सुबह खाली पेट क्‍यों बढ़ जाती है शुगर, शरीर में दिखे ये 5 संकेत तो डायबिटीज रोगी हो जाएं अलर्ट

कोलकाताः मधुमेह एक ऐसी बीमारी है, जिस पर किसी का नियंत्रण नहीं है। बल्कि साल दर साल यह तेजी से फैल रही है। हालातों को देखते हुए केंद्र सरकार का मानना है कि भारत में वर्ष 2025 तक मधुमेह रोगियों की तादाद 6.99 करोड़ बढ़ सकती है। वहीं डब्लयूएचओ ने भी तेजी से बढ़ रही इस बीमारी के प्रति लोगों को जागरूक होने की सलाह दी है। विशेषज्ञों के अनुसार, डायबिटीज से एक नहीं, बल्कि कई अन्य बीमारियां भी हो सकती हैं, इसलिए लोगों को सावधानी बरतना बेहद जरूरी है।
डायबिटीज में ब्लड शुगर बढ़ जाना चिंता की बात है। बढ़ा हुआ ब्लड शुगर लेवल लंबे समय तक चलने वाली स्वास्थ्य समस्याओं जैसे किडनी हृदय रोग के साथ अंधेपन का भी कारण बन सकता है। ऐसे में इन बीमारी को रोकने के लिए ब्लड शुगर लेवल को कंट्रोल करना जरूरी है। लेकिन कई बार ब्लड शुगर लेवल कब बढ़ जाए, पता नहीं चलता। खासतौर से सुबह के समय हार्मोन्स में बदलाव के चलते ब्लड शुगर लेवल बढ़ने के चांसेस ज्यादा रहते हैं। ऐसे में हम आपको कुछ लक्षण बता रहे हैं, जिनके जरिए आप बढ़े हुए ब्लड शुगर की पहचान आसानी से कर पाएंगे।
​सुबह के समय क्यों बढ़ जाता है शुगर लेवल

विशेषज्ञों के अनुसार सुबह व्यक्ति की शुगर सिर्फ इसलिए बढ़ती है, क्योंकि रात में सोते समय शरीर में हार्मोन्स को कंट्रोल करने के लिए ज्यादा मात्रा में इंसुलिन का उत्पादन होता है। इस वजह से सुबह उठने के बाद शरीर में शुगर का लेवल बढ़ा हुआ महसूस होता है।
बता दें कि सोते समय व्यक्ति के शरीर में ग्लूकागन, कार्टिसोल और एपिनेफ्रिन नामक हार्मोन्स बनते हैं। खासतौर से टाइप -2 डायबिटीज वाले 50 प्रतिशत लोगों को सुबह ब्लड शुगर लेवल बढ़े होने की शिकायत रहती है।
सुबह-सुबह क्यों बढ़ जाता है ब्लड शुगर लेवल, जानें कम करने के लिए क्‍या करें
  • हाई शुगर लेवल की पहचान ऐसे करें
  • बेहोशी आना
  • मतली आना
  • आंखों के सामने धुंधलापन आना
  • चीजों पर ध्यान केंद्रित करने में दिक्कत आना
  • बार-बार प्यास का अहसास होना​
डाउन फिनोमेनलन भी है ब्लड शुगर लेवल बढ़ने का कारण
यूके के संपादकीय सलाहकार बोर्ड में एक स्वास्थ्य पत्रकार और पोषण विशेषज्ञ डॉ.सारा ब्रेवर कहती हैं कि सुबह ब्लड शुगर लेवल बढ़ा चिंता की बात है। असामान्य रूप से शुगर लेवल में वृद्धि को डाउन फेनोमिना का नाम दिया गया है। यह समस्या हमारे प्राकृतिक बायोरिदम के कारण उत्पन्न होती है। जिसमें नींद के दौरान इंसुलिन हार्मोन का उत्पादन कम और ग्लूकोज में वृद्धि करने वाले हार्मोन्स का स्तर बढ़ जाता है।​
ब्लड शुगर का सामान्य स्तर कितना है
  • यूएस सीडीसी के अनुसारभोजन से पहले ब्लड शुगर 80-130 mg/dL होना चाहिए।
  • भोजन के दो घंटे बाद – 180 mg/dL से कम होना चाहिए।
CDC कहता है कि आपकी उम्र के हिसाब से किसी भी स्वास्थ्य समस्या और अन्य कारकों के आधार पर ब्लड शुगर के लक्षणों में अंतर हो सकता है। इसलिए अपने डॉक्टर से पूछें कि आपकी स्थिति में कौन से लक्षण बेहतर माने जाएंगे।

सुबह ब्लड शुगर को बढ़ने से रोकने के तरीके

  • सुबह ब्लड शुगर लेवल न बढ़े, इसके लिए आप अपने डॉक्टर से पूछ सकते हैं कि क्या आप रात के खाने के बजाय सोते समय दवा या इंसुलिन ले सकते हैं।
  • रात का खाना शाम को खाने की कोशिश करें। इसके बाद रात को टहलने या फिर एक्सरसाइज करने की आदत डालें।
  • रात में ऐसे स्नैक्स के सेवन से बचें, जिनमें कार्बोहाइड्रेट अधिक मात्रा में होते हैं। इससे ब्लड शुगर लेवल बढ़ने की संभावना ज्यादा होती है। इससे आपको बहुत जल्दी भूख लगेगी।
  • यदि सुबह के समय ग्लूकोज लेवल बढ़ा हुआ दिखे, तो अपने डॉक्टर से पर्सनल डाइट और लाइफस्टाइल में बदलाव से संबंधित सलाह जरूर लें।
  • अपने डॉक्टर से बात करें, कि क्या वह आपकी डोज में बदलाव करना चाहता है।
  • खुद को हाइड्रेट रखने के लिए ज्यादा से ज्यादा तरल पदार्थ पीएं।
  • सबसे जरूरी बात किसी भी कीमत पर नाश्ता स्किप ना करें।
  • ऐसा नाश्ता करें, जो हेल्दी हो।

 

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

दुर्गापूजा से पहले नये कलेवर में सजेगा बंगाल का होम स्टे

 नजर होम स्टे पर 80% होम स्टे उत्तर बंगाल में हैं, 20% दक्षिण बंगाल में इन जगहों पर हैं होम स्टे कलिम्पोंग दार्जिलिंग कर्सियांग जलपाईगुड़ी अलीपुरदुआर का डुआर्स बांकुड़ा पुरुलिया हुगली बंगाल में होम स्टे की आगे पढ़ें »

ऊपर