दूध पीने की आप भी हैं शौकीन तो फायदे और नुकसान जान लीजिए

नई दिल्ली : दूध के पौष्टिकता से हम सभी वाकिफ हैं। सुबह की चाय से लेकर बहुत से लोगों को रात को दूध पीकर ही सोने की आदत होती है। खासकर बच्चे तो काफी हद तक दूध पर ही निर्भर होते हैं। दूध कैल्शियम का अच्छा उत्कृष्ट स्रोत है और यह हड्डियों और दांतों के लिए बेहद जरूरी है।

शरीर के स्वास्थ के लिए डॉक्टर्स भी दूध पीने कि सलाह देते हैं, लेकिन सवाल यह है कि गाय और भैंस के दूध में से किसे चुने। इन दोनों में से स्वास्थ के लिए अच्छा क्या है।
दरअसल गाय और भैंस दोनों के दूध के फायदे और नुकसान दोनों हैं। दोनों में ये है खास अंतर :

फैट
गाय के दूध में भैंस के दूध की तुलना में वसा कम होती है, जिससे भैंस का दूध गाय के दूध ज़्यादा गाढ़ा होता है। गाय के दूध में 3-4 प्रतिशत वसा मौजूद होती है, वहीं, भैंस के दूध में 7-8 प्रतिशत। भैंस का दूध भारी होने के कारण पचने में समय ज्यादा लेता है।

कोरोना वायरस के लक्षण और बचने के उपाय जानिए एक्सपर्ट से

पानी
शरीर में पानी का की मात्रा बढाना चाहते हैं तो गाय का दूध पीना शुरू कर दें। गाय के दूध में 90 प्रतिशत पानी होता है और यह शरीर को हाइड्रेट रखता है।

प्रोटीन
गाय के दूध की तुलना में भैंस के दूध में 10-11 प्रतिशत प्रोटीन मौजूद होता है। प्रोटीन की मात्रा अधिक होने के कारण भैंस का दूध छोटे बच्चों और बूढ़े लोगों को पीने की सलाह नहीं दी जाती। इससे सिर में हमेशा भारीपन और नाक बंद हो सकती है।

कोलेस्ट्रॉल
भैंस के दूध में कोलेस्ट्रॉल की मात्रा कम होती है, ऐसे में पीसीओडी, हाइपरटेंशन, किडनी की समस्या और मोटापे से जूझ रहे लोगों के लिए यह अच्छा है।

दुनियाभर में तेजी से फैल रहे कोरोना वायरस से बचाव के ये हैं उपाय

कैलोरी
भैंस के दूध में कैलोरी ज्यादा होती है, क्योंकि इसमें प्रोटीन और फैट की मात्रा ज्यादा होती है। एक कप भैंस के दूध में 237 कैलोरी होती है, वहीं एक कप गाय के दूध में 148 कैलोरी होती है।

इसलिए भी है फायदेमंद
अच्छी नींद के लिए भैंस का दूध अच्छा है। खोया, दही, खीर, पायसम, मलाई, कुल्फी और घी बनाने के लिए भैंस के दूध को बेहतर माना जाता है। गाय का दूध ज़्यादा गाढ़ा नहीं होता, मिठाई में इसका इश्तेमाल किया जा सकता है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

वनडे क्रिकेट में किसी भी स्थान पर बल्लेबाजी को तैयार : रहाणे

नयी दिल्ली : भारतीय बल्लेबाज अजिंक्य रहाणे ने कहा कि उनकी अंतररात्मा की आवाज है कि वह एकदिवसीय प्रारूप में राष्ट्रीय टीम में वापसी करेंगे। आगे पढ़ें »

जरूरतमंद पूर्व खिलाड़ियों की मदद करती रहेगी सरकार : रीजिजू

नयी दिल्ली : खेलमंत्री किरेन रीजिजू ने शनिवार को कहा कि मंत्रालय जरूरतमंद पूर्व खिलाड़ियों की आर्थिक मदद करता रहेगा क्योंकि देश के लिये खेलते आगे पढ़ें »

ऊपर