ब्रेकफास्‍ट खाते वक्‍त न करें ये 5 गलतियां

सही ब्रेकफास्ट करना सेहत के लिए जरूरी है। वेट लॉस करने की कोशिश के दौरान एक दिन में आपके कंज्यूम की जाने वाली कैलोरी अहम फैक्टर है। ब्रेकफास्ट आपके दिनभर में ल‍िए जाने वाले खाने का जरूरी भाग है। एक हैल्दी और बैलेंस्ड ब्रेकफास्ट करने से आपके दिन की शुरुआत बेहतरीन एनर्जी लेवल के साथ होती है। एक हैल्दी ब्रेकफास्ट आपको लंच में गैरजरूरी कैलोरी लेने से रोकता है।

अनजाने में आप ब्रेकफास्ट से जुड़ी कुछ ऐसी गलतियां कर जाते हैं जो आपके वेट लॉस के प्रोसेस पर असर डालती हैं और आपका वजन बढ़ा देती हैं। हाल ही में किए गए एक अध्ययन में ब्रेकफास्ट को लेकर कुछ ऐसी ही कॉमन गलतियां सामने आई हैं। हम आपको बतलाने जा रहे हैं ब्रेकफास्ट में की गई गलत‍ियां जो आपके वेट लॉस करने के रास्ते में पैदा कर सकती है रुकावट-

नाश्ते में कैफीन का सेवन नुकसानदेह

कई लोगों के सुबह की शुरुआत चाय या कॉफी से होती है। बहुत ज्यादा कैफीन युक्त ड्रिंक के सेवन से आपको डीहाइड्रेशन की समस्या हो सकती है। इसके बजाय आप शेक, स्मूदी, दूध, हॉर्लिक्स, बॉर्नविटा, नींबू पानी जैसे अन्य हैल्दी ऑप्शन आजमा सकते हैं।

वेटलॉस में रुकावट है ब्रेकफास्ट मेंिर्फ जूस लेना

जूस में फाइबर नहीं होते हैं। ब्रेकफास्ट में जूस पीने से आपको कुछ समय बाद ही भूख लग जाती है। इसके अलावा पैक्ड जूस में चीनी की अतिरिक्त मात्रा के अलावा बहुत कम पोषक तत्वों की मौजूदगी होती है। इसलिए ब्रेकफास्ट में केला, सेब, अमरूद, मौसमी, संतरा जैसे फल, वेजिटेबल्स सूप और सूखे मेवों को जरूर शामिल करें, क्योंकि ये फाइबर (रेशे) से भरपूर होते हैं। एक स्टडी के मुताबिक, एक दिन में अपनी डाइट में 14 ग्राम फाइबर की मात्रा को शामिल करने से कैलोरी की 10 फीसदी जरूरत पूरी होती है।

ब्रेकफास्ट में कार्बोहाइड्रेट को करें नजरअंदाज

अपने ब्रेकफास्ट में कभी भी हाई कार्बोहाइड्रेट से भरपूर चीजों को शामिल करने की गलती न करें। लो-कार्ब डाइट बॉडी में जमा एक्स्ट्रा पानी और वजन को कम करने में मदद करता है। फैट को कम करने की कोशिश कर रहे हो तो हमेशा अपने ब्रेकफास्ट में कार्बोहाइड्रेट की कम मात्रा वाली चीजों को शामिल करें।

ब्रेकफास्ट से चीनी को कहें अलविदा

मीठा खाना किसे पसंद नहीं होता। मीठा खाने से दिल और दिमाग दोनों खुश हो जाते हैं, लेकिन क्या आप जानते हैं कि एक्स्ट्रा चीनी आपके खाने में एक्सट्रा कैलोरी को जोड़ने के साथ-साथ आपके वजन को भी बढ़ाती है। इससे पेट और लिवर के पास फैट जमा हो जाता है, मेटाबॉलिज्म संबंधी समस्याएं होने लगती हैं । इसके अलावा आपको कई बीमारियों के खतरे में भी डाल सकता है। ब्रेकफास्ट में चीनी की मिठास से भरे खाद्य पदार्थों का सेवन न करें। चीनी के बजाय गुड़ का सेवन करें। खासकर जब आप वजन कम करने की कोशिश कर रहे हैं।

प्रोटीन नहीं लेना बन सकता है मोटापे की वजह

वेट लॉस डाइट का एक अहम हिस्सा है-प्रोटीन। इसमें प्रोटीन के सेवन से आपका पेट ज्यादा लंबे समय तक भरा रहता है और आपको कम कैलोरी लेते हैं। प्रोटीन का सही मात्रा में नियमित सेवन बॉडी पर फैट जमा नहीं होने देता और फ़ूड क्रेविंग को 60 फीसदी तक कम कर सकता है। इसके अलावा मेटाबॉलिज्म प्रोसेस को तेज कर सकती है। अपने ब्रेकफास्ट में अंडे, साबुत अनाज, डेयरी प्रोडक्ट्स, नट्स या सीड्स जैसे प्रोटीन युक्त चीजें शामिल कर सकते हैं।

शेयर करें

मुख्य समाचार

तवा और कढ़ाही होते हैं राहु का प्रतीक, भूलकर भी न करें ये गलति‍यां

कोलकाताः आपने कभी सोचा है क‍ि आपकी लाइफ में कई सारी टेंशन की वजह आपके क‍िचन में इस्‍तेमाल होने वाला तवा और कढ़ाही भी हो आगे पढ़ें »

कालीघाट में कार में मिला व्यक्ति का शव

कोलकाता : कालीघाट थानांतर्गत एसपीएम रोड पर कार के अंदर से एक व्यक्ति का शव बरामद किया गया। मृतक का नाम विरेन्द्र कुवर है। वह आगे पढ़ें »

ऊपर