भूख लगते ही एकदम से न टूट पड़ें इन खाने की चीजों पर, खाली पेट करेगी बेहद नुकसान

कोलकाताः कहते हैं कि भूखे पेट तो भजन भी नहीं होते, ऐसे में अगर दिन की एक मील छूट जाए तो दूसरी मील तक पेट में जैसे आग लग जाती है। उस समय आप कुछ भी खाने को तैयार रहते हैं। ऐसे में पहली बात तो यह है कि आपका ब्रेकफास्ट या लंच स्किप नहीं होना चाहिए। पर ऐसा हो भी जाए तो आपको कुछ खाने की चीजों से दूरी बनाकर रखनी चाहिए।
अब आपको लग रहा होगा कि शायद जंक फूड ना खाने की सलाह होगी। आप सही हैं लेकिन सिर्फ 1 प्रतिशत। क्योंकि केवल जंक फूड ही नहीं बल्कि कुछ ऐसी हेल्दी चीजें भी हैं जो मील स्किप हो जाने के बाद आपको फायदे के बजाय नुकसान पहुंचाती हैं। आज हम आपको ऐसी ही कुछ चीजों के बारे में बताएंगे जो आपको खाली पेट या ब्रेकफास्ट स्किप करने के बाद बिल्कुल नहीं खानी चाहिए।
चिप्स

चिप्स का सेवन करना तो आपके लिए वैसे भी नुकसानदायक होता है। लेकिन जब आप इसका सेवन खाली पेट करते हैं, तो यह आपकी पाचन क्रिया को बुरी तरह प्रभावित करती है। ऐसे में खाली पेट फ्राई फूड या बेक्ड फूड का सेवन नहीं करना चाहिए।​
कॉफी
कॉफी या चाय का सेवन लोग अक्सर खाली पेट करने लगते हैं। उन्हें लगता है की इससे शरीर में ताजगी आएगी। लेकिन यह आपके शरीर में जाकर कई तरह की समस्या पैदा कर देती है। मील स्किप होने पर इसके सेवन से शरीर में हाइड्रोक्लोरिक एसिड बनने लगता है। यह आपके पाचन तंत्र को नुकसान पहुंचाता है।
फलों का सेवन
सब्जियों की तरह फलों के सेवन की पैरवी करने वाले लोग आपको बहुत अधिक दिख जाएंगे। लेकिन यह लोग भी शायद इस बात को नहीं जानते होंगे कि खाली पेट अधिक मात्रा में फलों का सेवन नुकसानदायक हो सकता है। यह आपके रक्त में शुगर लेवल को बढ़ा सकता है। वहीं, इसके आधे एक घंटे बाद ही रक्त में शुगर लेवल कम होने लगता है। लेकिन अगर आप चाहें तो एक केला या सेब खा सकते हैं। पर अधिक मात्रा में फल के सेवन से पूरी तरह बचना चाहिए।
​कच्ची सब्जियां
हमने अक्सर अपने बड़ों को कहते सुना है कि सब्जियों का सेवन भारी मात्रा में करना चाहिए। लेकिन मील स्किप होने या अधिक भूख लगने पर कच्ची सब्जियों का सेवन करने से आपको गैस और डाइजेशन से संबंधित समस्या का सामना करना पड़ सकता है। इसलिए खाली पेट कच्ची सब्जियों का सेवन नहीं करना चाहिए।​
रेड मीट
रेड मीट को प्रोटीन का सबसे बेहतरीन स्रोत माना जाता है। लेकिन एक सच यह भी है कि इसे पचाने के लिए अच्छा खासा समय चाहिए होता है। ऐसे में इसे खाली पेट खाने से शरीर को इसे पचाने के लिए अधिक मेहनत करनी पड़ती है। इसके सेवन से आपको लंबे समय तक पेट भरे रहने का अहसास होता है, जिसके बाद आप कुछ भी खाने की हिम्मत नहीं जुटा पाते।​
एवोकाडो
एवोकाडो एक ऐसा फल है जिसके सेवन से आपका कोलेस्ट्रॉल लेवल कम होता है, आपकी आंखें सुरक्षित रहती हैं, फर्टिलिटी बेहतर होती है इसके अलावा यह रक्त में मौजूद शुगर लेवल और पाचन तंत्र का भी ख्याल रखता है। लेकिन जब आप इसे खाली पेट खाते हैं तो यह आपके पेट के लिए एक गंभीर समस्या बन जाता है। मील स्किप होने के बाद इसके अंदर जो फैट पाया जाता है वह बहुत धीरे धीरे पचता है। इसके अलावा एवोकाडो का सेवन हमारे कई अंदरूनी अंगों को खाली पेट नुकसान पहुंचा सकता है। ऐसे में जब बहुत अधिक भूख लगी हो तो इसका सेवन बिल्कुल ना करें।
एनर्जी बार
आपने अक्सर लोगों को जिम से पहले एनर्जी बार का सेवन करते देखा होगा। लेकिन खाली पेट खाई गई एनर्जी बार आपको ऊर्जा तो दे देगी। लेकिन शरीर के अंदर जाकर वह विपरीत प्रभाव दिखा सकती है। इसके कारण आपको गैस जैसी समस्या हो सकती है। इसके अलावा बॉडी को खाली पेट इसे पचाने में खासी दिक्कत का सामना करना पड़ता है।
प्रोटीन शेक
प्रोटीन शेक का सेवन यूं तो आपके दिनभर की प्रोटीन की मात्रा को पूरा करने का कार्य करता है। लेकिन खाली पेट इसका सेवन आपके शरीर में क्रैम्प, डायरिया जैसी समस्या को जन्म दे सकता है। ऐसे में खाली पेट प्रोटीन शेक का सेवन ना करें।
च्विंगम
च्विंगम का सेवन मील स्किप होने पर आपके लिए नुकसानदायक हो सकता है। यूं तो जब आप इसका सेवन करते हैं तो यह आपको अन्य स्नैक्स से बचाती है। । लेकिन खाली पेट इसके सेवन से शरीर में गैस्ट्रिक जूस पैदा होने लगता है जो पेट दर्द जैसी समस्या को जन्म देता है।

