‘कोरोना कर्फ्यू में रियायत का मतलब लापरवाही की छूट नहीं’

लखनऊ : उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रदेश के अधिकतर जिलों में कोरोना कर्फ्यू में छूट के दौरान लोगों द्वारा लापरवाही बरतने पर नाराजगी जाहिर करते हुए बुधवार को कहा इस रियायत का मतलब ‘लापरवाही’ की छूट होना नहीं है। राज्य सरकार के एक प्रवक्ता ने यहां बताया कि मुख्यमंत्री ने बैठक में कहा कि ”कोरोना कर्फ्यू से छूट का आशय लापरवाही की छूट होना नहीं है। कई जिलों में लोगों के मास्क न लगाने, बाजारों में अनावश्यक भीड़, सामाजिक दूरी का पालन न करने जैसी जानकारी मिली है। यह स्थिति किसी के लिए भी अच्छी नहीं है।” उन्होंने कहा कि कोरोना महामारी के खिलाफ लड़ाई जीतने के लिए हर एक नागरिक का सहयोग आवश्यक है। उन्होंने कहा ‘‘पुलिस प्रशासन को सक्रियता बढ़ाने की जरूरत है। लोगों को जागरूक भी करें, साथ ही गश्त, निरीक्षण और जरूरत पड़ने पर दंडात्मक कार्रवाई भी की जानी चाहिए। सभी जिलाधिकारी एवं पुलिस अधीक्षक शासन द्वारा जारी आदेशों का प्रतिबद्धतापूर्वक अक्षरश: पालन सुनिश्चित कराएं।’’ योगी ने हिदायत दी कि कोरोना कर्फ्यू से जुड़े नियमों का कड़ाई से पालन कराया जाए।

शेयर करें

मुख्य समाचार

उत्तर बंगाल के जातीय संगठनों ने भाजपा सांसद के बयान से खुद को किया अलग

कोलकाता : पिछले कई दशकों में उत्तर बंगाल को पृथक राज्य बनाने को लेकर आंदोलन का नेतृत्व करने वाले कई जातीय समूह ने क्षेत्र के आगे पढ़ें »

सारदा चिट फंड : हाई कोर्ट ने तलब की श्यामल सेन रिपोर्ट

बनी निवेशकों को उनकी रकम वापस मिलने की उम्मीद सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : हाई कोर्ट के एक्टिंग चीफ जस्टिस राजेश बिंदल और जस्टिस अरिजीत बनर्जी के डिविजन आगे पढ़ें »

ऊपर