एयर इंडिया ने पर्स चोरी के आरोपी क्षेत्रीय निदेशक को निलंबित किया

नयी दिल्ली : एयर इंडिया ने सिडनी हवाई अड्डे पर एक कर मुक्त (ड्यूटी-फ्री) दुकान से कथित तौर पर पर्स (बटुअा) चोरी के मामले में कार्रवाई की है। उसने इस मामले के आरोपी पूर्वी क्षेत्र (इस्ट जोन) के अपने क्षेत्रीय निदेशक (रीजनल डायरेक्टर) को निलंबित कर दिया है। अधिकारियों ने रविवार को रोहित भसीन को निलंबित किए जाने की जानकारी दी है। साथ ही यह भी बताया कि भसीन के एयर इंडिया परिसर में प्रवेश करने पर रोक लगने के अलावा, आदेश में उन्हें अपना पहचान पत्र जमा कराने का भी निर्देश दिया गया है।
घटना की जांच प्रारंभ की गई
इस संबंध में एयर इंडिया (एआई) के एक प्रवक्ता ने कहा है कि ‘‘प्रारंभिक रिपोर्ट के मुताबिक एक कैप्टन मिस्टर रोहित भसीन सिडनी में एक कर मुक्त दुकान से बटुआ चोरी करते पकड़े गये। भसीन क्षेत्रीय निदेशक भी हैं। एयर इंडिया ने इस घटना की जांच प्रारंभ कर दी है और तब तक कैप्टन को निलंबित कर दिया गया है।’’
सिडनी में हुई थी घटना
प्रवक्ता ने कहा, ‘‘यह घटना सुबह 6.30 बजे के आस-पास सिडनी में हुई थी और सिडनी-दिल्ली उड़ान के शाम करीब 7.30 बजे हवाई अड्डे पर उतरने के साथ ही कैप्टन को निलंबित करने का आदेश थमा दिया गया था। बहुत तेज और अनुकरणीय कार्रवाई की गई है।’’
आदेश में यह कहा गया है
एयर इंडिया द्वारा शनिवार को जारी निलंबन आदेश में कहा गया, ‘‘ऑस्ट्रेलिया के क्षेत्रीय प्रबंधक द्वारा दी गई रिपोर्ट के मुताबिक आपने सिडनी हवाई अड्डे पर 22 जून, 2019 को उड़ान एआई- 301 के प्रस्थान से पहले एक ड्यूटी फ्री दुकान से कथित तौर पर सामान चुराने की हरकत की है।’’ साथ ही यह भी कहा गया कि ‘‘आपके खिलाफ किसी भी अनुशासनात्मक कार्रवाई के शुरू करने और जांच पूरी होने तक आपको तत्काल प्रभाव से निलंबित किया जाता है।’’

गौरतलब है कि भसीन को एआई-301 विमान के एक कमांडर (पायलट) के तौर पर तैनात किया गया था। उनका विमान 22 जून की सुबह 10.45 बजे (स्थानीय समय) सिडनी हवाई अड्डे से दिल्ली के लिए प्रस्थान करने वाला था।

शेयर करें

मुख्य समाचार

Jagdip Dhankhar

धनखड़ के खिलाफ विधान सभा से संसद तक मोर्चाबंदी

कोलकाता : ऐसा पहली बार हुआ है जब विधानसभा में सत्ता पक्ष ने धरना दिया। कारण थे राज्यपाल जगदीप धनखड़, जिन पर विधेयकों को मंजूरी आगे पढ़ें »

मेरे कंधे पर बंदूक रखकर चलाने की को​शिश न करें – धनखड़

कोलकाता : राज्यपाल जगदीप धनखड़ और तृणमूल सरकार के बीच संबंधों में मंगलवार को और खटास आ गयी जब उन्होंने ‘कछुए की गति से काम आगे पढ़ें »

ऊपर