इन आसान तरीकों से करें बॉडी को डीटोक्स

नई दिल्ली : भारतीय पर्व त्योहारों में तला – भुना खाना आम है, जिससे मोटापा एसिडिटी और गैस जैसी समस्या बढती है. इससे शरीर में गंदगी भी इकट्ठी हो जाती है, जिसे कुछ आसन तरीकों से डीटोक्स कर सकते हैं। पर्व त्यौहार में बनने वाले केक, मिठाइयां, नमकीन बहुत स्वादिष्ट होती हैं, लेकिन बहुत ज्यादा नमक और चीनी का सेवन बॉडी को टॉक्सिक बनाता है। जिससे कई तरह की बीमारियों के होने की संभावना बढ़ जाती है। फेस्टिवल के बाद आमतौर पर लोग एसिडिटी, गैस, ब्लोटिंग और मोटापे से परेशान देखे जाते हैं, लेकिन फेस्टिवल के बाद बॉडी को बेहद आसान तरीकों से डिटॉक्सीफाई कर सकते हैं…

डिटॉक्स डाइट लीजिये
डाइट में फाइबरयुक्त साबुत अनाज जैसे ओट्स, दलिया, गेहूं, फ्रूट्स, वेजिटेबल्स, सलाद, स्प्राउट्स जैसी चीजें लें। एंटीऑक्सीडेंट्स से भरपूर ये चीजें प्राकृतिक तरीके से बॉडी को डिटॉक्सीफाई करती हैं। साबुत अनाज में मौजूद फाइबर बॉडी में फैट को जमा होने से रोकते हैं।

पिएं हर्बल टी
हर्बल चाय एंटीऑक्सीडेंट्स से भरपूर है, जिससे शरीर के अन्दर गंदगी आसानी से दूर हो जाती है। कुछ दिनों तक रोजाना सुबह ग्रीन टी पीने की आदत डालें। डिटॉक्सीफाई करने के साथ ही ग्रीन टी स्किन के लिए भी बहुत ही फायदेमंद होती है।

पानी पिएं
बॉडी को डिटॉक्सीफाई करने का सबसे बेहतर तरीका पानी है। रोज कम से कम 3 लीटर पानी पिएं। पानी के अलावा बटरमिल्क, सूप, जलजीरा, कोकोनट वॉटर का भी सेवन करें।

वर्कआउट
वर्कआउट से निकलने वाला पसीना बॉडी की गन्दगी निकाल देता है। डाइजेस्टिव सिस्टम को सही रखने के लिए भी वर्कआउट कारगर होता है। वॉकिंग, जॉगिंग, डांसिंग, योग कर सकते हैं। रोज कम से कम 30 मिनट का वर्कआउट जरूर करें।

शेयर करें

मुख्य समाचार

मधुमेह के लक्षण, इलाज और घरेलू उपचार

हमारी बिगड़ती जीवनशैली के कारण हमारा शरीर कई बीमारियों का घर बन गया है। इन्हीं बीमारियों में से एक है डाइबिटीज़ यानी मधुमेह। डाइबिटीज़ भले आगे पढ़ें »

चेहरे के कई हिस्सों में होते हैं वाइटहेड्स, जानिए क्या है कारण

नई दिल्ली : चेहरे के वाइटहेड्स बहुत खराब लगते हैं। ये चेहरे के किसी भी हिस्से पर हो सकते हैं। आम तौर पर लोग वाइटहेड्स आगे पढ़ें »

ऊपर