पत्नी को पता ही नहीं चला, हो गया है तलाक

आगरा :  आगरा में तलाक देने का एक अजीब मामला प्रकाश में आया है। इसमें महिला को पता ही नहीं चला कि उसके पति ने उसे तलाक दे दिया है। तलाक के बाद भी वह साथ रह रहा था। दो साल बाद दूसरे जिले में ट्रांसफर होकर जाने के बाद उसने दूरी बढ़ा ली। बीते दिनों इंस्टाग्राम पर पति को दूसरी महिला के साथ देखने पर वह ससुराल व कोर्ट पहुंची तो यह राज खुला। अब पीड़िता ने महिला थाने में पति के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया है, बताया कि उसके साथ धोखा हुआ है।

2017 में हुई थी शादी 

थाना शाहगंज क्षेत्र की रहने वाली युवती की शादी फरवरी 2017 में थाना मलपुरा क्षेत्र के युवक के साथ हुई थी। पति सरकारी नौकरी करता था और वह शादी के समय दिल्ली में नौकरी कर रहा था। पीड़िता ने बताया कि शादी के बाद वह भी पति के साथ दिल्ली रहने लगी। पति का ट्रांसफर आगरा हुआ तो वह भी साथ में आगरा आ गई। दोनों ने शादी की वर्षगांठ और एक-दूसरे का जन्मदिन मनाया। पति ताजमहल दिखाने ले गया और शॉपिंग भी कराई।

2021 में हो गया था पति का ट्रांसफर

इसके बाद पति का ट्रांसफर दिसंबर 2021 में गुवाहाटी हो गया। वह पति को छोड़ने दिल्ली एयरपोर्ट तक गई। इसके बाद छुट्टियों पर आकर पति ने उसे मायके छोड़ दिया। इसके बाद पति का व्यवहार अचानक बदल गया। फोन उठाना बंद कर दिया और मैसेज के जवाब भी नहीं दिए।

इंस्टाग्राम से खुला राज 

पीड़िता ने बताया कि इसी बीच उसने पति को दूसरी महिला के साथ इंस्टाग्राम पर देखा तो पैरों तले जमीन खिसक गई। वह ससुराल पहुंची तो ससुराल वालों ने घर में नहीं घुसने दिया। बताया कि 2019 में ही तलाक हो चुका है। पीड़िता ने जब कोर्ट जाकर जानकारी की तो पता चला कि पति ने उसे धोखा देकर तलाक ले लिया है।

पीड़िता को दिलाएंगे न्याय

महिला थाना इतुल चौधरी ने बताया कि 10 दिन पहले जब पीड़िता पति के खिलाफ शिकायत करने आई थी तब तक उसे पता नहीं था कि पति ने उसे तलाक दे दिया है। जांच में पता चला कि पति ने धोखे से पत्नी को तलाक देकर दूसरी शादी कर ली है। युवक के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है। जांच कर पीड़िता को न्याय दिलाया जाएगा।

पीड़िता दायर कर सकती है याचिका

एडीजीसी क्राइम एडवोकेट मधु शर्मा ने बताया कि एक पक्ष के बार-बार तारीखों पर अनुपस्थित रहने पर कोर्ट में एकतरफा तलाक हो जाता है। लेकिन जिस कोर्ट से पीड़िता का तलाक हुआ है वह वहां याचिका दायर कर अपना पक्ष रख सकती है। पति के धोखे से दिए गए तलाक की बात को न्यायालय में साबित कर वह न्याय पा सकती है। यह तलाक खारिज भी हो सकता है।

 

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

दुर्गापूजा से पहले नये कलेवर में सजेगा बंगाल का होम स्टे

 नजर होम स्टे पर 80% होम स्टे उत्तर बंगाल में हैं, 20% दक्षिण बंगाल में इन जगहों पर हैं होम स्टे कलिम्पोंग दार्जिलिंग कर्सियांग जलपाईगुड़ी अलीपुरदुआर का डुआर्स बांकुड़ा पुरुलिया हुगली बंगाल में होम स्टे की आगे पढ़ें »

ऊपर