भारत की हार पर जश्न मनाने वालों को सारी सुविधाओं से किया जाए वंचित, भूखे मरेंगे -विज

अम्बाला : ‌अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद् (आईसीसी) विश्व कप 2019 के पहले सेमीफाइनल मैच में भारतीय टीम को मिली हार के बाद जहां सारा देश गम में डूबा था वहीं कश्मीर के श्रीनगर और पुलवामा में कुछ देश विरोधी लोग खुशियां मनाते नजर आएं। इस दौरान लोगों ने वहां पर पटाखे फोड़े और सड़कों पर जमकर जश्न मनाया। इस जश्न पर हरियाणा के स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने कड़ी प्रतिक्रिया दी है।
विज ने अपने ट्वीटर अकाउंट पर लिखा…
अक्सर अपने बयानों को लेकर चर्चा में रहने वाले विज ने अपने आधिकारिक ट्वीटर अकाउंट पर लिखा कि “भारत के विश्व कप में हार जाने पर कश्मीर में पटाखे और आतिशबाजी चलाकर खुशियां मनाने वालों को सारी सुविधाओं से वंचित कर देना चाहिए। जब वे भूखे मरेंगे तो अक्ल ठिकाने आ जाएगी।”
अलगावादी नेता ने भी किया ट्वीट
बता दें कि सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हो रहा है। इस वीडियो में देश विरोधी कुछ लोग जश्न मनाते हुए और भारत की हार पर बोलते हुए नजर आ रहे हैं। विश्व कप में भारतीय टीम के हारने पर अलगाववादी नेता सैय्यद अली शाह गिलानी ने भी ट्वीट किया जिसमें इस जश्न का वीडियो शेयर किया गया है। वहीं पाकिस्तान में इमरान खान सरकार में मंत्री फवाद हुसैन भी इससे अछूते नहीं रहे हैं। उन्होंने भी ट्वीट कर न्यूजीलैंड को बधाई दी है। यहां तक की उन्होंने न्यूजीलैंड को पाकिस्तानी क्रिकेट फैन्स की नई मोहब्बत और पसन्द बताया है।
शीर्ष क्रम रही नाकाम
बता दें कि विश्व कप का पहला सेमीफाइनल भारत और न्यूजीलैंड के बीच मैनचेस्टर के ओल्ड ट्रैफर्ड मैदान में खेला गया था। इस मैच में न्यूजीलैंड ने पहले बल्लेबाजी करते हुए भारत के सामने 240 रनों का लक्ष्य रखा। लक्ष्य का पीछा करने उतरी भारतीय टीम की शुरुआत बहुत खराब रही क्योंकि शीर्ष क्रम के बल्लेबाज ठीक से शुरूआत भी नहीं कर सके और सस्ते में ही चलते बने। न्यूजीलैंड के गेंदबाजों ने शानदार गेंदबाजी का प्रदर्शन करते हुए भारत को 18 रन से हरा दिया।

शेयर करें

मुख्य समाचार

imran

एफटीएफ में अलग-थलग पड़ा पाकिस्तान, डार्क ग्रे सूची में डाले जाने का डर

पेरिस : पाकिस्तान पर आतंकी वित्तपोषण की निगरानी संस्था फाइनेंशियल एक्शन टास्क फोर्स (एफएटीएफ) कड़े प्रतिब्रध लगा सकती है। रिपोर्टस के मुताबिक, आतंकवाद पर कड़ी आगे पढ़ें »

जीएसटी के दायरे में आ सकता है पेट्रोल डीजल

नई दिल्ली : केंद्रीय पेट्रोलियम मंत्री धर्मेन्द्र प्रधान ने फाइनेंस मिनिस्टमर निर्मला सीतारमण से पेट्रोल, डीजल समेत सभी पेट्रो उत्पा्दों को जीएसटी के दायरे में आगे पढ़ें »

ऊपर