बनवा रहे हैं घर तो रखें इन बातों का खास ध्यान, हो जाएंगे अमीर

कोलकाता : वास्तु शास्त्र में विभिन्न बातों का उल्लेख किया गया है। अगर इन बातों को ध्यान में रखकर हम अपने घर का निर्माण करें तो घर के सदस्यों के ऊपर मां लक्ष्मी की कृपा सदा बनी रहती है। ऐसे में आज हम वास्तु के उन सिद्धांतों के बारे में जानेंगे, जिनका घर बनवाते वक्त खासतौर पर ध्यान रखना चाहिए। वास्तु शास्त्र में दिशाओं का काफी विशेष महत्व होता है। ज्योतिष शास्त्रों के अनुसार उत्तर दिशा भगवान कुबेर की होती है, जो धन और यश के प्रतीक हैं। मान्यता है कि अगर घर बनवाते वक्त उत्तर दिशा का वास्तु ठीक है, तो घर के सदस्यों की खूब बरकत होती है। कारोबार और बाकी क्षेत्रों में खूब सारा लाभ अर्जित होता है। व्यक्ति का घर धन-धान्य से भर जाता है। घर-परिवार के लोगों का स्वास्थ्य काफी बढ़िया रहता है। ऐसे में आइए जानते हैं कि वास्तु शास्त्र में उत्तर दिशा के लिए किन-किन महत्वपूर्ण सिद्धांतों का वर्णन किया गया है, जिन्हें घर बनवाते वक्त खासतौर पर ध्यान रखना चाहिए। वास्तु शास्त्र में बताया गया है कि घर की दीवारों पर अगर दरारें आ रही हैं, तो ये काफी अशुभ संकेत है। इसके चलते परिवार के सदस्यों के बीच मतभेद भी जन्म ले सकता है। ऐसे में समय-समय पर घर की उत्तर दिशा की दीवार को जरूर देखें कि वहां पर कोई दरार तो नहीं है। वास्तु के मुताबिक घर की उत्तर दिशा में पानी का नल या मोटर नहीं लगाना चाहिए। इसके चलते घर की आर्थिक स्थिति खराब हो सकती है। उत्तर दिशा में बाथरूम या टॉयलट का निर्माण कभी ना करवाएं। इससे भविष्य में कई दिक्कतों का सामना करना पड़ सकता है। घर बनवाते समय इस बात का भी ध्यान रखें की उत्तर दिशा में किचन का निर्माण ना हो। इससे परिवार की शांति में खलल पड़ती है। हो सके तो घर के भीतर अंडरग्राउंड पानी का टैंक उत्तर-पूर्व दिशा में बनवाएं। इसे काफी शुभ माना गया है। वास्तु शास्त्र में इस बात का उल्लेख मिलता है कि घर की उत्तर दिशा में पूजा का स्थान बनवाने से परिवार मेंं शांति का वास होता है और आर्थिक स्थिति काफी मजबूत होती है। इस बात का ध्यान रखें कि घर के भीतर किसी भी जंगली जानवर की तस्वीर ना लगी हो। वास्तु शास्त्र में घर के भीतर जानवरों की तस्वीर लगाना काफी अशुभ माना गया है। मान्यता है कि उत्तर दिशा में भगवान कुबेर का वास होता है। इस कारण उत्तर मुखी भवन की तरफ बहुत सारी खुली जगह छोड़नी चाहिए। इसे काफी शुभ माना गया है। ऐसा करने से व्यक्ति के घर में कभी भी धन की कमी नहीं होती है। घर के टेरेस को उत्तर दिशा में खुला होना चाहिए ताकि सकारात्मक ऊर्जा का संचार घर के भीतर बना रहे।

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्सहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

सावन में बुधवार का दिन भी होता है बेहद खास, ये 5 उपाय दिखाएंगे कमाल

कोलकाता : हिन्दू धर्म में ज्योतिषशास्त्र के अनुसार सावन का माह बेहद ही खास माना जाता है। यह माह पूर्ण रूप से भगवान शिव को आगे पढ़ें »

ऊपर