टैटू का क्रेज ही सकता है जानलेवा

नई दिल्ली : टैटू का शौक इन आजकल लड़कियों में काफी देखा जा रहा है। अब टैटू बनवाना पेनलेस है बन चुका है। हालाँकि लोगों को यह नहीं पता कि टैटू बनवाना स्वास्थ के लिए नुकसानदायक भी साबित हो सकता है। टैटू से कई तरह की स्किन संबंधी समस्याएं भी हो सकती हैं।

त्वचा की समस्या
टैटू से त्वचा पर लालिमा, मवाद, सूजन जैसी कई तरह की परेशानियां हो सकती हैं। इन्फैक्शन की संभावना बनी रहती है। परमानैंट टैटू के दर्द से बचने और टैटू का शौक पूरा करने के लिए कई लोग नकली टैटू का सहारा भी लेते हैं, लेकिन इससे आप को और भी परेशानी का सामना करना पड़ सकता है।

कैंसर का जोखिम
टैटू से सोराइसिस नाम की बीमारी होने का भी डर रहता है। कई बार टैटू बनाने के दौरान एक इंसान द्वारा इश्तेमाल कि गई सुई को दूसरे की त्वचा पर इस्तेमाल कर दिया जाता है, जिस से स्किन संबंधित रोग, एचआईवी और हेपेटाइटिस जैसी बीमारियां होने का खतरा रहता है। टैटू बनवाने से कैंसर का खतरा भी बढ़ जाता है।

स्याही स्किन के लिए खतरनाक
टैटू बनाने के लिए त्वचा पर अलगअलग तरह की स्याही का इस्तेमाल किया जाता है, जो त्वचा के लिए खतरनाक है। टैटू बनाने के लिए नीले रंग की स्याही का इस्तेमाल किया जाता है, जिस में ऐल्यूमिनियम जैसी कई धातुएं मिली रहती हैं, जोकि स्किन के लिए हानिकारक होती हैं। ये स्किन के अंदर ऑबजर्ब हो जाती हैं, जिससे बाद में कई तरह की दिक्कतें हो सकती हैं।

मांसपेशियों को नुकसान
टैटू के कुछ डिजाइन ऐसे होते हैं, जिनमें सूइयों को शरीर में गहराई तक चुभाया जाता है, इससे मांसपेशियों में भी स्याही चली जाती है। मांसपेशियों को काफी नुकसान पहुंचता है। त्वचा विशेषज्ञों का मानना है कि शरीर के जिस हिस्से पर तिल हो उस हिस्से पर टैटू कभी नहीं बनवाना चाहिए। टैटू के बाद कोई परेशानी होने पर तुरंत डाक्टर से संपर्क करें। इसके अलावा टैटू बनवाने के करीब 1 साल तक आप रक्तदान नहीं कर सकते।

शेयर करें

मुख्य समाचार

बंगाल में कोरोना वायरस संक्रमण के 2752 नये आये मामले

कोलकाता : वेस्ट बंगाल कोविड-19 हेल्थ बुलेटिन के अनुसार पश्चिम बंगाल में कोरोना वायरस संक्रमण के पिछले 24 घंटे में 2752 नये मामले आये है आगे पढ़ें »

राममंदिर के शिलान्यास के अवसर पर अपने घरों में दीपावाली मनाएं : रावत

देहरादून : उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने पांच अगस्त को अयोध्या में राममंदिर निर्माण हेतु भूमिपूजन के अवसर पर प्रदेश की जनता से आगे पढ़ें »

ऊपर