मुआवजे के लिए महिला ने आटे से मृत बच्चे की बनाई प्रतिकृति, जानिए फिर क्या हुआ

replica of child

भोपाल : लालच इंसानियत पर हावी हो चुकी है। इस बात को भोपाल की तीन महिलाओं ने साबित किया है। तीनों महिलाओं ने सरकारी योजना का लाभ उठाने के लिए ऐसी धोखाधड़ी की योजना बनाई, जिससे अधिकारियों के होश उड़ गए है। दरअसल , मुआवजा पाने के लिए अस्पताल पहुंची महिलाओं ने आटा गूथकर उसे एक कपड़े में लपेट लिया और बिलकुल मृत बच्चे की तरह पेश कर मुआवजा पाने की कोशिश की। हालांकि, जब डॉक्टारों ने उन महिलाओं से बच्चा दिखाने की बात कही तो उन्होंने मना कर दिया। इसी दौरान हुई बहस में आटा गिरकर टूट गया और उनकी पोल खुल गई।

आटे को लाल रंग और बच्चे जैसा दिया था आकार

इस घटना को देखकर दंग हुए चीफ मेडिकल एण्ड हेल्थ ऑफिसर डॉ. विनोद गुप्ता ने बताया कि उन्होंने पहले कभी ऐसा कहीं नहीं देखा था। महिलाओं ने आटे को लाल रंग भी दिया और बच्चे जैसा आकार देने की कोशिश भी की थी। उन्होंने बताया कि तीनों महिलाएं मंगलवार रात को सरकारी ऐंबुलेंस में कैलारास अस्पताल पहुंचीं। उनमें से एक महिला ने बताया कि उसने घर पर मृत बच्चे को जन्म दिया है और मांग किया कि उसका नाम मुख्यमंत्री मैटरनिटी एड स्कीम के लिए अस्पताल के रिकॉर्ड में दर्ज किया जाए।

महिलओं ने कबूल किया जुर्म

डॉक्टरों ने इस घटना की सूचना पुलिस को दी। मौके पर पहुंची पुलिस ने महिलओं से पूछताछ की , जिसके दौरान महिलाओं ने कबूल किया कि वे 16 हजार रुपये का मुआवजा लेने पहुंची थीं। हालांकि अपनी जुर्म कबूल लेने के बाद वे रोने लगीं और माफी मांगने लगी, जिसके बाद पुलिस ने केस दर्ज नहीं किया और उन्हें जाने दिया।

बता दें कि पिछले साल 1 अप्रैल को शुरू की गई इस प्रधानमंत्री योजना के तहत उन महिलाओं को मुआवजा दिया जाता है जिनके बच्चे की जन्म के समय मौत हो जाती है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

आपके बेटे को कोई नुकसान नहीं पहुंचाऊंगा – बाबुल

देवाजंन की मां ने लगायी बाबुल से बेटे को माफ करने की गुहार कोलकाता : सोशल मीडिया पर उनके बेटे की पोस्ट वायरल हुई है जिसमें आगे पढ़ें »

राजीव कुमार की हो सकती है हत्या – सोमेन

कोलकाता : एक ओर जहां कोलकाता के पूर्व पुलिस कमिश्नर राजीव कुमार को सीबीआई दिन - रात ढूंढ रही है तो वहीं इस बीच, प्रदेश आगे पढ़ें »

ऊपर