रात के वक्त नाखून काटने से क्यों रोकते हैं बुजुर्ग, जानें असली वजह

कोलकाता : रात में नाखून क्यों नहीं काटने चाहिए? ये वो सवाल है जो हर उस बच्चे और नौजवान के मन में उठता है, जब घर के बुजुर्ग उन्हें रात के समय नाखून काटने से रोकते हैं, लेकिन ऐसा बहुत कम होता है जब उन्हें इस सवाल का सही जवाब मिल पाता है। इसलिए आज हम आपको न सिर्फ इस सवाल का सही मतलब बताएंगे बल्कि नाखून काटने के सही तरीके और समय के बारे में भी बताएंगे।
क्या है नाखून काटने का सही समय ?
अमेरिकन एकेडमी ऑफ डर्मेटोलॉजी एसोसिएशन के मुताबिक, हमारे नाखून केराटिन से बने होते हैं। इसलिए नहाने के बाद अपने नाखूनों को काटना सबसे अच्छा माना जाता है। क्योंकि तब हमारे नाखून पानी या साबुन के पानी में भीगे हुए रहते हैं और बहुत ही आराम से कट जाते हैं। लेकिन जब हम इन्हें रात में काटते हैं तो ज्यादा देर तक पानी के संपर्क में ना आ पाने की वजह से ये सख्त हो जाते हैं। इसलिए कई बार नाखून काटते वक्त थोड़ी परेशानी हो जाती है, और उनके खराब होने का खतरा भी बढ़ जाता है।
रात में नाखून न काटने की दूसरी वजह
रात में नाखून न काटने की सलाह के पीछे एक दूसरा कारण ये भी है कि पुराने जमाने में नेल कटर लोगों के पास उपलब्ध नहीं था। उस समय में लोग नाखून या तो चाकू से काटते थे या किसी धारदार औजार से। उस वक्त बिजली भी नहीं हुआ करती थी। इसलिए पहले के लोग रात के अंधेरे में नाखून काटने से मना किया करते थे, लेकिन बीतते समय के साथ लोगों ने इसे अंधविश्वास से जोड़कर एक वहम का रूप दे दिया है। कुछ लोग आज भी इसे मानते हैं और अपने बच्चों से भी उसे मानने के लिए कहते हैं। ताकि किसी भी प्रकार के शारीरिक नुकसान से बचा जा सके।
नाखून हमेशा गीला करके काटें
नाखून काटने का सही तरीका यही है कि अपने नाखूनों को पहले हल्के तेल या फिर पानी में डालकर रखें। इससे आपके नाखून नरम हो जाएंगे और आप इन्हें अच्छे से काट पाएंगे। ध्यान रहे कि नाखून काटने के बाद उन्हें मॉइस्चराइज करना न भूलें। साथ ही कोशिश करें कि नाखून काटने के बाद अपने हाथ धोकर आएं, फिर उसे सूखने दें और तब मॉइस्चराइजर या तेल लगाएं। इससे आपके नाखून हमेशा खूबसूरत रहेंगे।
कहीं भी बैठकर न काटें नाखून
अक्सर लोग अपनी सुविधानुसार कहीं पर भी बैठकर नाखून काटना शुरू कर देते हैं। जो कि बहुत गलत आदत है। कोशिश करें कि किसी बोर्ड का उपयोग करें या फि किसी मजबूत सतह पर हाथ रखकर आराम से नाखून काटें। नाखून काटने के बाद उस बोर्ड को उठाएं और नाखून को डस्टबिन में डाल लें। नाखून कभी भी कपड़ों या फर्नीचर जैसी चीजों पर न काटें।

शेयर करें

मुख्य समाचार

चंदन की तस्करी : हावड़ा से मुख्य अभियुक्त समेत 4 गिरफ्तार

सलकिया स्कूल रोड के एक गोदाम से मिली चोरी हुई 1.80 क्विंटल चंदन की लकड़ी सन्मार्ग संवाददाता हावड़ा : पुरुलिया जिले की बाघमुंडी पुलिस ने चंदन की आगे पढ़ें »

​बिल नहीं भरा तो अस्पताल ने शव देने से किया मना

हुगली : चंदननगर के एक नर्सिंग होम में इलाजरत मरीज की मौत के बाद बिल के भुगतान को लेकर मामला इतना गरमाया कि अस्पताल प्रबंधन आगे पढ़ें »

ऊपर