह सर्द हवा या गर्म शॉवर के कारण होता हैं, लेकिन कई मामलों में ड्राई स्किन डिहाइड्रेशन और गंभीर हेल्थ प्रॉब्लरम्स का संकेत हो सकता है। हाइपोथायरायडिज्म और डायबिटीज जैसी प्रॉब्लिम्से के होने पर डाइट में पोषक तत्वों की कमी के कारण त्व चा में नमी की कमी से ड्राई स्किन की प्रॉब्लोम होने लगती है।

आंखों और नाखूनों में पीलापन
आंखे देखकर स्वास्थ का पता चल जाता है, अगर आपकी सफेद आंखों में पीलापन दिखे तो समझ लेना चाहिए कि आप किसी बीमारी का शिकार हैं। आपकी सफेद आंखों या नाखूनों में पीलापन दिखे तो यह लिवर की बीमारी जैसे हेपेटाइटिस या पीलिया का लक्षण हो सकता है। ऐसे में तुरंत डॉक्टर से मिलें।

बॉडी विशेष रूप से चेहरे पर बाल
बॉडी पर बाल नार्मल है, लेकिन चेहरे पर बाल तो किसी भी महिला की खूबसूरती को बिगाड़ देते है, लेकिन अगर चेहरे पर अधिक बाल हो तो ये पॉलीसिस्टिक ओवरी सिंड्रोम (पीसीओएस) जैसी हेल्थर प्रॉब्लेम का संकेत हो सकता है। पीसीओएस में लगभग 70 प्रतिशत महिलाओं में आमतौर पर चेहरे, चेस्टै, पेट, पीठ, हाथ, या पैर पर एक्ट्राौ बाल आने लगते है। आपको भी चेहरे के बाल तेजी से बढ़ते नजर आयें तो बिना देर किए डॉक्ट र से संपर्क करें।

शेयर करें

मुख्य समाचार

momota

एनआरसी और कैब को थोपने नहीं देंगे : ममता

खड़गपुर : उपचुनाव में जीत के लिए खड़गपुर की जनता को धन्यवाद देने पहुंची मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने दावा किया है कि एनआरसी और कैब आगे पढ़ें »

हावड़ा जूट मिल अनिश्चित समय के लिए बंद

हावड़ा : शिवपुर स्थित हावड़ा जूट मिल को अनिश्चित काल के लिए बंद कर दिया गया है। इस दिन सुबह मार्निंग शिफ्ट में काम करने आगे पढ़ें »

ऊपर