लगातार आ रही सूखी खांसी से हैं परेशान, चाय में मिला कर पिएं ये 4 चीजें

कोलकाता : सर्दियों में बहुत से लोगों को ड्राई कफ की समस्या परेशान करती है। सबसे ज्यादा लोग इस बात की शिकायत करते हैं कि उनका कफ इतना सूख गया है कि ये सीने में जम गया है और कंजेशन पैदा कर रहा है। कई बार ये समस्या खांसी में तुंरत एंटीबायोटिक दवा लेने की वजह से भी हो सकती है। तो, कई बार ये एलर्जी और इंफेक्शन की वजह से भी हो सकती है। ऐसी स्थिति में अगर आप चाय में कुछ चीजों को मिला कर इसका सेवन करें तो इस समस्या से बच सकते हैं।

1. चाय में मिलाएं शहद 

शहद  खांसी और सर्दी के लक्षणों को कम करने का एक प्राकृतिक तरीका है। यह आंतरिक सूजन को कम करके आपके गले की खराश में भी कुछ राहत प्रदान करता है। शहद बलगम को तोड़ता है और इसे बाहर निकालने में मदद करता है। शहद खांसी की गंभीरता और अवधि को कम करने में भी मदद करता है। तो, अपनी पसंदीदा हर्बल चाय में शहद की कुछ बूंदों को मिलाने से भी कफ को ढीला करने, दर्द को शांत करने और खांसी को दबाने में मदद मिल सकती है।

2. चाय में मिलाएं नींबू का रस

नींबू विटामिन सी और एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर होती है।  विटामिन सी आपकी इम्यून सिस्टम को मजबूत करती है और फ्लू के लक्षणों को कम करती है। इसके अलावा ये इंफेक्शन और एलर्जी को भी कम करने में मददगार है और जिससे सूखी खांसी की समस्या से राहत मिल सकती है।

3. मुलेठी

मुलेठी स्वाद का मीठा और थोड़ा कड़वा होती है। यह अपने एंटीवायरल और एंटी बैक्टीरियल गुणों  के कारण पारंपरिक रूप से सर्दी और खांसी की समस्या में इस्तेमाल होती है। ये बैक्टीरिया और वायरस के विकास को रोकती है और बलगम को तोड़ कर इसे बाहर निकालने में मदद करती है।

4. नमक

अगर आपको बहुत ज्यादा सूखी खांसी है तो चाय में नमक मिला कर लें। ये बड़ी तेजी से काम करता है और बलगम को बाहर निकालने में मदद करता है। ये फेफड़ों का ताप बढ़ाता है और बलगम को पिघलाता है। इससे तेजी से बलगम बाहर निकालने में मदद मिलती है।

 

शेयर करें

मुख्य समाचार

हावड़ा-पुरी के बीच दौड़ेगी 8 कोच की नई मिनी वंदे भारत ट्रेन

हावड़ा : भारतीय रेलवे 2 रूटों पर मिनी वंदे भारत एक्सप्रेस ट्रेन चलाने चल रही है। हावड़ा-न्यूजलपाईगुड़ी के बाद अब रेलवे मंत्रालय अगले महीने से आगे पढ़ें »

पुस्तक मेला के लिए साल्टलेक रूट में बढ़ायी जायेंगी बस सर्विसेज

सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : आगामी 30 जनवरी से साल्टलेक के सेंट्रल पार्क में पुस्तक मेला की शुरुआत होगी। ऐसे में साल्टलेक रूट में हर बार की आगे पढ़ें »

ऊपर