कहलगांव संयंत्र से विस्थापित हुए लोगों के लिए कदम उठाये सरकार : सदानंद सिंह

भागलपुर : बिहार कांग्रेस विधानमंडल दल के नेता एवं विधानसभा आचार समिति के सभापति सदानंद सिंह ने शनिवार को एनटीपीसी लिमिटेड के कहलगांव बिजली संयंत्र से उत्सर्जित राख की ढुलाई कार्य में विस्थापितों एवं स्थानीय लोगों की घोर उपेक्षा का कड़ा विरोध जताते हुए राज्य सरकार से इस दिशा में कड़े कदम उठाने का आग्रह किया है।
सदानंद सिंह ने कहा कि राज्य सरकार के निर्देश के बावजूद देश की सबसे बड़ी विद्युत उत्पादक कंपनी के कहलगांव बिजली संयंत्र के वरीय अधिकारियों की मिलीभगत से ऐश डाइक एरिया में उत्सर्जित राख के ढुलाई कार्य में भू-विस्थापित एवं स्थानीय लोगों की घोर उपेक्षा की जा रही है जिससे उन लोगों के समक्ष भुखमरी की समस्या उत्पन्न हो गयी है। इस सिलसिले में एक स्थानीय जनप्रतिनिधि के नाते उन्होंने कहलगांव संयंत्र के कार्यकारी निदेशक से मौखिक और लिखित रूप से उक्त कार्य में इन गरीब लोगों को शामिल करने का आग्रह किया था। क्योंकि अधिकांश भू- विस्थापित अनुसूचित जाति, अति पिछड़ा एवं पिछड़ा वर्ग से आते हैं और उनलोगों की भूमि इस संयंत्र के निर्माण के अधिग्रहण में जा चुकी है। कांग्रेस नेता कहा कि इस संयंत्र के प्रबंधन की मिलीभगत से करोड़ों रुपये के राख ढुलाई का कार्य पंजाब और अन्य जगहों के बड़े बड़े संवेदकों से करवाया जा रहा है। लेकिन इन गरीब भू- विस्थापित लोगों के जमीन पर बने इस बिजली संयंत्र से उनलोगों को वाजिब हक नहीं मिल रहा है। इस कारण आसपास के एकचारी, भोलसर, धनौरा, चायंटोला, मजदाहा, कटोरिया आदि गांवों के भू-विस्थापितो एवं स्थानीय लोगों मे गहरा आक्रोश है। सदानंद सिंह ने कहा कि अपने वाजिब हक पाने के लिए उक्त गांवों के भू- विस्थापित पिछले एक सप्ताह से सामूहिक धरने पर है। बावजूद इसके, प्रबंधन इस मामले के समाधान करने के बजाय मूकदर्शक बना हुआ है और इस वजह से समूचे क्षेत्रों में शांति के भंग होने की संभावना बढ़ गयी है। भू-विस्थापितों के संबंध में राज्य सरकार के निर्देश के आलोक में इस मामले में शीघ्र पहल करने की जरूरत है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्सहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

आ​ज से भारी बारिश की संभावना

सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : सोमवार को रात भर बारिश में उत्तर कोलकाता के कई इलाकों में जलजमाव हो गया। वहीं मंगलवार को भी कोलकाता समेत दक्षिण आगे पढ़ें »

ऊपर