अयोध्या पर फैसले से पहले उत्तर प्रदेश में नेपाल के रास्ते घुसे 7 आतंकी

police alert in up

नई दिल्ली : जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाए जाने के बाद से ही आतंकवादी समूह लगातार घाटी की शांति भंग करने की कोशिश मेें हैं। वहीं दूसरी ओर अब अयोध्या फैसले को लेकर भी आतंकी हमले की आशंका जताई जा रही है। अयोध्या जमीन विवाद पर आने वाले फैसले से पहले उत्तर प्रदेश में बड़ी आतंकी हमले का संकट मंडरा रहा है। खुफिया सूत्रों के अनुसार, 7 आतंकियों का एक दल नेपाल के रास्ते उत्तर प्रदेश में घुसपैठ कर चुका है। आतंकियों के इस समूह में कई पाकिस्तानी आतंकी भी शामिल हैं। इन आतंकियों के अयोध्या और गोरखपुर में छिपे होने की आशंका है।

7 आतंकवादियों ने पार किया बॉर्डर

खुफिया सूत्रों ने बताया है कि खुफिया विभाग को 7 आतंकियों के एक बड़े समूह की नेपाल के रास्ते उत्तर प्रदेश में घुसने का इनपुट मिला है। शीर्ष न्यायालय से राम मंदिर पर फैसला आने से पहले खुफिया एजेंसीज इस इनपुट को काफी गंभीरता से ले रही हैं। जिसके बाद उत्तर प्रदेश में आतंकी हमले का अलर्ट जारी किया गया है। साथ ही भारत-नेपाल सीमा पर हर आने-जाने वालों पर नजर रखी जा रही है। इसके साथ ही नेपाल सीमा पर पहरा (पेट्रोलिंग) बढ़ा दिया गया है। इतना ही नहीं काशी, मथुरा, अयोध्या और पुलिस प्रशिक्षण केंद्र की सुरक्षा बढ़ाने का भी निर्देश जारी किया गया है।

आतंकियों के अयोध्या और गोरखपुर में होने की जानकारी

7 आतंकियों मेें से 5 आतंकियों की पहचान हो चुकी है। मोहम्मद याकूब, अबू हमजा, मोहम्मद शाहबाज, निसार अहमद और मोहम्मद कौमी चौधरी। इन आतंकियों के अयोध्या और गोरखपुर में होने की जानकारी मिली है। वहीं अंतरराष्ट्रीय दबाव से खुद को बचाने के लिए लश्कर-ए-तैयबा ने अपना नाम बदल कर आल इंडिया लश्कर-ए-तैयबा रखा है।

अदालत ने सुरक्षित रखा फैसला

बता दें कि 40 दिन तक चली लंबी सुनवाई के बाद अब अयोध्या जमीन विवाद पर फैसले का इंतजार है। 17 नवंबर से पहले कभी भी सुप्रीम कोर्ट का फैसला आने की उम्मीद जताई जा रही है। शीर्ष न्यायालय में आखिरी दिन बुधवार को सुनवाई के दौरान तमाम पक्षकारों के वकीलों ने अपनी-अपनी राय दी। जिसके बाद अदालत ने सभी पक्षों की दलीलें सुनी और फैसला सुरक्षित रख लिया है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

एलईडी रोशनी का उपयोग कर भव्य तरीके से सजाया जाएगा कपिल मुनि मंदिर

सन्मार्ग संवाददाता,कोलकाता : सब तीरथ बार-बार गंगासागर एक बार...इसी सोच के साथ हर साल लाखों की संख्या में श्रद्धालु गंगासागर मेले में डूबकी लगाने आते आगे पढ़ें »

गंगासागर मेला में स्‍‌थापित की जाएगी मां गंगा की प्रतिमा

दक्षिण 24 परगना : गंगासागर मेला में मां गंगा की प्रतिमा लगाने की तैयारी जोरों से चल रही है। वहीं मेेले में महर्षि कपिल मुनि, आगे पढ़ें »

ऊपर