उर्मिला मातोंडकर ने छोड़ा कांग्रेस का हाथ,बताई ये वजह…

Urmila Matondkar

मुंबई: लोकसभा चुनाव के दौरान कांग्रेस में शामिल हुई उर्मीला माताेंडकर ने 5 महीने बाद ही कांग्रेस से इस्तीफा दे दिया। उर्मिला मातोंडकर ने ‘पार्टी के भीतर की तुच्छ राजनीति’ को कांग्रेस छोड़ने की वजह बताया है। उर्मिला ने मंगलवार को कहा, ”मेरी राजनीतिक और सामाजिक समझ बड़े लक्ष्य को हासिल करने के लिए है, लेकिन मुंबई कांग्रेस की अंदरूनी गुटबाजी के कारण मैं ऐसा कर नहीं पा रही हूं।”

लोकसभा चुनाव हार गयी थी
बता दें कि 45 वर्षीय उर्मिला इसी साल मार्च में कांग्रेस में शामिल हुई थीं। कांग्रेस ने उन्हें लोकसभा चुनाव 2019 में उत्तर मुंबई से अपना उम्मीदवार बनाया था। हालांकि वो बीजेपी के गोपाल शेट्टी से 4.6 लाख वोटों से चुनाव हार गई थीं। उर्मिला ने इस्तीफे में लिखा, ”पहली बार मन में इस्तीफे का विचार तब आया था जब 16 मई को लिखे मेरे पत्र पर तत्कालीन मुंबई कांग्रेस अध्यक्ष मिलिंद देवड़ा ने कोई एक्शन नहीं लिया। इसके बाद इस गोपनीय संवाद को बड़ी आसानी से मीडिया में लीक कर दिया गया। यह मेरे साथ छल था।” दरअसल, लोकसभा चुनाव के नतीजों से पहले उर्मिला ने एक पत्र में अपनी हार के लिए स्थानीय नेताओं पर उंगली उठाई थी। हार के लिए कमजोर रणनीति, कार्यकर्ताओं की अनदेखी और फंड की कमी को जिम्मेदार बताया था।

केंद्र सरकार पर भी साधा था निशाना

उर्मिला ने कुछ दिन पहले जम्मू-कश्मीर से आर्टिकल 370 हटाने की वजह से केंद्र सरकार पर निशाना साधा था। उन्होंने कहा था कि जम्मू-कश्मीर में इंटरनेट और फोन सेवाएं बंद होने के चलते उन्हें अपने ससुराल वालों की खबर नहीं मिल पा रही है। उर्मिला की शादी मोहसिन अख्तर मीर से हुई है। वह कश्मीर से ताल्लुक रखते हैं।

शेयर करें

मुख्य समाचार

waris

वारिस पठान का भड़काऊ भाषण, कहा- 100 करोड़ पर भारी हैं हम 15 करोड़

बेंगलुरु : हैदराबाद से सांसद असदुद्दीन ओवैसी की पार्टी ऑल इंडिया मजलिस ए इत्तेहादुल मुस्लिमीन (एआईएमआईएम) के राष्ट्रीय प्रवक्ता वारिस पठान ने बेहद विवादित बयान आगे पढ़ें »

एफआईए ग्लोबल से जुड़े 2.5 करोड़ ग्राहक

नई दिल्ली : भारत और नेपाल में वित्तीय समावेशन के लिए डिजिटल भुगतान और वितरण प्रणालियों में एक अग्रणी फिनटेक कंपनी एफआईए ग्लोबल 2019 में आगे पढ़ें »

ऊपर