मुलतानी मिट्टी ही नहीं ये मिट्टी भी त्वचा के लिए हैं फायदेमंद, पढ़ें

नई दिल्ली : हम हमेशा से सुनते आए हैं कि मुलतानी मिट्टी में खूबसूरती बढ़ाने वाले गुण होते हैं। हालांकि मुलतानी मिट्टी के अलावा कई और चीजें हैं जो त्वचा को सेहमतंद और चमकदार बनाती हैं। कई तरह के क्ले हैं, जो त्वचा के दाग-धब्बे दूर रंगत निखारते हैं।

केओलिन क्ले
केओलिन क्ले कई रंगों में पाया जाता है और यह त्वचा में रूखापन नहीं बढ़ाता। सफेद केओलिन की प्रकृति सौम्य होती है और संवेदनशील त्वचा के लिए यह बेहतरीन है। लाल केओलिन क्ले में प्रचुर मात्रा में आयरन डायऑक्साइड होता है और यह बहुत गुणकारी होता है। इसे पूरे बॉडी पर लगाया जा सकता है। पीला केओलिन साबुन और चेहरे को साफ करने वाले क्लींज़र बनाने के काम आता है। गुलाबी केओलिन रूखे त्वचा के लिए अच्छा है।

रीसोल क्ले
मैग्नीशियम, पोटैशियम और कैल्शियम जैसे खनिज इसमें होते हैं। यह त्वचा में तेल के संतुलन को सही रखता है। इसमें नेगेटिव इलेक्ट्रोमैग्नेटिक चार्ज होता है, जिसकी वजह से त्वचा में गहराई में छुपे ब्लैकहेड्स और दूसरी तरह की गंदगी निकल जाती है।

कैम्ब्रिअन ब्लू
यह मिट्टी दुर्लभ है, जो साइबेरिया में झीलों से मिलता है। यह खनिजों का खजाना है और इसमें डिटॉक्सीफाई करने की गज़ब की क्षमता है। यह त्वचा के रोमछिद्रों से गंदगी निकालता है, झाइंयों को कम करता है और त्वचा की ऊपरी परत को स्वस्थ रखता है। फेस मास्क, त्वचा के लिए बने खास साबुनों और डिटॉक्स बाथ सॉल्ट तैयार करने में भी इसका इस्तेमाल किया जाता है।

रेड क्ले
यह काफी फायदेमंद है। त्वचा को यह न सिर्फ साफ करता है, बल्कि चमकदार बनाए रखता है। इसे 20 मिनट के लिए चेहरे पर लगाएं और धो दें।

बेंटोनाइट क्ले
इसमें बहुत सारे डिटैनिंग गुण होते हैं और यह त्वचा के लिए फायदेमंद है।

ऐसे करें इश्तेमाल
1. क्ले का लेप कांच के बरतन में ही तैयार करें । पीतल, स्टील या तांबे का बर्तन इस्तेमाल न करें।
2. ठंडे पानी का इस्तेमाल करें।
3. हमेशा नर्म हाथों से लेप चेहरे पर लगाएं।
4. किसी भी तरह की त्वचा संबंधी समस्या में डर्मेटॉलजिस्ट की सलाह पर ही लेप लगाएं।

शेयर करें

मुख्य समाचार

ऊपर