महिलाएं चाहती हैं सेक्स के दौरान पुरुष पार्टनर करें ये 7 काम, कभी …

कोलकाताः महिलाओं के लिए सेक्स के दौरान प्यार भरी बातें काफी मायने रखती हैं और वो चाहती हैं कि रिलैक्स होने के दौरान आप उनसे बात करें। अक्सर ऐसा होता है कि पुरुष ऑर्गेज्म पाने के बाद पार्टनर से अलग हो जाते हैं और बात नहीं करते हैं। दरअसल, महिलाओं के लिए प्यार भरी बातें एक आश्वासन की तरह होती है, जिससे उन्हें लगता है कि उसका साथी सिर्फ शारीरिक नहीं, बल्कि मानसिक रूप से भी उनके साथ है।
  • महिलाएं अक्सर अपने लुक को लेकर परेशान रहती हैं और उन्हें डर होता है कि धीरे-धीरे उनके पार्टनर का उनके प्रति आकर्षण कम हो जाएगा। इसलिए जब भी मौका मिले अपनी महिला साथी की तारीफ जरूर करें और उन्हें फील कराएं कि वह आपकी लाइफ में कितनी मायने रखती हैं। हम यह नहीं कह रहे हैं कि आप उनकी झूठी तारीफ करें, लेकिन इस बात का अहसास भी ना कराएं कि वह अट्रैक्टिव नहीं दिखती हैं।
  • पुरुष अक्सर सेक्सुअल एक्टिविटी को तनाव वाली चीजों से अलग रखते हैं, जबकि महिलाओं को संतोषजनक सेक्स के लिए अच्छी भावनाओं और अनुभवों की आवश्यकता होती है। बेड पर अच्छी फीलिंग और अनुभव न हों तो महिलाएं सेक्स को एन्जॉय नहीं कर सकती हैं। तो आप इस बात का ख्याल रखें कि बेड पर जाने से पहले किसी भी तरह से अपनी पार्टनर का दिल दुखाने से बचें।
  • पुरुष अक्सर मानते हैं कि एक अच्छा प्रेमी वहीं होता है, जो महिला को सेक्स के क्लाइमैक्स (ऑर्गैज्म) तक ले जाए, लेकिन महिलाओं के लिए हर बार यह जरूरी नहीं होता है। कई महिलाएं अपने पार्टनर से और यहां तक कि खुद से ऑर्गैज्म तक पहुंचने के लिए दबाव में रहती हैं, जबकि महिलाएं हर बार क्लाइमैक्स तक पहुंचने के बजाय फोरप्ले को भी खूब इंजॉय करती हैं।
  • अक्सर पुरुष प्राइवेट टाइम के दौरान सीरियस हो जाते हैं और हंसना, रोमांस, फन, प्यार जैसी चीजें भूल जाते हैं। आपको यह ध्यान रखना चाहिए कि चंचलता और थोड़े फन मूवमेंट आपके अंतरंग पलों को ज्यादा सुखद और आरामदेह बना सकते हैं। इस तरह आपके ऊपर कोई परफॉर्मेंस प्रेशर नहीं आएगा और ज्यादातर महिलाएं भी यहीं चाहती हैं।
  • प्राइवेट टाइम में महिलाएं सिर्फ सेक्स ही नहीं, बल्कि नॉन सेक्सुअल टच भी पसंद करती हैं, इसमें प्यार, रोमांस, हग, हाथ पकड़ना और किस करना जैसी चीजें शामिल हैं। ज्यादातर महिलाओं की यह शिकायत होती है कि फोरप्ले के दौरान उनके पार्टनर ऐसा कुछ नहीं करते हैं।
  • महिलाओं को खुश करने के लिए आप आरामदायक मालिश दे सकते हैं या उनके बालों और चेहरे को टच कर सकते हैं।
  • कई महिलाओं की शिकायत होती है कि उनके पार्टनर सेक्स एक्टिविटी के तुरंत बाद सो जाते हैं, जबकि महिलाओं को ऑर्गेज्म के बाद भी प्यार चाहिए होता है। दरअसल, सेक्स के दौरान पुरुषों में इनड्रॉफिन लेवल काफी बढ़ जाता है और वे रिलैक्स मोड में चले जाते हैं, जबकि महिलाओं में यह चरण धीरे-धीरे होता है। कोशिश करें कि सेक्स के बाद आप अपनी पार्टनर से बात करें या अपनी बाहों का सहारा देकर थोड़ी देर सुलाएं।

 

शेयर करें

मुख्य समाचार

दो सालों बाद सजी ढाक की धुन, पंडालों में पहुंचे ढाकी

सन्मार्ग संवाददाता काेलकाता : ढाकी की धुन और धुनुची नृत्य से पूजा का उत्साह चरम पर होता है। देखा जाये तो दुर्गापू​जा में बिना ढाक के आगे पढ़ें »

नवरात्रि के छठे दिन मां कात्यायनी की पूजा से मिलती है…

कोलकाताः शास्त्रों के अनुसार नवरात्रि की षष्ठी तिथि मां कात्यायनी की पूजा को समर्पित है। मां दुर्गा का यह छठा स्वरूप बहुत करुणामयी है। माना आगे पढ़ें »

ऊपर