ट्रंप ने महिला सांसदों पर कसा नस्लभेदी तंज, कही यह बात…

American congress female MPs,

वॉशिंगटन : अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने रविवार को 4 प्रजातंत्रवादी महिला सांसदों पर नस्लीय तंज कसते हुए कहा कि वे जिस देश से आती हैं, उन्हें वहीं लौट जाना चाहिए। हालांकि ट्रंप ने किसी भी महिला सांसद का नाम नहीं लिया। ट्रंप के इस बयान को अमेरिका में रह रहे कई प्रजातियों के लोगों एवं प्रवासियों पर खतरे के रूप में देखा जाने लगा है।
ट्वीट कर ट्रंप ने कहा
ट्रम्प ने अपने ट्वीट में चारों महिला सांसदों को ‘प्रोग्रेसिव डेमोक्रेट कांग्रेस वुमन्स’ करार दिया। इन महिला सांसदों में न्यूयॉर्क की अलेक्जेंड्रिया ओकासियो-कॉर्तेज, मिनेसोटा की इल्हान उमर, मिशिगन की रशीदा तलैब और मैसाच्युसेट्स की अयाना प्रेसले शामिल हैं। मालूम हो कि ये चारों महिलाएं पहली बार अमेरिकी कांग्रेस (संसद) की सदस्य बनी हैं।
सांसदों के सरकारों पर भ्रष्टाचार के आरोप
ट्रम्प ने कहा कि “जिन देशों से इन महिला सांसदों का रिश्‍ता है, वहां की सरकारों पर भ्रष्टाचार के आरोप हैं। उन सरकारों को दुनिया में हर जगह अयोग्य करार दे दिया गया है। ये महिला सांसद अमेरिकी लोगों को भड़काने का काम कर रही हैं। जबकि हमारा देश धरती पर सबसे महान और ताकतवर है।” ट्रम्प ने यह भी कहा कि “वे (सांसद) अपने देश ही क्यों नहीं चली जातीं। उन्हें अपनी सरकार को पूरी तरह बर्बाद करने में मदद करनी चाहिए। उन्हें वहां दंगाग्रस्त क्षेत्रों में जाकर वास्तविकता देखनी चाहिए। इसके बाद वे अमेरिका आकर बताएं कि उन्होंने ये सब कैसे किया।” हालांकि ट्रम्प ने इस दौरान किसी महिला सांसद का नाम नहीं लिया, लेकिन ये जरूर कहा कि वे बेलगाम जुनून के साथ वे इजराइल से नफरत करती हैं।” ट्रंप के इस बयान से साफ था कि उनका इशारा इल्हान उमर और रशीदा तलैब की तरफ था।
पहले भी ट्रंप ने लगायी तंज की झड़ियां
एक रिपोर्ट के अनुसार ट्रम्प पहले भी नस्लीय तंजों की झरियां लगा चुके हैं। पिछले वर्ष उन्होंने अफ्रीकी देशों को बकवास करार दिया था। साथ ही ये कहा था कि “वहां से लोग सिर्फ प्रवासी बनकर ही आते हैं। ट्रम्प ने यह भी कहा था कि पूर्व राष्ट्रपति बराक ओबामा अमेरिका में पैदा नहीं हुए, कानून के हिसाब से उन्हें तो राष्ट्रपति बनने का अधिकार नहीं है।”
गौरतलब है कि अमेरिका में वर्ष 2020 में राष्ट्रपति चुनाव होने वाले हैं। ऐसे में ट्रम्प के नस्लीय बयान उनके वोटों पर असर डाल सकते हैं।

शेयर करें

मुख्य समाचार

chidambaram

चिदंबरम हो सकते हैं गिरफ्तार, हाईकोर्ट ने खारिज की अग्रिम जमानत याचिका

नई दिल्ली : दिल्ली उच्च न्यायालय ने कांग्रेस नेता एवं पूर्व केंद्रीय मंत्री पी चिदंबरम को आईएनएक्स मीडिया घोटाले से जुड़े भ्रष्टाचार और मनी लॉन्ड्रिंग आगे पढ़ें »

सोने का भाव बढ़कर नये रिकार्ड पर पहुंचा

नयी दिल्लीः आभूषण कारोबारियों की सतत लिवाली से वैश्विक बाजारों में कमजोरी के रुख के बावजूद दिल्ली सर्राफा बाजार में मंगलवार को सोने का भाव आगे पढ़ें »

ऊपर