दो मिनट में इस ट्रिक से आएगी नींद, युद्ध के दौरान अपनाते हैं सैनिक

कोलकाताः हर साल मार्च महीने के तीसरे शुक्रवार को वर्ल्ड स्लीप डे मनाया जाता है। इस दिन को मनाने का मकसद लोगों को नींद और सेहत के प्रति जागरूक करना है। कुछ लोग ऐसे होते हैं जिनको बिस्तर पर जाते ही नींद आ जाती है लेकिन कुछ लोग रात भर करवट बदलने के बाद भी जल्दी नहीं सो पाते हैं। अगर आपको भी बिस्तर पर जाने के बाद घंटों तक नींद नहीं आती है तो फिर नींद की मिलिट्री ट्रिक आपके काम आ सकती है। आइए जानते हैं इस ट्रिक के बारे में।
जल्दी नींद के लिए सेनाओं में एक खास सीक्रेट का इस्तेमाल किया जाता है जिससे दो मिनट के अंदर नींद आ जाती है। यह ट्रिक US आर्मी इस्तेमाल करती है। युद्ध के दौरान जब सैनिक सोने की कोशिश करते हैं तो ये ट्रिक उनके काफी काम आती है।
‘रिलैक्स ऐंड विन: चैंपियन परफॉर्मेंस’ नाम की किताब में इस सीक्रेट के बारे में जानकारी दी गई है। वैसे तो ये किताब  1981 में ही प्रकाशित हो चुकी है लेकिन Joe.co.uk वेबसाइट पर छपने के बाद पूरी दुनिया में ये ट्रिक फेमस हो गई।
कहा जाता है कि आर्मी चीफ ने यह तकनीक इसलिए बनाई थी ताकि थकान की वजह से सैनिकों से गलतियां ना होने पाएं। सैनिक पर्याप्त नींद ले सकें, इसके लिए इस ट्रिक का इस्तेमाल किया जाने लगा।
क्या है ट्रिक- इसके लिए अपने चेहरे की सभी मसल्स को रिलैक्स करें, जीभ, जबड़ा, आंखों के आस-पास की मांसपेशियां का तनाव दूर करें। अपने कंधों को जितना नीचे ले जा सकते हैं, ले जाएं। अपर और लोअर आर्म को भी नीचे ले जाएं। सांस बाहर छोड़ें, सीने और पैरों को रिलैक्स करें। इसके बाद 10 सेकेंड में अपने दिमाग से सभी चीजें निकालने की कोशिश करें। इन 2 तस्वीरों में से एक के बारे में सोचें- एक ये कि आप किसी शांत झील के किनारे लेटे हुए हैं और ऊपर बिल्कुल नीला आसमान है, बिल्कुल साफ और दूसरी तस्वीर कि आप एक अंधेरे कमरे में वेलवेट झूले में लेटे हुए हैं।
10 सेकेंड तक बार-बार ये दोहराते रहें- सोचो मत, सोचो मत, सोचो मत। एक रिपोर्ट के मुताबिक, 6 सप्ताह तक अभ्यास करने के बाद करीब 96 फीसदी लोगों के लिए यह ट्रिक कारगर साबित हुई। केवल आर्मी ही नहीं बल्कि नींद ना आने की समस्या से अधिकतर लोगों के कार्यक्षमता पर बुरा असर पड़ता है। नींद ना आने की वजह से टाइप-2 डायबिटीज, हार्ट डिजीज और ध्यान केंद्रित करने की क्षमता प्रभावित होने लगती है। नींद ना आने की समस्या से परेशान लोगों के लिए यह ट्रिक काफी राहत भरी हो सकती है। स्लीप एक्सपर्ट डॉक्टर नील स्टैनले के अनुसार अगर यह ट्रिक काम नहीं करती है तो एक मंत्र यह जान लें कि सोना है तो दिमाग को आराम और खाली करना ही होगा।
नींद लानी है तो आपको 3 चीजें करने की जरूरत है- बेडरूम और बिस्तर आरामदायक हो, बॉडी रिलैक्स हो और दिमाग शांत हो। अगर आपके दिमाग के घोड़े दौड़ रहे हैं तो आप किसी भी सूरत में सो नहीं सकते हैं। दिमाग की रफ्तार को कम करने के लिए आप कुछ भी करेंगे तो उससे नींद आने में मदद मिलेगी।
नींद लाने का कोई एक जादुई तरीका नहीं है, आपको खोजना होगा कि आपके लिए क्या काम कर रहा है, चाहे वह किताब पढ़ना हो, गर्म पानी से नहाना, एक चाय, एरोमाथेरेपी, गाने सुनना या फिर कोई और चीज जिससे आपको नींद आने में मदद मिलती हो, लेकिन सोने से पहले तनाव या उलझन बढ़ाने वाला कोई भी काम ना करें।
 

शेयर करें

मुख्य समाचार

मेरी लड़ाई किसी से नहीं, काम मेरी पहचान – फिरहाद हकीम

सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : पोर्ट विधानसभा चुनाव में मैं किसी को अपना प्रतिद्वंदी नहीं मानता हूँ। मेरी लड़ाई किसी से नहीं बल्कि मेरी खुद से है। आगे पढ़ें »

क्या आपको पता हैं न्यूड सोने के यह फायदे

नई दिल्ली : अगर आपसे सेहत को बेहतर रखने के तरीके अपनाने के बारे में कहा जाए तो बिना कपड़ों के यानी न्यूड होकर सोने आगे पढ़ें »

ऊपर