2020 तक 84 अतिसंवेदनशील और संवेदनशील एयरपोर्ट पर बॉडी स्कैनर लगाए जाएंगे

नई दिल्ली: नागर विमानन सुरक्षा ब्यूरो (बीसीएएस) ने सभी एयरपोर्ट को अप्रैल में एक सर्कुलर भेजा। इसके मुताबिक केंद्र के द्वारा देशभर के 84 हवाई अड्डों को निर्देशित किया गया है कि मार्च 2020 तक यात्रियों की जांच के लिए बॉडी स्कैनर लगाए जाएं। इसके बाद जांच के लिए लगाए गए मैटल डिटेक्टर डोर हटाए जा सकेंगे। बीसीएएस के इस सर्कुलर के मुताबिक, हवाई अड्डों पर बॉडी स्कैनर के उपयोग के दौरान सुरक्षाकर्मियों को स्टैंडर्ड ऑपरेटिंग प्रक्रिया का पालन करना होगा।

जांच के दौरान जनरेट होगी ग्राफिक्स इमेज

स्कैन मशीन जांच के दौरान बॉडी की एक ग्राफिक्स इमेज जनरेट करेगी। इसमें संदिग्ध वस्तुएं पीले रंग के स्पॉट से पहचानी जाएंगी। स्कैनर से गुजरने से पहले यात्रियों को मोजे, जैकेट्स, मोटे कपड़े, बेल्ट जैसी चीजें निकालनी पड़ेंगी।

-सर्कुलर के मुताबिक यह स्कैनर मिलिमीटर वेव टेक्नोलॉजी पर आधारित हैं। यह सभी यात्रियों के लिए सुरक्षित है। गर्भवती महिलाओं को भी इससे कोई नुकसान नहीं होगा।

-एक रिपोर्ट के मुताबिक, देश में 105 ऑपरेशनल एयरपोर्ट्स हैं। इनमें 28 अतिसंवेदनशील हैं। यह दिल्ली, मुंबई, कोलकाता, चेन्नई के अलावा जम्मू और कश्मीर में हैं। 56 हवाई अड्डे संवेदनशील श्रेणी में हैं।

-अतिसंवेदनशील और संवेदनशील एयरपोर्ट पर 2020 तक बॉडी स्कैनर लगाए जाने के निर्देश दिए गए हैं। बाकी हवाई अड्डों पर भी मार्च 2021 तक स्कैनर लगाए जाने की बात कही गई है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

टेनिस स्टार कोको गॉफ ने नस्लवाद का विरोध जताया

न्‍यूयार्क : सबसे कम उम्र में विंबलडन के लिए क्वालिफाई करने वाली अमेरिका की टेनिस स्टार कोको गॉफ ने नस्लवाद के खिलाफ विरोध जताया है। आगे पढ़ें »

खेल रत्‍न के लिए रोहित शर्मा और अर्जुन पुरस्‍कार के लिए की धवन के नाम की सिफारिश

नयी दिल्ली : पिछले साल एक दिवसीय विश्व कप में पांच शतक लगाने के साथ शानदार प्रदर्शन करने वाले भारतीय उपकप्तान रोहित शर्मा की बीसीसीआई आगे पढ़ें »

ऊपर