मोटापे को नियंत्रित करता है टमाटर

मोटापा तथा मधुमेह जैसे रोगों को भी काबू में रखने, अथवा इनसे छुटकारा पाने के लिए टमाटर खाने की सलाह दी जाती है। टमाटर किन रोगों के लिए दवा है, उसी को जान लीजिए
– यदि खूनी बवासीर से परेशान हैं तो एक प्याला टमाटर के रस में भुने हुए जीरे को मिलाकर दिन में दो तीन बार पीएं। जब तक जरूरत हो, दोहराएं।
– यदि शरीर में किसी भाग में खुजली रहती हो तो नारियल का तेल दो चम्मच लें। इस में टमाटर का रस एक चम्मच मिलाएं। खुजली वाले स्थान पर मलें। उस से आराम मिलने लगेगा।
– यदि किसी को मोटापा हो और वह इससे छुटकारा पाना चाहता हो तो अन्य उपायों के साथ एक यह उपाय भी करें। नियमित रूप से रोजाना कच्चे टमाटर को प्याज, नींबू और नमक के साथ खाएं। मोटापा घटता रहेगा।
– मानसिक या शारीरिक कमजोरी होने पर प्रात: नाश्ते से पहले एक गिलास टमाटर का रस थोड़ा शहद मिलाकर पीएं। लाभ होगा।
– एंपैडिसाइटिस की तकलीफ में प्रतिदिन दोनों समय भोजन से पहले 100 ग्राम लाल टमाटर को अदरक के टुकड़ों के साथ नमक डालकर खाएं।
इन रोगों तकलीफों में टमाटर का सेवन वर्जित है
1. गला खराब होने पर

2. खांसी रहती हो

3. पेशाब में रूकावट

4. पथरी होने पर

5. गुर्दे की तकलीफ

6. शरीर में सूजन। ऐसे में टमाटर खाने की मनाही है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

voter card

बंगाल में छठे चरण की वोटिंग जारी, सुबह 11 बजे तक 37.27 फीसदी मतदान

कोलकाता : कोरोना संकट के बीच पश्चिम बंगाल में आज छठे चरण के तहत चार जिलों की 43 विधानसभा सीटों पर वोटिंग जारी है। इस आगे पढ़ें »

मजा ले सकते हैं गर्मी का भी

भारत उष्ण देश होने के कारण अधिक समय तक हमें गर्म वातावरण में रहना पड़ता है। सेहत के लिये अच्छे माने वाले ठंडे दिन कम आगे पढ़ें »

ऊपर