 

शेयर करें

मुख्य समाचार

कारोना विस्फोट पर ममता ने मांगा प्रधानमंत्री से इस्तीफा

कोविड वैक्सीन की कमी को लेकर मोदी सरकार पर साधा निशाना सन्मार्ग संवाददाता बैरकपुर : बंगाल में विधानसभा चुनाव के बीच राज्य समेत देश भर में कोरोना आगे पढ़ें »

जिन राज्यों में चुनाव नहीं, वहां कोरोना के मामले अधिक : शाह

सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : कोरोना वायरस के रिकॉर्ड मामलों के बीच गृह मंत्री अमित शाह ने चुनावी राज्‍यों में राजनीतिक रैलियों का बचाव किया है। शाह आगे पढ़ें »

कोरोना संकट के बीच रेलवे ने कसी कमर, चलाई जाएंगी ‘ऑक्सीजन एक्सप्रेस’ ट्रेनें

कितने दिनों में कोविड मरीज ठीक होते हैं या हालत हो जाती है खराब, 14 दिन की लिमिट का क्या है मतलब

बटन इतना ज़ोर से दबाना कि बटन यहां दबे और करंट दीदी को कोलकाता में लगे – अमित शाह

मरीज तड़पता रहा, भर्ती कराने गए परिजनों को डॉक्टर कैमरे के सामने ही पीटते रहे

अमृता सिंह के साथ अपने रिश्ते को लेकर करीना ने खोला बड़ा राज, कहा – मैं उनसे कभी नहीं………..

घर में सो रहा था शख्स, सिर काट कर साथ ले गया कातिल

घर आई टीचर को पहले जान से मारा फिर हाथ-पैर बांध किया सेक्स, पत्नी और बच्चों की भी…

AC की वजह से फैल सकता है कोरोना वायरस, Switch ON करने से पहले पढ़ें ये खबर

ऊपर