महिलाओं में बढ़ रहा है वजायनल स्टिमिंग का चलन, नुकसान भी जान लीजिए

नई दिल्ली : आजकल महिलाओं में वजाइनल स्टीमिंग का ट्रेंड तेजी बढ़ रहा है। फीमेल प्राइवेट पार्ट को टाइट और यंग लुक के लिए महिलाएं वजाइनल स्टीमिंग का सहारा ले रही हैं। इसमें वजाइना को साफ करने के लिए स्टीम ली जाती है, इससे फीमेल प्राइवेट पार्ट हेल्दी भी रहता है। इस प्रोसेस को वी-स्टीमिंग या फिर योनी स्टीमिंग भी कहा जाता है।

हालांकि कुछ रिपोर्ट्स कहते हैं कि इस स्टीम की वजह से फीमेल प्राइवेट पार्ट को काफी नुकसान हो रहा है। हाल ही में कनाडा की एक महिला को इससे सेकंड डिग्री बर्न हो गया। वह महिला घर पर ही वजाइनल स्टीमिंग ले रही थी, जिससे उसे सेकंड डिग्री बर्न हो गया और उसके प्राइवेट पार्ट में फफोले पड़ गए।

हालांकि कुछ मेडिकल रिपोर्ट्स कहते हैं कि वजाइनल स्टीमिंग के कई फायदे भी हैं, जिनमें इन्फर्टिलिटी से लेकर पीरियड के दौरान होने वाली कई परेशानियाँ इससे दूर होती हैं, लेकिन इसे लेते वक्त सावधानी जरूरी है। इस प्रक्रिया को आजमाने से पहले गाइनैकॉलजिस्ट से सलाह ले लें, फीमेल प्राइवेट पार्ट बेहद सेंसिटिव जगह होती है और इससे जलने का खतरा हो सकता है।

 

 

शेयर करें

मुख्य समाचार

दिल्ली के उपराज्यपाल ने दुनिया के सबसे बड़े कोविड केंद्र का उद्घाटन किया

नई दिल्ली : दिल्ली के उपराज्यपाल अनिल बैजल ने रविवार को राधा स्वामी सत्संग ब्यास में 10,000 बिस्तर वाले सरदार पटेल कोविड देखभाल केंद्र का आगे पढ़ें »

कोविड-19 संकट से निपटना महाराष्ट्र सरकार की प्राथमिकता है: आदित्य ठाकरे

ठाणे : कोविड-19 संकट से निपटने को लेकर विपक्ष द्वारा महाराष्ट्र सरकार की आलोचना को नजरअंदाज करते हुए राज्य के मंत्री आदित्य ठाकरे ने कहा आगे पढ़ें »

ऊपर