विटामिन और मिनरल से भरपूर है अलसी, रोज लें एक चम्मच

नई दिल्ली : क्या आपको भी शरीर में विटामिन्स और मिनरल की कमी रहती है तो अलसी को अपने खाने में शामिल करें, ये न्यूट्रीशन का पावरहाउस कहा जाता है। यह वजन कम करने के साथ-साथ महिलाओं की कई हेल्थी प्रॉब्लम्स को भी दूर करता है। औषधीय गुणों से भरपूर 1 चम्मच अलसी का बीज सेहत के लिए किसी वरदान से कम नहीं हैं।

इसमें भरपूर मात्रा में ओमेगा-3 फैटी एसिड के अलावा फाइबर, एंटीऑक्सीडेंट्स, विटामिन बी, आयरन और प्रोटीन भी भरपूर मात्रा में पाया जाता है। वजन कम करने के साथ ही रोजाना इसे खाने से आपकी इम्यूीनिटी मजबूत होती है और कोलेस्ट्रॉेल कंट्रोल में रहता है और कैंसर और डायबिटीज आदि से आप बची रहती हैं। अलसी को आप किसी भी खाने की चीज में मिलकर आसानी से ले सकती हैं। ये दो रंगों में आते हैं, एक ब्राउन और दूसरा पीला। दोनों फायदें में सामान हैं।

अलसी में ओमेगा 3 फैटी एसिड- ओमेगा-3 में पॉलीअनसैचूरेटेड फैटी एसिड और महत्वपूर्ण पोषक तत्व पाए जाते हैं, जो ब्रेन को कंट्रोल में रखते हुए कॉग्नेटिव फंक्शन में हेल्पी करते हैं।

ये हैं फायदें
लिगनेंस- अलसी लिगनेंस का अच्छा स्रोत माना जाता हैं। लिगनेंस महिलाओं में एस्ट्रोजन हार्मोन को नेचुरल तरीके से पैदा करने में मदद करता है। यह अलसी के अलावा अन्य कई फूड में पाया जाता है। साथ ही लिगनेंस एंटीऑक्सीडेंट्स होते हैं जो कैंसर, डायबिटीज और दिल की बीमारियों को कम करते हैं।

म्यूसिलेज- म्यूसिलेज आंतों को स्वस्थ रखता है और शरीर में सही तरीके से पोषक तत्वों को सोखने में मदद करता है। साथ ही डायबिटीज के कंट्रोल में सहायक है। म्यूसिलेज कब्ज को दूर करता है और अल्सर में राहत देता है।

अलसी और महिला स्वास्थ
अलसी हर तरह की हार्मोनल समस्या को दूर करता है। इसमें लिगनन्स पर्याप्त मात्रा में पाई जाती है, जो एस्ट्रोजन के हाई लेवल को कम करने और कम एस्ट्रोजन के लेवल को कंट्रोल में रखने में हेल्प करता है। इसके सेवन से आप मेनोपॉज के लक्षण और रात में पसीना आने जैसी समस्या भी कम होती है। इससे अनियमित पीरियड्स को भी ठीक किया जा सकता है। इसके अलावा सिर दर्द, घबराहट, मूड स्विंग्स भी दूर रहता है। पीरियड्स में ज्यादा ब्लीडिंग होने की समस्या में भी यह मददगार है। वहीं ब्रेस्ट कैंसर के खतरे को कमने के साथ आंतों को भी फिट रखता है।

अलसी एल्फा लिनोलेनिक एसिड का अच्छा स्रोत माने जाते हैं, जो इंफ्लेमेशन को कंट्रोल में रखते हुए ब्लड वेसल को नुकसान पहुंचने से बचाते हैं। अगर आप अलसी का सेवन रोज करते हैं, तो यह बॉडी से बैड कोलेस्ट्रोल को कम कर गुड कोलेस्ट्रोल को बढ़ावा देते हैं।
वजन कम कर डाइजेशन दुरुस्त रखता है

अलसी में हाई फाइबर होता है, जो कब्ज दूर करने में मदद करता है। इसे खाने से पेट लंबे समय तक भरा महसूस होता हैं, जिससे आप जंक फूड नहीं खा पाती हैं और वजन भी कंट्रोल रहता है।

एंटीऑक्सीडेंट्स से हैं भरपूर
फ्लैक्सीड में फल और सब्जियों से ज्यापदा एंटीऑक्सीडेंट्स होते हैं। रोजाना 1 चम्मलच खाने से एजिंग की रफ्तार कम हो जाती है और साथ ही यह आपकी बॉडी को बूस्ट करने में भी मदद करता है।

स्किन के लिए अच्छा
फ्लैक्सीड, त्वचा के लिए सबसे अच्छा विकल्प माना जाता है और बालों के लिए भी बेहतर माना जाता है, क्योंकि इसमें ओमेगा-3 फैटी एसिड पाया जाता है।

इस तरह करें सेवन
इसे पीसकर 1 टाइट डिब्बे में रखें, जरूरत पड़ने पर खाने में शामिल करें।
1 छोटा चम्मच अलसी आप रोटी, बिस्कुट या ब्रेड के लिए आटा गूंथते हुए उसमें मिक्स कर सकती हैं।
पॉरिज, ओट्स या मूस्ली में भी आधा छोटा चम्मच मिक्स किया जा सकता है।
आलसी के पाउडर को सलाद, पकी हुई सब्जी या पकी हुई दाल के ऊपर भी डाला जा सकता है।
दही या स्मूदी में भी आप फ्लैक्सीड मिक्स कर सकती हैं।
अगर आपकी बॉडी की तासीर गर्म है तो आप इसका इस्ते।माल पानी में भिगोकर कर सकती हैं। इसके लिए आप रात को 1 चम्मयच अलसी को आधा गिलास पानी में भिगोकर रख दें और फिर सुबह इसे पी लें।

शेयर करें

मुख्य समाचार

अपना कर्तव्य नहीं निभा रही हैं सीएम – मुकुल

कोलकाता : भाजपा के वरिष्ठ नेता व राष्ट्रीय कार्यकारिणी के सदस्य मुकुल राय ने बंगाल में कैब के विरोध में हो रहे प्रदर्शन पर कहा आगे पढ़ें »

Bengal new Rajypal

मुख्यमंत्री अपने कर्तव्य को निभाएं : राज्यपाल

कोलकाता : राज्यभर में नागरिकता संशोधित कानून (कैब) के विरोध में किए जा रहे प्रदर्शन और हिंसा के बीच ही राज्यपाल जगदीप धनखड़ ने लोगों आगे पढ़ें »

ऊपर