घर में नहीं रखी जाती शनिदेव की मूर्ति, बाहर ही होती है पूजा… जानें कारण

कोलकाता : आपने भी यह बात जरूर नोटिस की होगी कि हमारे घर के मंदिरों में शिवलिंग से लेकर देवी मां की मूर्ति तक और हनुमान जी से लेकर विष्णु भगवान और गणेश जी तक की मूर्ति या तस्वीर होती है। लेकिन कहीं किसी भी घर में आपने शनिदेव की मूर्ति या तस्वीर रखी हुई नहीं देखी होगी। कई बार आपके मन में भी यह सवाल जरूर आता होगा कि आखिर इसका कारण क्या है और क्यों घरों में अन्य देवी-देवताओं की मूर्तियां या तस्वीर तो होती है लेकिन शनिदेव की मूर्ति नहीं रखी जाती?
शनिदेव को मिला था श्राप
धर्म शास्त्रों की मानें तो शनिदेव की मूर्ति या तस्वीर घर के मंदिर में रखना मना है और शनिदेव की पूजा घर के बाहर किसी मंदिर में ही करने का विधान बताया गया है। इसके पीछे धार्मिक मान्यता ये है कि शनिदेव को श्राप मिला था कि वह जिसे भी देखेंगे, उसका अनिष्ट यानी बुरा हो जाएगा। यही वजह है कि शनिदेव की दृष्टि सीधे तौर पर हमारे जीवन पर ना पड़े इसलिए शनिदेव की तस्वीर या मूर्ति को घर के मंदिर या पूजा घर में रखना सही नहीं माना जाता।
शनिदेव की आंखों में न देखें
अगर आप मंदिर में भी शनिदेव के दर्शन करने के लिए जाएं तो उनके पैरों की तरफ देखें और उनकी आंखों में आंखें डालकर उनके दर्शन न करें। अगर आप घर में शनिदेव की पूजा करना चाहते हैं तो उनका मन में ही स्मरण करें। साथ ही शनिवार के दिन जिसे शनिदेव का दिन माना जाता है, उस दिन शनिदेव के साथ ही हनुमान जी की भी पूजा करें। ऐसा करने से शनिदेव प्रसन्न होते हैं।
ये मूर्तियां भी मंदिर में न रखें
शनिदेव के अलावा राहु-केतु की मूर्ति या तस्वीर, भगवान शिव के नटराज रूप की मूर्ति या तस्वीर और भैरव की मूर्ति या तस्वीर भी घर में नहीं रखनी चाहिए।

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

पूजा के बाद कॉलेज – विश्वविद्यालयों खुल सकते है, छात्रों को जल्द लगेगी वैक्सीन

कोलकाता : पूजा के बाद कॉलेज - विश्वविद्यालय खुल सकते हैं। इसी क्रम में राज्य सरकार ने स्वास्थ विभाग से कहा है कि कॉलेज विश्वविद्यालयों आगे पढ़ें »

भाजपा की अपील : ‘बुर्का’ पहनकर आये मतदाताओं की हो पूरी जांच

भवानीपुर विधानसभा चुनाव : हाई कोर्ट में निर्णायक सुनवायी आज

पितृ पक्ष में इन संकेतों से जानें पूर्वज खुश हैं या नहीं

पैसों की तंगी से बचने के लिए करें आटे के ये उपाय, होगी मां लक्ष्मी की कृपा

मिनी भारत है भवानीपुर, यहीं से शुरू होगी दिल्ली की लड़ाई : ममता

इस उम्र की लडकियां चाहती है बिना कंडोम के सेक्स करना

चाहूं तो 3 महीने में बंगाल भाजपा को खत्म कर दूं लेकिन ऐसा नहीं करूंगा – अभिषेक

भाजपा सोच भी नहीं सकती कि ऐसे बड़े नेता आना चाहते हैं तृणमूल में – फिरहाद

भाजपा नेता के शव के साथ प्रदेश अध्यक्ष पहुंचे कालीघाट, पुलिस के साथ धक्का-मुक्की

ऊपर