गुरुवार को इन उपायों से घर की आर्थिक तंगी से मिलेगा छुटकारा, चमकेगा भाग्य

कोलकाता : धार्मिक मान्यताओं के अनुसार यदि कुंडली में हमारा गुरु अच्छा हो तो हमारे सारे काम सफलता से हो जाते हैं लेकिन यदि गुरु नाराज हो तो हमारे जीवन में कोई न कोई समस्या बनी रहती हैं। कभी आर्थिक तंगी तो कभी घर में पति-पत्नी के बीच लड़ाई-झगड़ा होता रहता है। यदि आपकी कुंडली में भी गुरु की दशा सही नहीं है और जीवन में कोई न कोई परेशानी बनी रहती है तो आप भी इन उपायों को कर सकते हैं।
बृहस्पति देव की करें उपासना
गुरुवार को सुबह स्नान आदि करके बृहस्पतिदेव की पूजा और कथा करनी चाहिए, इसके साथ ही आप ध्यान लगाते हुए तुलसी की एक माला से ओम बृं बृहस्पते नमः मंत्र का 108 जाप करें। इससे आपके जीवन में शांति आएगी और आर्थिक स्थिति मजबूत होगी।
माता लक्ष्मी की करें पूजा
गुरुवार के दिन भगवान विष्णु के साथ-साथ माता लक्ष्मी की पूजा करने से आपके लिए शुभकारी होता है। माता लक्ष्मी को वैभव का प्रतीक कहा गया है, यदि कोई व्यक्ति जो आर्थिक तंगी से जूझ रहा हो, वह यदि भगवान विष्णु और माता लक्ष्मी की पूजा करता है तो उसकी रूपयों-पैसों से जुड़ी समस्याएं जल्द समाप्त हो जाती है।
न करें पैसों का लेन-देन
यदि आपकी कुंडली में गुरु की स्थिति ठीक नहीं है तो आप गुरुवार के दिन किसी भी तरीके का लेन-देन न करें। यदि आप गुरुवार को पैसों का लेन-देन करते हैं तो आपको आर्थिक हानि हो सकती हैं या फिर वह पैसा फालतू कामों में खर्च हो जाएगा।
मांस-मदिरा का सेवन न करें
गुरुवार के दिन मांस-मदिरा और तामसिक भोजन का सेवन नहीं करना चाहिए। जहां तक हो सकें शुद्ध और सादे भोजन का सेवन करें। क्योंकि हमारे धार्मिक शास्त्रों में गुरुवार के दिन तामसिक भोजन और मांस-मदिरा का सेवन वर्जित माना गया हैं।
पति-पत्नी साथ में करें व्रत
यदि पति- पत्नी के रिश्ते में हमेशा लड़ाई-झगड़े होते रहते हैं तो दोनों को साथ में गुरुवार के दिन भगवान विष्णु और माता लक्ष्मी की उपासना करनी चाहिए। इससे आपके वैवाहिक जीवन में सुधार होगा और घर के लड़ाई- झगड़े भी कम होते हैं, माना जाता है कि जिन लोगों की विवाह में देरी हो रही हैं यदि वो भी गुरुवार का व्रत रखते हैं तो विवाह संबंधी बाधा दूर होती है।

 

शेयर करें

मुख्य समाचार

इन 5 मौकों पर घर में कभी नहीं बनानी चाहिए रोटी, टूट पड़ता है दुखों का पहाड़

कोलकाता : आपने एकादशी पर अक्षत यानी चावल न बनाने के शास्त्रीय नियमों के बारे में तो सुना ही होगा। लेकिन क्या आपको पता है आगे पढ़ें »

एसएससी मामले में कुंतल अगर दरिया था तो पार्थ थे समंदर

सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : शिक्षक भर्ती भ्रष्टाचार मामले में ईडी की टीम को कुंतल और पार्थ के बीच रुपयों के लेनदेन का पता चला है। सूत्रों आगे पढ़ें »

ऊपर