विष्णु भगवान को प्रसन्न करना है तो गुरुवार को खानपान में रखें इन बातों का ध्यान

कोलकाता : धार्मिक मान्यताओं के अनुसार गुरुवार का दिन भगवान विष्णु का दिन होता है और साथ ही गुरु यानी बृहस्पति ग्रह का भी। इस दिन की गई पूजा से आप भगवान विष्णु को प्रसन्न करने के साथ ही देवग्रह गुरु को भी प्रसन्न कर सकते हैं। ऐसी मान्यता है कि अगर नौकरी या आजीविका संबंधी कोई परेशानी हो तो गुरु ग्रह ही उसे दूर करने में मदद करते हैं। साथ ही भगवान विष्णु के आशीर्वाद से भी सभी तरह की परेशानियों से छुटकारा मिलता है, भाग्य का साथ मिलने लगता है और जीवन में सुख-शांति बनी रहती है। विष्णु भगवान को प्रसन्न करना ज्यादा मुश्किल नहीं है, केवल गुरुवार के दिन इन जरूरी बातों का ध्यान रखने से ही भगवान विष्णु गुरुवार को भूल से भी न करें ये काम
1. केला न खाएं– धार्मिक मान्यताओं के मुताबिक केले के वृक्ष में देवगुरु बृहस्पति का वास होता है। तो वहीं पुराणों के अनुसार केले के वृक्ष में भगवान विष्णु निवास करते हैं और इसलिए गुरुवार के दिन केले के पेड़ की पूजा की जाती है। अब चूंकि गुरुवार को केले की पूजा हो रही है और भगवान विष्णु को केला अर्पित भी किया जाता है इसलिए गुरुवार के दिन केले का फल खाना मना होता है। भगवान विष्णु को भोग लगाने के बाद केले को दान कर देना चाहिए लेकिन व्रत रखने वाले भक्तजन को या किसी और को भी गुरुवार को केला नहीं खाना चाहिए।
2. खिचड़ी न खाएं– वैसे तो गुरुवार को पीले रंग का बहुत महत्व है और दाल और चावल को मिलाकर बनायी जाने वाली खिचड़ी भी पीले रंग की होती है लेकिन गुरुवार के दिन भूल से भी खिचड़ी नहीं खानी चाहिए। ऐसी मान्यता है कि गुरुवार को खिचड़ी खाने से धन की हानि होती है और घर परिवार में दरिद्रता आ सकती है। इसलिए गुरुवार के दिन न तो खिचड़ी बनाएं और ना ही खाएं।
3. बाल, दाढ़ी, नाखून न काटें– गुरुवार के दिन नाखून काटना, बाल कटवाना, दाढ़ी बनाना मना है। ऐसी मान्यता है कि गुरुवार के दिन ये सारे काम करने से गुरु ग्रह कमजोर होने लगते हैं और गुरु के कमजोर होते ही धन की वृद्धि रुक जाती है और काम के क्षेत्र में रुकावटें आने लगती हैं। साथ ही गुरुवार के दिन महिलाओं को बाल धोने और कपड़े धोने से भी मना किया जाता है। इसके अलावा गुरुवार के दिन घर से कबाड़ की चीजें भी बाहर नहीं निकालनी चाहिए।
श्रीहरि को प्रसन्न करने के लिए क्या करें
1. चूंकि गुरुवार के दिन पूजा के दौरान चने की दाल और गुड़ का प्रसाद भोग लगाया जाता है इसलिए इस दिन अगर संभव हो तो भोजन में चने की दाल का इस्तेमाल करना चाहिए। इसके अलावा नमक भी नहीं खाना चाहिए और संभव तो इस दिन एक ही समय भोजन करना चाहिए। गुरुवार के दिन चने की दाल का दान करना भी शुभ माना जाता है।
2. भगवान विष्णु को पीला रंग अति प्रिय है इसलिए इस दिन पीले रंग का अधिक से अधिक उपयोग करना चाहिए। आप खुद भी पीले रंग का वस्त्र पहनें और विष्णु जी को भी पीले रंग का वस्त्र अर्पित करें। पूजा में भी पीले रंग के फूल, पीला चंदन, चने की दाल, केसर, बेसन का लड्डू आदि का इस्तेमाल करना चाहिए। पूजा के बाद अगर आप पीले रंग की चीजें दान करें, तो इससे भी भगवान विष्णु प्रसन्न होते हैं और घर में सुख-समृद्धि आती है।
3. गुरुवार को विष्णु जी की पूजा के बाद विष्णु सहस्त्रनाम का पाठ करें।

शेयर करें

मुख्य समाचार

अस्पताल में ट्रक पहुंचते ही ऑक्सीजन सिलेंडर लूट कर भागे उपद्रवी

दमोह : मध्य प्रदेश के दमोह जिले के अस्पताल से ऑक्सीजन सिलेंडर की लूट का मामला सामने आया है। जिला अस्पताल में हुई इस घटना आगे पढ़ें »

ब्रेकिंग : अनिश्चितकाल के लिए बंद हुआ बेलूरमठ

हावड़ा : कोरोना के बढ़ते मामले को देखते हुए बेलूरमठ को अनिश्चितकाल के लिए बंद कर दिया गया है। बेलूरमठ की ओर से दी गई आगे पढ़ें »

ऊपर