प्रेगनेंसी को लेकर हर औरत में होता है टोकोफोबिया

नई दिल्ली : दिल वाले दुल्हथनियां ले जाएंगे और शांति जैसे सीरियल से घर घर पहचानी जाने वाली लड़की मंदिरा बेदी अपनी फिटनेस को लेकर हसेशा ही चर्चा में रहती हैं। अपने फिटनेस के वीडियो और फोटो इंस्टा ग्राम पर भी वो शेयर करती रहती हैं। हाल ही में उन्होंेने पर एक इंटरव्यूघ में बताया कि डर के कारण वह 12 साल तक प्रेग्नें ट नहीं हुईं। आपको बता दें कि य़ह डर आमतौर पर महिलओं में देखा जाता है।

एक इंटरव्यू में मंदिरा ने कहा कि 30 की उम्र में मुझमें असुरक्षा की भावना ने घर कर लिया था, लेकिन 40 साल की उम्र के बाद अब मुझे बहुत अच्छाे महसूस होता है और मैं आज खुद से बेहद प्याउर करती हूं। मंदिरा ने कहा कि करियर की शुरुआत में मेरे अंदर एक अजीब सा डर था कि कहीं मेरा करियर खत्मद ना हो जाए, क्योंाकि बाकी स्टाार मुझसे बहुत ज्या दा मेहनत करते थे। मुझे उस समय सबसे ज्या दा डर महसूस हुआ, जब मेरी जगह किसी और स्पोर्ट्स एंकर को जगह दे दी गई। लोग मुझसे सवाल पूछते थे कि तुमने क्रिकेट कमेंटटर की जॉब क्यों छोड़ दी। मुझे ये बात अपनाने में काफी समय लगा कि मैंने जॉब नहीं छोड़ी, बल्कि मुझे चेंज कर दिया गया था।

1999 में डायरेक्टसर राज कौशल से मंदिरा ने शादी की और 12 साल बाद मंदिरा ने एक बेटे को जन्मथ दिया। शादी के इतने साल बाद प्रेग्नेंकसी के सवाल पर उन्होंोने बताया कि जब मैं 39 साल की थी तब मैंने एक बेटे को जन्म दिया। मुझे डर था कि अगर मैं प्रेग्नेंट हो गई तो मेरा करियर खत्म हो जाएगा, लेकिन इसमें परिवार ने मेरा पूरा साथ दिया।

शेयर करें

मुख्य समाचार

hongkong

हांगकांग ‘लोकतंत्र अधिनियम’ पारित, चीन ने दी कड़ी प्रतिक्रिया

वाशिंगटन : हांगकांग में लोकतंत्र समर्थक प्रदर्शनकारियों की मांग वाले एक विधेयक को अमेरिकी प्रतिनिधि सभा ने मंगलवार को पारित कर दिया, जिसका उद्देश्य उस आगे पढ़ें »

रतन टाटा खुद को मानते हैं ‘एक्सीडेंटल स्टार्टअप निवेशक’, कई बड़ी कंपनियों में है हिस्सेदारी

नई दिल्ली : उद्योगपति और टाटा समूह के चेयरमैन रतन टाटा ने खुद को 'एक्सीडेंटल स्टार्टअप निवेशक' माना है। उन्होंने दर्जनभर से ज्यादा स्टार्टअप कंपनियों आगे पढ़ें »

court

अयोध्या मामले पर सुप्रीम कोर्ट ने 40 दिन की सुनवाई के बाद फैसला सुरक्षित रखा

ayodhya

अयोध्या मामला : मुस्लिम धर्मगुरुओं ने कहा, शीर्ष न्यायालय के फैसले को स्वीकार किया जाना चाहिए

अमेरिकी प्रतिबंधों के पालन के लिए भारत अपना नुकसान नहीं करेगा: वित्त मंत्री

russia

तुर्की और सीरिया की लड़ाई में रूस बना दीवार, तैनात की अपनी आर्मी

sitaraman

अनुच्छेद 370 को हटाए जाने के बाद ‘मानवाधिकार’ विश्व स्तर पर ज्वलंत शब्द बन गया : सीतारमण

chetak

बजाज ने पेश किया इलेक्ट्रिक चेतक स्कूटर, सामने आया पहला लुक

rail

रेलवे ने शुरू की नई योजना, अब फिल्म प्रमोशन के लिए हो सकेगी ट्रेनों की बुकिंग

modi

पीएम मोदी बोले- राष्ट्र निर्माण का आधार है सावरकर के संस्कार

ऊपर