बाबूलाल मरांडी को नेता प्रतिपक्ष की मान्यता नहीं देने से नाराज भाजपा सदस्यों का झारखंड सदन में हंगामा

रांची : झारखंड विधानसभा में भारतीय जनता पार्टी विधायक दल के नेता बाबूलाल मरांडी को नेता प्रतिपक्ष की मान्यता नहीं दिए जाने से नाराज भाजपा सदस्यों ने शुक्रवार को बजट सत्र के पहले दिन जमकर हंगामा किया।
सभा की कार्यवाही शुरू होते ही भाजपा विधायकों ने सीट पर खड़े होकर बाबूलाल मरांडी को प्रतिपक्ष के नेता की मान्यता दिये जाने की मांग शुरू कर दी। भाजपा इस पर सभाध्यक्ष रवींद्रनाथ महतो ने कहा कि इस मुद्दे पर न्याय संगत निर्णय होगा। इसके बाद उन्होंने अपना संबोधन शुरू कर दिया। इसी दौरान बाबूलाल मरांडी को नेता प्रतिपक्ष की मान्यता नहीं मिलने से नाराज होकर भाजपा सदस्य सदन के बीच में आकर हंगामा करने लगे। इस पर सत्ता पक्ष के कुछ विधायक विपक्ष का विरोध करते हुए सदन के बीच में आ गए। दोनों पक्ष के उत्तेजित सदस्यों के बीच नोक झोंक भी हुई। इस बीच भाजपा विधायकों ने वेल में ही ‘जयश्री राम’ और ‘भारत माता की जय’ के नारे लगाए। वहीं, मान्यता नहीं मिलने की वजह से पहली बार बजट सत्र प्रतिपक्ष के नेता की खाली सीट के साथ शुरू हुआ। बाद में मुख्यमंत्री और सभाध्यक्ष के आग्रह के बाद विपक्षी सदस्य अपनी सीट पर आ गये। इसके बाद भाजपा विधायक नीलकंठ सिंह मुंडा ने प्रतिपक्ष के नेता का मामला कार्यमंत्रणा समिति में ले जाने की मांग उठाई। तब तक हंगामे के बीच ही संसदीय कार्यमंत्री आलमगीर आलम ने तीसरा अनुपूरक बजट पेश किया। वहीं सभाध्यक्ष ने कार्यमंत्रणा समिति, सभापति के मनोनयन और शोक प्रकाश के बाद सदन की कार्यवाही सोमवार को 11 बजे तक के लिए स्थगित कर दी गयी।

राजनीतिक मापदंडों की धज्जियां उड़ा रहे हैं विधानसभा अध्यक्ष : भाजपा
भारतीय जनता पार्टी ने शुक्रवार को यहां आरोप लगाया कि विपक्ष के नेता पद पर बाबूलाल मरांडी को अब तक मान्यता नहीं देकर विधानसभा अध्यक्ष स्थापित राजनीतिक मापदंडों की धज्जियां उड़ा रहे हैं।
भाजपा के प्रदेश उपाध्यक्ष प्रदीप वर्मा ने शुक्रवार को यहां आरोप लगाया कि ऐसा प्रतीत हो रहा है कि झारखंड मुक्ति मोर्चा के दबाव में विधानसभा अध्यक्ष इस संबंध में निर्णय टाल रहे हैं। उन्होंने आरोप लगाया कि नयी सरकार के दो महीनों के शासनकाल में पूरे प्रदेश की स्थिति चरमरा गयी है। प्रदीप वर्मा ने कहा कि प्रदेश में पूरे तरीके से प्रशासनिक शून्यता है और सूबे में प्रतिदिन उग्रवादी घटनाएं घट रही है और आज ही चाईबासा में उग्रवादियों ने अनेक गाड़ियों को आग लगा दी।

शेयर करें

मुख्य समाचार

हम जितना क्रिकेट खेल रहे थे, ऐसे में लॉकडाउन वाला ब्रेक जरूरी : रवि शास्त्री

नयी दिल्ली : भारतीय टीम के मुख्य कोच रवि शास्त्री का मानना है कि कोविड - 19 के कारण पूरी दुनिया मानों रूक जाने से आगे पढ़ें »

धोनी की टीम इंडिया में वापसी मुश्किल है : भोगले

नयी दिल्ली : भारत के मशहूर क्रिकेट कमेंटेटर हर्षा भोगले का मानना है कि पूर्व भारतीय कप्तान महेंद्र सिंह धोनी का टीम इंडिया में वापस आगे पढ़ें »

ऊपर