उत्तर प्रदेश : रामपुर उपचुनाव में आमने सामने होंगी डिंपल यादव और जयाप्रदा?

Jaya Prada, Dimple Yadav

लखनऊ : समाजवादी पार्टी के अध्‍यक्ष अखिलेश यादव की पत्‍नी और कन्नौज की पूर्व सांसद डिंपल यादव उत्तर प्रदेश में होने वाले उपचुनाव के मैदान में उतर सकती हैं। वहीं भारतीय जनता पार्टी की ओर से जयाप्रदा को प्रत्याशी बनाया जा सकता है। चर्चा है की सपा मुस्लिम बहुल विधानसभा सीट रामपुर से डिंपल को टिकट दे सकती है। यह सीट आजम खान के सांसद चुने जाने की वजह से खाली हुई है। रामपुर को सपा सांसद आजम का गढ़ माना जाता है। बता दें कि आने वाले समय में उत्तर प्रदेश की 12 विधानसभा सीटों के लिए उपचुनाव होने वाले हैं।
आजम खान ने दिया है रामपुर से इस्तीफा
बता दें कि रामपुर विधानसभा सीट से आजम नौ बार विधायक रह चुके हैं। 2019 के लोकसभा चुनाव में वह पहली बार रामपुर से जीतकर संसद पहुंचे हैं। इस वजह से उन्‍हें विधानसभा से इस्‍तीफा देना पड़ा। माना जा रहा है कि इस साल के अंत में होने वाले उपचुनाव में इस विधानसभा सीट से आजम की पुत्रवधु को मैदान में उतारा जाएगा, लेकिन डिंपल को इस सीट पर उतारने के ज्यादा आसार दिख रहे हैं। प्राप्त जानकारी के अनुसार डिंपल को रामपुर सीट से प्रत्याशी बनाए जाने को लेकर पार्टी में मंथन चल रहा है। इस पूरे मामले में अंतिम फैसला सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव को करना है।
जयाप्रदा को फिर से उतार सकती है बीजेपी
वहीं कयास लगाया जा रहा है कि भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी), अपने उम्मीदवार के तौर पर डिंपल को टक्कर देने के लिए लोकसभा चुनाव में पार्टी की प्रत्याशी रही फिल्‍म अभिनेत्री जयाप्रदा को मौका दे सकती है। गौरतलब है कि जयाप्रदा नामांकन से कुछ वक्‍त पहले ही बीजेपी में शामिल हुई थीं। लोकसभा चुनाव में भले ही जयाप्रदा को आजम खान से हार मिली हो, लेकिन दोनों के बीच चल रही कड़वाहट सबके सामने खुलकर सामने आ गई थी।

गौरतलब है कि चुनाव के दौरान आपत्तिजनक टिप्‍पणी करने पर आजम पर चुनाव आयोग ने दो बार कार्रवाई की थी। पार्टी सूत्रों की मानें तो इस बार विधानसभा उपचुनाव में बीजेपी जयाप्रदा को रामपुर से प्रत्याशी बना सकती है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

hongkong

हांगकांग ‘लोकतंत्र अधिनियम’ पारित, चीन ने दी कड़ी प्रतिक्रिया

वाशिंगटन : हांगकांग में लोकतंत्र समर्थक प्रदर्शनकारियों की मांग वाले एक विधेयक को अमेरिकी प्रतिनिधि सभा ने मंगलवार को पारित कर दिया, जिसका उद्देश्य उस आगे पढ़ें »

रतन टाटा खुद को मानते हैं ‘एक्सीडेंटल स्टार्टअप निवेशक’, कई बड़ी कंपनियों में है हिस्सेदारी

नई दिल्ली : उद्योगपति और टाटा समूह के चेयरमैन रतन टाटा ने खुद को 'एक्सीडेंटल स्टार्टअप निवेशक' माना है। उन्होंने दर्जनभर से ज्यादा स्टार्टअप कंपनियों आगे पढ़ें »

court

अयोध्या मामले पर सुप्रीम कोर्ट ने 40 दिन की सुनवाई के बाद फैसला सुरक्षित रखा

ayodhya

अयोध्या मामला : मुस्लिम धर्मगुरुओं ने कहा, शीर्ष न्यायालय के फैसले को स्वीकार किया जाना चाहिए

अमेरिकी प्रतिबंधों के पालन के लिए भारत अपना नुकसान नहीं करेगा: वित्त मंत्री

russia

तुर्की और सीरिया की लड़ाई में रूस बना दीवार, तैनात की अपनी आर्मी

sitaraman

अनुच्छेद 370 को हटाए जाने के बाद ‘मानवाधिकार’ विश्व स्तर पर ज्वलंत शब्द बन गया : सीतारमण

chetak

बजाज ने पेश किया इलेक्ट्रिक चेतक स्कूटर, सामने आया पहला लुक

rail

रेलवे ने शुरू की नई योजना, अब फिल्म प्रमोशन के लिए हो सकेगी ट्रेनों की बुकिंग

modi

पीएम मोदी बोले- राष्ट्र निर्माण का आधार है सावरकर के संस्कार

ऊपर