येचुरी का सरकार पर आरोप, कश्मीरी अपने ही घरों में कैद हैं

Yechury accuses government, Kashmiris are imprisoned in their own homes

नई दिल्‍ली : जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाये जाने का मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी (माकपा) के महासचिव सीताराम येचुरी ने विरोध किया है। उन्होंने इस कार्रवाई को लेकर सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा कि कश्मीर के लोगों को उनके ही घरों में कैद कर दिया गया है। येचुरी ने सोमवार को सरकार को आगाह किया कि जम्मू कश्मीर के दर्जे में बदलाव का असर विशेष दर्जा प्राप्त अन्य राज्यों में महसूस किया जाएगा। येचुरी ने लोगों को ईद उल अजहा (बकरीद ) के अवसर पर बधाई देते हुए कहा कि उन्हें अब तक कश्मीर में अपने सहयोगियों की स्थिति के बारे में कोई जानकारी नहीं है।

श्रीनगर जाने की नहीं मिली थी इजाजत

दरअसल, येचुरी शुक्रवार को श्रीनगर जाना चाहते थे लेकिन उन्हें इसकी इजाजत नहीं दी गई थी। इसपर प्रतिक्रिया देते हुए येचुरी ने ट्वीट किया, ‘‘ईद खुशी और जश्न का पर्व है और हम कश्मीर की जनता के साथ हैं जिन्हें उनके ही घरों में कैद किया गया है। हम अब भी नहीं जानते कि कश्मीर में हमारे कॉमरेड कहां और कैसे हैं।’’

बदलाव का असर अन्य राज्याें में महसूस किया जायेगा

माकपा महासचिव ने कहा कि ‘‘हमारा देश भाषाओं, धर्मों, संस्कृतियों और विचारों की विविधताओं वाला देश है और यही हमारी ताकत है। अलोकतांत्रिक तरीके से और बलपूर्वक जम्मू कश्मीर के दर्जे में बदलाव का असर विशेष दर्जे वाले अन्य राज्यों में महसूस किया जाएगा। हमें भूलना नहीं चाहिए कि ऐसे अधिकतर राज्य भारत की सीमा पर स्थित हैं।’’

गौरतलब है कि पिछले एक हफ्ते से कश्मीर में कोई भी अप्रिय घटना नहीं हुई है। ईद का पर्व शांतिपूर्वक मनाया जा रहा है। हालांकि, अब भी वहां इंटरनेट सेवा और फोन पर प्रतिबंध लगा हुआ है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

अमेरिका का बजट घाटा एक हजार अरब डॉलर के पार !

बजट कार्यालय ने व्यक्त किया अनुमान वाशिंगटनः अगले वित्त वर्ष में अमेरिका का बजट घाटा एक हजार अरब डॉलर के पार जाने की आशंका है। यह आगे पढ़ें »

new zealand speaker

न्यूजीलैंड : संसद में रो रहे बच्चे को स्पीकर ने पियाला दूध, लोगों ने की सराहना

वेलिंगटन : न्यूजीलैंड के संसद भवन में स्पीकर ट्रेवर मलार्ड ने एक सांसद के बेटे को दूध पिलाया। मालूम हो कि संसद भवन में आमतौर आगे पढ़ें »

ऊपर