मेष राशिफल 1 दिसम्बर से 7 दिसम्बर

aries-daily-horoscope

मेष राशि वाले ऐसे होते हैं (जिनके नाम का पहला अक्षर हो – चू, चे, चो, ला, ली, लू, लो, ले, अ) : उत्सुक, मजेदार और उग्र मेष राशि वाले जब अपना मन बना लेते हैं, तो कुछ भी उन्हें रोक नहीं सकता या उनके रास्ते में नहीं आ सकता, वे जो ठानते हैं, करके रहते हैं। मेष राशि का स्वामी मंगल होता है। मंगल जीवन में पराक्रम और उत्साह का कारक होता है। यही कारण है कि इस राशि के जातक जीवन की नई ऊर्जा से भरे हुए रहते हैं। मेष राशि का व्यक्तित्व उग्र निर्भीकता और कोमल संवेदनशीलता का सच्चा मिश्रण है।

इस राशि के अधिकतर जातकों में यह बात सबसे आम है कि ये जोखिम उठाने वाले होते हैं। इन्हें खतरों से कोई डर नहीं लगता। लोगों की परवाह किये बगैर इस राशि के लोग अपने उद्देश्यों की पूर्ति करते हैं। निराशा और गुस्से को जल्दी भूल भी जाते हैं और इनकी मासूमियत लोगों को आकर्षित करती है। ये सीखने के प्रति काफी जागरुक होते हैं और इसी वजह से ये बहुमुखी प्रतिभा वाले होते हैं। मेष राशि के लाेग अंत तक अपने दोस्तों का साथ नहीं छोड़ते। ये अपनी क्षमता से ज्यादा ग्रहण कर लेते हैं पर किसी कार्य या प्रोजेक्ट पर लंबे समय तक टिक नहीं पाते। यदि ये धीरज रखना और कूटनीति सीख लें तो ये अनोखे नेता बन सकते हैं।

मेष राशिफल

दैनिक राशिफल: दिन खर्च प्रधान बने रहने की आशा है, मन में कभी-कभी खिन्नता का अनुभव कर सकते हैं, तनाव से बचें, धैर्य से काम लें।
साप्ताहिक राशिफल: कर्मक्षेत्र, अर्थक्षेत्र एवं सामाजिक क्षेत्र में अगर आप अपनी नीति को स्पष्ट बनाते हुए चलते रहें तो प्रगति निश्चित है छोटे-छोटे स्वाभाविक खर्च संभव हैं जिससे कोई कठिनाई पैदा शायद ही हो। अनुकूलता ज्यादा रहेगी जिससे समस्या का अुनभव कम होगा। यद्यपि समस्याएं प्राय: कम रहेंगी। कानूनी बातों में सतर्कता बनाए रखें। दिनांक 1 को मनोरंजन, 2 को प्रगति, 3 को लाभ, 4 को सहयोग, 5 को प्रगति, 6 को हैरानी, 7 को खर्च। मेष लग्न के लिए सप्ताह उन्नतिकारक रहेगा। शुभ दिन 2 से 4 दिसंबर एवं शुभांक 1-4-7।
वार्षिक राशिफल 2019: वर्ष घटना प्रधान रहने की सम्भावना रहेगी। आरम्भ के तीन महीने अर्थात् जनवरी से मार्च तक का चौथाई समय प्राय: अनुकूल रहते हुए भी एैसा कोई सहज मार्ग देने में समर्थ नहीं होगा जिसमें हम नई सम्भावनाओं को तलाश सकें। आर्थिक पक्ष खर्च के दबाव में रहेगा, फिर भी अभाव का अनुभव होगा। पारिवारिक और सामाजिक क्षेत्र को कोई नई दिशा देने में सफलता मिलेगी। विशेषत:फरवरी आशानुरूप प्रगति कारक रहने का समय होगा। इस अवधि में मानसिक दबाव प्राय: नहीं रहेगा और सहयोग की कमी नहीं रहेगी।मांगलिक कार्य का आनन्द प्राप्त कर सकते हैं। वर्ष का मध्य भाग अर्थात् अप्रैल, मई और जून कुछ नई समस्याआें के बीच झूलता रहेगा। इस अवधि में स्वयं को जितना संयत रखा जाय और किसी प्रकार के विवाद से अलग रहकर काम करते रहा जाय तो संभावित कानूनी व्यय से बचा जा सकता है। कर्मक्षेत्र में बार- बार रुकावटें, स्वास्थ्य की समस्या और लेन- देन में व्यवधान बनते रहना संभव है। वादों को कर्मक्षेत्र और अर्थक्षेत्र से अलग रखना ही अच्छा रहेगा।इस समय अपना विश्लेषण करना साथ ही अपनी क्षमता और बाहरी सहयोग का आकलन करते रहना समस्याआें से बचाता रहेगा। राजनीति में काम करने वाले अधिक सावधानी बरतें और अपना रहस्य किसी भी स्थिति में प्रकट न करें। उद्योग-व्यवसाय से जुड़े लोग कठिनाई का अनुभव कर सकते है। जुलाई, अगस्त और सितंबर की तीसरी तिमाही अनुकूलता प्रतिकूलता के बीच ही रहेगी और स्थिति को सामान्य बनाये रखेगी। इस अवधि में आवश्यक काम शीघ्रता से पूरा करने की चेष्टा जरूरी होगी और अपने लक्ष्य और मार्ग का सही निर्वाचन हमेशा करते रहना होगा।वर्ष की अंतिम तिमाही अर्थात् अक्टूबर, नवंबर और िसतंंबर की अवधि उत्साह जगाने में तत्पर रहेगी। आप नया काम, स्थान परिवर्तन, जमीन- जायदाद की खरीद- बिक्री में लाभवान रहेंगे। बुद्धिजीवी और कामकाजी महिलाएं प्रसन्न रह सकती हैं। विद्यार्थी अच्छा परिणाम परिश्रम से प्राप्त कर सकते हैं। मेष लग्न के लिए वर्ष मिश्रित परिणाम दे सकता है। अनुकूल परिणाम के लिए प्रत्येक मंगलवार को हनुमानजी को पांच लड्डू, 21 हनुमान चालीसा का पाठ करते हुए चढ़ाएं। वर्ष भाग्यांक 3, 5 और 9
शेयर करें

मुख्य समाचार

ऊपर