सात सफेद घोड़ों के चित्र आपके घर में कभी नहीं होने देंगे धन की कमी

कोलकाता : वास्तु शास्त्र में कई ऐसे उपाय बताये गए हैं जिनको करने से घर की नकारात्मक ऊर्जा समाप्त हो जाती है। घर में धन वैभव सुख शांति समृद्धि आदि की वृद्धि होती है। इन्हीं उपायों में से एक है सात दौड़ते हुए सफ़ेद घोड़ों की तस्वीर। आइये जानें इनका सही इस्तेमाल कैसे करते हैं।
-वास्तु शास्त्र के मुताबिक, यदि घर में अशांति, कलह, क्लेश या झगड़े का माहौल बना रहता है तो आपको चाहिए कि अपने घर में सात सफेद घोड़ों की तस्वीर लगाएं। वास्तु शास्त्र की मान्यता है कि इससे घर की नकारात्मक ऊर्जा खत्म होती है और घर का माहौल उत्साह से भर जाता है।
-वास्तुशास्त्र में सात अंक को बहुत ही शुभ और फलदायी माना गया है। इस सात अंक का संबंध सूर्य के रथ के सात सफ़ेद घोड़े, सप्त ऋषि, इंद्र धनुष के सात रंग और सात फेरे आदि जैसे कई शुभ चीजों से है। इसी लिए इन सफेद रंग के सात घोड़ों को शुभता का प्रतीक माना गया है।
-यदि आप आर्थिक तंगी से परेशान है, तो दौड़ते हुए सात सफ़ेद रंग के घोड़े की मूर्ति को घर में ऐसी जगह पर लगाएं जहां पर आपकी निगाहें हमेशा पड़ती रहें। मान्यता है कि ऐसा करने से घर में सुख, शांति और समृद्धि आएगी और धन- वैभव का नुकसान कभी नहीं होगा।
-मौजूदा समय में यदि आप वर्क फ्रॉम होम कर रहे हैं और थका –थका सा महसूस कर रहें हैं या फिर आप अपने अन्य किसी काम से थकान महसूस कर रहें हैं तो घर में या ऑफिस में पूर्व दिशा की दीवार पर दौड़ते हुए सफेद घोड़ों की तस्वीर लगांए। मान्यता है कि ऐसा करने से आपका मन काम में लगेगा और पदोन्नति के आसार बढ़ जाएगें।
-यदि आप अपने घर में किसी प्रकार की निगेटिव ऊर्जा की समस्या का एहसास कर रहें हैं। तो आपको सफेद घोड़ों की तस्वीर अपने लिविंग रूम में लगाना चाहिए। वास्तु शास्त्र की मान्यताओं के अनुसार ऐसा करने से आपके घर की सारी नकारात्मता दूर हो जाएगी। दौड़ते हुए घोड़े को सकारात्मक ऊर्जा, स्फूर्ति और प्रगति का प्रतीक माना जाता है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्सहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

बड़ी खबरः राज्य में कोविड के बीच बच्चों में डेंगू के साथ स्क्रब टाइफस

एक्सपर्ट ने जागरूक रहने की दी सलाह सन्मार्ग संवाददाता कोलकाताः कोविड काल के बीच अचानक बच्चों में डेंगू के साथ स्क्रब टाइफस के मामले सामने आए हैं। आगे पढ़ें »

ऊपर